MP: बोर्ड रिजल्ट से निराश भाई-बहन सहित 12 स्टूडेंट्स ने की आत्महत्या

By: एजेंसी/एबीपी न्यूज़ | Last Updated: Saturday, 13 May 2017 8:28 PM
MP: बोर्ड रिजल्ट से निराश भाई-बहन सहित 12 स्टूडेंट्स ने की आत्महत्या

Symbolic Image

भोपाल: मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मण्डल का 10वीं और 12वीं क्लास का बोर्ड रिजल्ट कल घोषित किया गया. रिज्लट घोषित होने के कुछ ही घंटों के भीतर रिजल्ट से निराश सगे भाई-बहन सहित 12 विद्यार्थियों ने आत्महत्या कर ली है. मरने वाले विद्यार्थियों में 6 छात्राएं हैं. इनके अलावा, असफल रही ग्वालियर की एक अन्य लड़की ने भी कीटनाशक पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार परीक्षा परिणामों से निराश होकर प्रदेश भर में कल 12वीं के 8 विद्यार्थियों ने खुदकुशी की, जबकि 10वीं के 4 विद्यार्थियों ने अपनी जान दे दी.

प्रदेश के सतना जिले में सगे भाई-बहन सहित सबसे ज्यादा तीन विद्यार्थियों ने आत्महत्या की है. पुलिस प्रवक्ता एवं फॉरेन्सिक अधिकारी डॉ. जे.एस. यादव ने बताया कि सतना जिले में सगे भाई-बहन सहित तीन विद्यार्थियों ने परीक्षा में फेल होने पर आत्महत्या कर ली है.

यादव ने बताया कि कोलगवां थाना क्षेत्र के खमरिया पयसियान निवासी रामसुमन पाण्डेय की 18 वर्षीय बेटी रश्मि पाण्डेय ने 12वीं की परीक्षा में और 15 वर्षीय बेटे दीपेन्द्र ने 10वीं परीक्षा में फेल होने पर अपने ही कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी. इसी प्रकार सिंहपुर पुलिस थाना के पुरवा गांव में 12वीं की छात्रा रीना सिंह ने एक विषय में सप्लीमेन्ट्री आने पर फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

हबीबगंज पुलिस थाना प्रभारी रवीन्द्र यादव ने बताया, ‘‘भोपाल के एक्सीलेंस स्कूल के 10वीं के छात्र नमन कड़वे ने जहरीला इंजेक्शन लगाकर खुदकुशी की ली. कल दोपहर में अपना रिजल्ट देखने के बाद उसने यह कदम उठाया. वह 74.4 फीसदी अंक के साथ पास हुआ था, लेकिन उसे उम्मीद थी कि उसके 90 प्रतिशत से ज्यादा अंक आएंगे. कम अंक आने से निराश होकर उसने अपनी जान दे दी.’’ अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बी.के.एस. परिहार ने बताया कि छतरपुर जिले के हालीपुरा गांव की 12वीं के छात्र विकास रावत ने रिजल्ट आने से पहले ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उसकी सप्लिमेंटरी आई है.

जबलपुर स्थित मदन महल चौकी प्रभारी वाई एस मिश्रा ने बताया कि 12वीं में सप्लीमेंट्री आने पर खिन्नी मोहल्ला निवासी कंचन दुबे ने कल गुलौआ रेलवे फाटक पर चलती ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली है. उसकी भौतिक विषय में सप्लीमेंट्री आई थी. इंदौर से मिली जानकारी के अनुसार इंदौर के सदर बाजार थाना क्षेत्र में 10वीं के छात्र सुमित बागोरा ने परीक्षा परिणाम देखने के बाद फांसी लगा ली. वह फेल हो गया था.

इसी बीच, कोतवाली पुलिस थाना प्रभारी राजेश बंजारे ने बताया कि टीकमगढ़ के नरगुडा इलाके में 10वीं की छात्रा पिंकी प्रजापति  ने भी रिजल्ट आने के बाद फांसी लगा ली है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र वर्मा ने बताया कि भिंड शहर में भी 12वीं के छात्र तपिश मिहालिया  ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वह भी अच्छा रिजल्ट न आने के कारण परेशान था.

वहीं गुना जिले के मधुसूदनगढ़ में 12वीं फेल छात्रा लक्ष्मीबाई ढीमर ने कल शाम को जहर पी लिया, जिससे उसकी मौत हो गई. इसी बीच, बालाघाट से मिली खबर के अनुसार बालाघाट जिले के लालबर्रा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बेहरई निवासी देवेन्द्र ने 12वीं परीक्षा में दो विषय में फेल होने पर कीटनाशक पी लिया. उसे तुरंत उसके परिजन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाए, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई.

वहीं, एक अन्य घटना में ग्वालियर पुलिस कंट्रोल से मिली सूचना के अनुसार 12वीं की छात्रा प्रज्ञा कुशवाह ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है. वह फेल होने से परेशान थी. ठीक इसी तरह से 10वीं की छात्रा लाली बाजपेयी ने भी ग्वालियर के इंदरगंज पुलिस थाना इलाके में जहर पीकर आत्महत्या करने का प्रयास किया. उसे उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

First Published: Saturday, 13 May 2017 8:27 PM

Related Stories

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017