सेंसेक्स, निफ्टी में 3 परसेंट गिरावट: साप्ताहिक सामीक्षा

By: | Last Updated: Saturday, 1 February 2014 5:57 AM

मुंबई: देश के शेयर बाजारों के प्रमुख सूचकांकों में पिछले हफ्ते करीब तीन परसेंट तक गिरावट दर्ज की गई. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले हफ्ते 2.93 परसेंट या 619.71 अंकों की गिरावट के साथ शुक्रवार को 20,513.85 पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 2.83 परसेंट या 177.25 अंकों की गिरावट के साथ 6,089.50 पर बंद हुआ.

 

पिछले हफ्ते सेंसेक्स के 30 में से सात शेयरों में तेजी रही. भेल (4.69 परसेंट), गेल (2.57 परसेंट), हिंदुस्तान यूनिलीवर (0.99 परसेंट), भारती एयरटेल (0.59 परसेंट) और महिंद्रा एंड महिंद्रा (0.59 परसेंट) में सर्वाधिक तेजी रही. गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे मारुति सुजुकी (7.74 परसेंट), एक्सिस बैंक (7.24 परसेंट), सेसा स्टरलाइट (7.03 परसेंट), एचडीएफसी बैंक (6.68 परसेंट) और आईसीआईसीआई बैंक (6.56 परसेंट).

 

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट दर्ज की गई. मिडकैप 2.28 परसेंट या 147.21 अंकों की गिरावट 6,308.05 पर और स्मॉलकैप 2.81 परसेंट या 181.11 अंकों की गिरावट के साथ 6,263.35 पर बंद हुआ.

 

पिछले हफ्ते के प्रमुख घटनाक्रमों में भारतीय रिजर्व बैंक ने मंगलवार 28 जनवरी को बाजार को आश्चर्यचकित करते हुए मुख्य नीतिगत दरों में 0.25 परसेंट वृद्धि कर दी. इसके अगले दिन अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने भी मासिक आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज को 10 अरब डॉलर और घटा दिया.

 

रिजर्व बैंक ने 2013-14 की मौद्रिक नीति की तीसरी तिमाही की समीक्षा में रेपो दर को 25 आधार अंक बढ़ाकर आठ परसेंट कर दिया. इसके साथ ही रिवर्स रेपो दर को भी 25 आधार अंक बढ़ाकर सात परसेंट कर दिया गया. बैंक ने सीमांत स्थायी सुविधा (एमएसएफ) को नौ परसेंट कर दिया. बैंक ने हालांकि नकद आरक्षित अनुपात को चार परसेंट पर बरकरार रखा.

 

वैश्विक बाजार में अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने बुधवार को 75 अरब डॉलर के मासिक प्रोत्साहन को 10 अरब डॉलर और घटाकर 65 अरब डॉलर कर दिया. इससे पहले इसे 85 अरब डॉलर से घटाकर 75 अरब डॉलर किया गया था. फेड ने यह भी कहा कि इसे धीरे धीरे घटाते हुए समाप्त कर दिया जाएगा.

 

फेड के प्रोत्साहन पैकेज से भारत सहित कई अन्य उभरते बाजारों में पूंजी का पर्याप्त प्रवाह बना हुआ था. अब इस प्रवाह के घटने की उम्मीद की जा सकती है.

 

विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने जनवरी में 30 तारीख तक की स्थिति के मुताबिक देश में 714.30 करोड़ रुपये का पोर्टफोलियो निवेश किया. एफआईआई ने दिसंबर 2013 में 16085.80 करोड़ रुपये का पोर्टफोलियो निवेश किया था. एफआईआई ने 2013 में देश में 1,13,135.70 करोड़ रुपये का पोर्टफोलियो निवेश किया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: सेंसेक्स, निफ्टी में 3 परसेंट गिरावट: साप्ताहिक सामीक्षा
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ?????? ???????? ????????? ????????
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017