पाकिस्तानी हिंदुओं की नागरिकता के 10 हजार मामले लंबित-10 thousand cases of citizenship of Pakistani Hindus pending

पाकिस्तानी हिंदुओं की नागरिकता के 10 हजार मामले लंबित

उच्च न्यायालय ने आदेश के दो हफ्ते के भीतर एलटीवी आवेदन में तमाम कमियों को दूर करने और सुनवाई की अगली तारीख 19 जनवरी को एक रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया.

By: | Updated: 22 Dec 2017 08:12 AM
10 thousand cases of citizenship of Pakistani Hindus pending
जोधपुर: राजस्थान उच्च न्यायालय को राज्य सरकार की ओर से बताया गया कि दीर्घावधि वीजा (एलटीवी) की मांग कर रहे पाकिस्तान के हिंदू समुदाय के प्रवासियों के 10000 से ज्यादा आवेदन लंबित है. उच्च न्यायालय ने आदेश के दो हफ्ते के भीतर एलटीवी आवेदन में तमाम कमियों को दूर करने और सुनवाई की अगली तारीख 19 जनवरी को एक रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया.

अदालत ने 14 दिसंबर को राज्य सरकार से पाकिस्तानी हिंदू प्रवासियों के लंबित नागरिकता मामले पर एक रिपोर्ट दायर करने को कहा था. विदेशी क्षेत्रीय पंजीकरण कार्यालय (एफआरआरओ) को संबंधित वेब पोर्टल पर अधिसूचना अपलोड करने का भी निर्देश दिया गया था.

यह मामला तब सामने आया है जब देश और राज्यों में कथित राष्ट्रवादी सरकार होने का दावा किया जा रहा है. ऐसे में सवाल उठता है कि राजस्थान कि प्रदेश सरकार दस हजार पाकिस्तानी हिंदू प्रवासियाों को भारतीय नागरिकता देने में देरी क्यों कर रही है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: 10 thousand cases of citizenship of Pakistani Hindus pending
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मुजफ्फरनगर दंगा: बीजेपी नेताओं के खिलाफ मामलों को वापस लेने पर विचार कर रही है यूपी सरकार