जानें- ट्रेन की ऑनलाइन तत्काल टिकट बुकिंग में क्या हुएं हैं बदलाव

By: | Last Updated: Wednesday, 20 January 2016 2:48 PM
35 second compulsory wait to book tickets on IRCTC website

ऩई दिल्ली: अब ऑनलाइन रेलवे टिकट बुक करने के लिए लोगों को 35 सैकंड की अनिवार्य प्रतीक्षा करनी होगी. भारतीय रेलवे ने वास्तविक टिकट चाहने वालों के लिए अपनी वेबसाइट से बिना मुश्किल के ऑनलाइन टिकट उपलब्ध कराने के लिए कई कदम उठाए हैं. इसमें 35 सैकंड की अनिवार्य प्रतीक्षा भी शामिल है.

दरअसल फार्म भरने और उसके बाद बैंक भुगतान में न्यूनतम 35 सैकंड का समय लगता है, लेकिन कई ऐसे मामले आए हैं जिसमें कुछ दलालों द्वारा कुछ स्वचालित सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके तेजी से टिकट बुकिंग कर ली जाती है. इसके कारण जरूरतमंद यात्री टिकट से वंचित रह जाते थे.

सेंटर फार इन्फॉर्मेशन सिस्टम (सीआरआईएस) के प्रबंध निदेशक संजय दास ने 35 सैकंड की प्रतीक्षा क्यूं के सवाल पर कहा कि ऑनलाइन टिकट बुक करने के लिए यह न्यूनतम समय लगता है. हम इसे और लंबा नहीं कर सकते क्योंकि तब लंबी लाइन होगी जिसका कोई लाभ नहीं होगा.

बुकिंग सर्विस को रोकने के लिए साइट को हैक करने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर दास ने कहा कि अनधिकृत घुसपैठ या साइट की हैकिंग रोकने के लिए पूरे इंतजाम किए गए हैं.

आपको बता दें कि आईआरसीटीसी को सीआरआईएस साफ्टवेयर मुहैया कराती है.

आईआरसीटीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक एके मनोचा ने कहा ”अब 35 सैकंड की अनिवार्य प्रतीक्षा से पहले ऑनलाइन टिकट बुक करना संभव नहीं होगा. हमने टिकटिंग साइट से हेर-फेर रोकने के लिए कुछ सुरक्षा उपाय किए हैं.” उन्होंने कहा कि इसके साथ ही पर्याप्त निवेश से साइट को अपग्रेड किया गया ताकि प्रति मिनट 15 हजार टिकट बुक किए जा सकें.

आईआरसीटीसी ने सिस्टम को मजबूत करने के लिए पिछले पांच वर्षो में करीब 180 करोड़ रूपए खर्च किए हैं. असली यात्रियों की सुविधा के लिए तत्काल बुकिंग के समय को बांटा गया था. इसके तहत एसी टिकट बुकिंग के लिए सुबह 10 बजे से 11 बजे का समय और स्लीपर के टिकट बुक करने के लिए सुबह 11 से दोपहर 12 बजे तक का समय निर्धारित किया गया था. रेलवे द्वारा बुक किए जाने वाले कुल टिकटों में ऑनलाइन टिकट बुकिंग बढ़कर 58 फीसदी हो गई है.

भारतीय रेल ने अपने ऑनलाइन टिकट बुकिंग सिस्टम को बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं. इसके बाद रेलवे का दावा है कि नए सिस्टम से टिकटों की कालाबाजारी पर लगाम लगेगी. साथ ही आम लोगों को आसानी से टिकट मिल सकेगा और टिकट खरीदने के लिए दलालों का सहारा नहीं लेना पड़ेगा. रेलवे की ऑनलाइन टिकट मुहैया कराने वाली कंपनी आईआरसीटीसी के मुताबिक अब पहले की तुलना में प्रति एक मिनट में 15000 टिकट बुक कराए जा सकेंगे पहले एक मिनट में महज 7200 टिकट ही बुक होते थे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: 35 second compulsory wait to book tickets on IRCTC website
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017