सोना हुआ दुर्लभ, चांदी देकर विदा कर रहे बेटी

सोना हुआ दुर्लभ, चांदी देकर विदा कर रहे बेटी

By: | Updated: 14 Apr 2014 05:19 AM

रायपुर: छत्तीसगढ़ में विवाहों का दौर शुरू हो गया है. शादी-ब्याह में बेटी को सोने-चांदी के गहने देकर विदा करना हर माता-पिता का ख्वाब होता है, लेकिन पिछले दो सालों में महंगाई इतनी बढ़ गई है कि मध्यवर्गीय परिवारों का यह ख्वाब पूरा नहीं हो पा रहा है. वे बेटियों को चांदी देकर विदा कर रहे हैं.

 

सोने की बढ़ती कीमत से सिर्फ मध्यवर्गीय परिवार ही नहीं, कस्बाई इलाकों के छोटे सर्राफा कारोबारी भी परेशान हैं. शादियों के सीजन में सबसे ज्यादा कारोबार सोने का होता था, मगर इस बार सोने का कारोबार पुराने आंकड़ों को भी पार नहीं कर पाया है.

 

छत्तीसगढ़ के कस्बाई इलाके धमतरी और महासमुंद के व्यापारियों की मानें तो महंगाई के कारण गरीब वर्ग तो पहले से ही सोने से दूर है, अब मध्यवर्गीय भी सोना खरीदने से हिचकने लगे हैं.

 

पहले की अपेक्षा सोने का कारोबार 40 फीसदी भी नहीं रह गया है. अधिकांश तो अब चांदी से ही काम चला रहे हैं. ज्यादातर लोग अंगूठी भी चांदी की खरीद रहे हैं.

 

रायपुर के बुजुर्ग अनमोल राठी बताते हैं कि 20 साल पहले सोना 4,598 रुपये तोला, 10 साल पहले 5,850 रुपये तोला बिक रहा था, वही पीला धातु आज 29,200 रुपये तोला हो गया है. वर्ष 2013 में सोने के भाव में रिकार्ड तेजी आई और 35,100 रुपये तक पहुंच गया था.

 

गरीब और मध्यवर्गीय परिवारों को 10 ग्राम सोना लेने के लिए भी सोचना पड़ रहा है. भाव सुनकर ही कई लोग मायूस हो जाते हैं और खरीद नहीं पाते.

 

सराफा कारोबारी ऋषभ जैन बताते हैं कि 89 साल पहले 1925 में सोने का रेट महज 18 रुपये 75 पैसा था. साल 2006 तक सोने के भाव में सामान्य वृद्धि हुई, लेकिन वर्ष 2007 में भाव 10 हजार 800 रुपये हुआ. इसके बाद सोना में जो तेजी का दौर शुरू हुआ, वह आज भी जारी है.

 

जानकारों का कहना है कि सोना में तेजी निवेश बढ़ने से आई है. समृद्ध वर्ग के अधिकांश लोग अब सोने में निवेश करने लगे हैं. सर्राफा व्यवसायी हेमराज छाजेड़ का कहना है कि सोने के रेट में तेजी जरूर आई है, लेकिन खरीददारी ज्यादा प्रभावित नहीं हुई. यह अलग बात है कि खरीदारों में बड़ी संख्या उच्च वर्ग के लोगों की रहती है.

 

उन्होंने बताया कि वर्तमान में 10 ग्राम 24 कैरेट सोने का भाव 29,200 तथा 10 ग्राम 23 कैरेट सोने का भाव 28,200 है. 10 ग्राम चांदी 430 रुपये है. होली के बाद से सोने का भाव कम हुआ है, फिर भी फैंसी ज्वेलरी की डिमांड ज्यादा है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राज्य सभा चुनाव: बंगाल से जया बच्चन का नाम अभी फाइनल नहीं?