देशभक्ति, सुराज, महिला सशक्तिकरण विषयों पर सीबीएसई की अभिव्यक्ति श्रृंखला

By: | Last Updated: Sunday, 19 July 2015 5:58 AM

नई दिल्ली: बच्चों की रचनात्मक लेखन क्षमता को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने संबद्ध स्कूलों की सभी कक्षाओं के बच्चों के लिए ‘अभिव्यक्ति श्रृंखला’ का आयोजन किया जिसमें तहत कुल 20,113 छात्रों ने हिस्सा लिया और देशभक्ति, सुराज, दृढ़ इच्छा शक्ति, रक्षा बलों में महिलाएं तथा महिला सशक्तिकरण के अन्य विषयों पर प्रस्तुती दी.

 

सीबीएसई की एक अधिकारी ने कहा कि हर महीने आयोजित होने वाली ‘अभिव्यक्ति श्रृंखला’ के तहत 10.11 जुलाई को इसका आयोजन किया गया.

 

अभिव्यक्ति श्रृंखला में हिस्सा लेने के लिए छात्रों को तीन कक्षा वर्गो में बांटा गया है. इसमें पहले वर्ग में पहली से पांचवी कक्षा के छात्र, दूसरे वर्ग में छठी से आठवीं कक्षा और तीसरे वर्ग में नौवीं से 12वीं कक्षा के छात्र आयेंगे.

 

पहली से पांचवी कक्षा के छात्रों के लिए ‘मेरे देश के लिए मेरी सबसे बड़ी इच्छा’ विषय का चयन किया गया जबकि छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों को ‘मेरे लिये सुराज का मतलब, मेरी मातृभूमि के लिए मेरी सबसे बड़ी सेवा, ऐसी घटना जिसने मुझे कभी हार नहीं मानने को प्रेरित किया’ जैसे विषयों पर विचार व्यक्त करने को कहा गया तथा नौवीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को रक्षा बलों में महिलाएं, जिस महिला वैज्ञानिक का मैं सबसे अधिक सम्मान करता हूूं, महिलाएं जिन्होंने भारतीय इतिहास की तस्वीर बदली जैसे विषयों पर अपनी बात रखने को कहा गया.

 

अधिकारी ने बताया कि अभिव्यक्ति श्रृंखला के तहत छात्रों ने काफी अच्छी रूचि दिखायी . सीबीएसई की वेबसाइट पर जारी लिंक के जरिये 13989 छात्रों ने अपनी बात रखी. मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये 6124 छात्रों के विचार प्राप्त हुए. कुल 20,113 छात्रों के विचार प्राप्त हुए.

 

सीबीएसईसी ने देश के महान विभूतियों के योगदान के साथ महिलाओं से जुड़े मुद्दे, ग्रामीण एवं शहरी समाज, देश के महत्वपूर्ण मुद्दों पर छात्रों से अपने विचार को विभिन्न रूपों में व्यक्त करने को कहा है. सीबीएसई की अभिव्यक्ति श्रृंखला 2015.16 जुलाई से शुरू हुई है और हर महीने के दूसरे शुक्रवार और शनिवार को इसका आयोजन किया जायेगा. अभिव्यक्ति श्रृंखला के तहत विषय हर महीने के बुधवार को वेबसाइट www.cbseacademic.in पर अपलोड किये जायेंगे.

 

इसके तहत छात्र दिये गए विषयों पर निबंध, कविताओं आदि के रूप में अपनी बात रख सकते हैं. इसे आनलाइन, आफलाइन और मोबाइल एप्प के जरिये भी जमा किया जा सकता है.

 

अधिकारी ने कहा कि छात्र स्कूलों के साथ अपने घर से भी इसे जमा कर सकते हैं. छात्र संविधान की आठवी अनुसूची में दर्ज 22 भाषाओं और अंग्रेजी में अपने विचार व्यक्त कर सकते हैं.

 

उन्होंने कहा कि चयन प्रक्रिया में मूल कृति और रचनात्मकता मुख्य आधार होगा. मूल कृति के सत्यापन के लिए छात्रों से उनके फोन नंबर पर चर्चा की जा सकती है.

 

अभिव्यक्ति श्रृंखला के विजेताओं को 2500 रूपये नकद और मेधा प्रमाणपत्र प्रदान किये जायेंगे. इसमें श्रेष्ठ चुनी गई कृतियों को पुस्तक या ई पुस्तक के रूप में संकलित किया जायेगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: 20,113 entries for CBSE’s creative expression series
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017