बिहार में भूकंप के कारण 25 की मौत

By: | Last Updated: Saturday, 25 April 2015 10:20 AM
2 dead, 17 injured in high intensity earthquake in Bihar

पटना: सबसे ज्यादा भारत में  प्रभावित इलाका बिहार में 25 लोगों की जान गई, सीएम नीतीश कुमार ने कहा अब तक जो जानकारी मिली है उसके बिहार में मुताबिक 25 लोगों की मौत हो चुकी है. सीतामढ़ी में 6, मोतिहारी में 6, चम्पारण 5 सहित कुल 25 लोगों की बिहार में मौत. 

 

 

अनिरूद्ध ने बताया कि प्रदेश के पश्चिम चंपारण, शेखपुरा, किशनगंज, पूर्वी चंपारण, शिवहर, नालंदा, दरभंगा, मुंगेर सहित अन्य जिलों में भूकंप के कारण दीवार गिरने, दहशत में छत से कूदने, जान बचाकर भागने के क्रम में गिरने सहित अन्य हादसों में 48 लोग घायल हो गए हैं.

 

दिल्ली में मौजूद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह और पुलिस महानिदेशक पी के ठाकुर से फोन पर स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए.

 

पी के ठाकुर ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के मुताबिक प्रदेश के सभी जिलों के थाना स्तर के अधिकारियों को वायरलेस पर निर्देशित किया गया है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में निकलें और भूकंप के कारण हुई क्षति के बारे में पता लगाएं.

 

बिहार में आए भूकंप को लेकर नीतीश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत की और वे बीच में अपनी यात्रा स्थगित कर दिल्ली से पटना वापस लौट रहे हैं. पिता की पुण्यतिथि लेकर खगडिया गए केंद्रीय खाद्य एवं जनवितरण मंत्री रामविलास पासवान ने फोन पर पीटीआई-भाषा को बताया कि प्रधानमंत्री ने उन्हें फोनकर बिहार के हालात के बारे में उनसे जानकारी मांगी है.

 

मौसम विभाग के निदेशक एके सेन ने बताया कि अगले 48 घंटे के दौरान दरभंगा, अररिया, किशनगंज सहित नेपाल से सटे प्रदेश के अन्य इलाकों में भूकंप के और भी झटके महसूस होने की संभावना है जिसके बारे में राज्य सरकार को अलर्ट कर दिया गया है.

 

आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष सचिव अनिरूद्ध कुमार ने बताया कि आगे भी भूकंप के झटके आने की संभावना के मद्देनजर प्रदेश वासियों से अपील की गयी है कि ऐसे झटके आने पर वे घरों से बाहर आ जाएं. ऐसी स्थिति में घर से बाहर आ जाना सर्वोत्तम उपाय है क्योंकि भूकंप के कारण मकानों के गिरने से नुकसान होता है.

 

उन्होंने कहा कि प्रदेश के वैसे जिले जहां भूकंप के कारण अधिक क्षति की आशंका है वहां इससे संबंधित जानकारी मिलने पर राहत और बचाव कार्य चलाने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें पटना से रवाना की जा रही हैं.

 

अनिरूद्ध ने बताया कि एनडीआरएफ की पांच टीमें मुजफ्फरपुर, दरभंगा, सुपौल एवं गोपालगंज के लिए रवाना कर दी गयी हैं जबकि नेपाल की सीमा से सटे जिलों के लिए पूर्णिया, खगडिया, सीतामढी और मधुबनी में एसडीआरएफ की टीमें भेजी गयी हैं. दक्षिण बिहार में गया जिला के लिए भी एसडीआरएफ की एक टीम भेजी गयी है.

 

पटना सहित प्रदेश के अन्य भागों में भूकंप के बार-बार झटके महसूस होने पर लोग अपने घरों, दुकानों और अन्य प्रतिष्ठानों से बाहर सड़कों पर निकल आए और कई स्थानों पर लोग दहशत में भागने के क्रम में गिरकर घायल भी हो गए. आगे भी भूकंप के झटके आने के पूर्वानुमान के मद्देनजर पटना शहर में लोग अपने परिवार के सदस्यों के साथ सुरक्षा के दृष्टिकोण से गांधी मैदान, विभिन्न पार्को और खुले स्थानों और अन्य मैदानों में शरण लिए हुए हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: 2 dead, 17 injured in high intensity earthquake in Bihar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bihar Earthquake
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017