'2012 में सेना के दिल्ली की ओर मूवमेंट से खबर से घबरा गई थी सरकार'

By: | Last Updated: Friday, 21 February 2014 5:14 AM

नई दिल्ली: करीब दो साल पहले इंडियन एक्सप्रेस में खबर छपी थी कि जनवरी 2012 में सेना की दो टुक़ड़ी दिल्ली की ओर बढ़ रही है. अब यह मामला फिर तूल तूल पकड़ रहा है. दो साल बाद पूर्व डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल ए.के. चौधरी ने इसे लेकर चौंकाने वाला बयान दिया है. चौधरी ने कहा है कि कुछ तो ऐसा होने वाला था.

 

तब जनरल वीके सिंह का सरकार के साथ जोरदार झगड़ा चल रहा था. उस समय सेना और सरकार ने खबर खारिज कर दी थी. अब रिटायर्ड़ लेफ्टिनेंट जनरल ए.के. चौधरी ने खुलासा किया है कि कुछ तो ऐसा होने वाला था. ये खबर भी इंडियन एक्सप्रेस में छपी है. यूपीए सरकार के शीर्ष नेतृत्व में इसको लेकर हड़कंप मचा था. ए.के. चौधरी तीन हफ्ते पहले बंगाल एरिया कमांडर के पद से रिटायर हुए हैं.

 

उस समय चौधरी डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशंस थे. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एके चौधरी ने इस बात की पुष्टि की है कि 16 जनवरी 2012 की देर रात हिसार से सेना की एक टुकड़ी के दिल्ली की ओर रवाना हुई थी. पाराट्रूपर्स के आगरा से डिटैच होने की घटना हुई थी. चौधरी ने कहा है कि उस समय रक्षा सचिव शशिकांत शर्मा ने उन्हें आधी रात को बुलाया था और बताया था कि शीर्ष नेतृत्व चिंतित है.