मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

100 Cr Emergency Funds Spent On College? Mulayam Asked To Explain

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव और उनके भाई शिवपाल सिंह को आज सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई. मामला इटावा के हैबरा में यादव परिवार की तरफ से चलाए जाने वाले एक कॉलेज को सरकारी फंड से 100 करोड़ रूपये दिए जाने से जुड़ा है.

सुप्रीम कोर्ट में मामला 12 साल से लंबित है, लेकिन अब तक मुलायम या शिवपाल की तरफ से कोई जवाब दाखिल नहीं किया गया है. इससे नाराज़ चीफ जस्टिस टी एस ठाकुर ने टिप्पणी की, “कानूनी प्रक्रिया को इस तरह से हल्के में नहीं लिया जा सकता. कोई कितने भी ऊंचे पद पर बैठा हो, इस तरह की छूट नहीं ले सकता.”

चीफ जस्टिस ने मुलायम और शिवपाल पर 2-2 लाख रूपये का जुर्माना लगाने का भी आदेश दिया. लेकिन यूपी सरकार के वकील की दरख्वास्त पर इसे वापस ले लिया. कोर्ट ने कहा है कि दोनों को जवाब देने का आखिरी मौका दिया जा रहा है. मामले में अगली सुनवाई 21 अप्रैल को होगी.

दरअसल, मुलायम के गाँव सैफई के पास ही हैबरा नाम की जगह पर चौधरी चरण सिंह डिग्री कॉलेज है. इसे यादव परिवार ही चलाता है. 2004 में यूपी के मुख्यमंत्री रहते मुलायम सिंह यादव ने उस कॉलेज को सरकार के आकस्मिक फंड से 100 करोड़ रूपये दिए थे. मुलायम ने ऐसा अपने भाई और इस वक़्त लोक निर्माण मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव की सिफारिश पर किया था.

इसके खिलाफ मनेन्द्र नाथ राय नाम के शख्स ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया. सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार और कॉलेज चलाने वाले ट्रस्ट के साथ ही मुलायम और शिवपाल को भी नोटिस जारी किया था. लेकिन दोनों ने अब तक कोई जवाब दाखिल नहीं किया है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: 100 Cr Emergency Funds Spent On College? Mulayam Asked To Explain
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017