जंगल और जानवरों की सुरक्षा करेंगे ड्रोन

By: | Last Updated: Wednesday, 6 August 2014 6:38 AM
_Drones _are _to _protect _forest _animals

फ़ाइल

कोलकाता: देश के जंगलों में जानवरों के शिकार पर निगरानी रखने, वन्यजीवन की जानकारी रखने और बाघों की गिनती करने के लिए जल्द ही ड्रोन इन जंगलों के उपर उड़ते नजर आएंगे. भारतीय वन्यजीव संस्थान (डब्ल्यूआईआई) के वैज्ञानिक मानवरहित ऐसे विमानों की श्रृंखला लेकर आ रहे हैं, जिन्हें विविधता भरे जंगलों के अनुरूप स्वदेशी तौर पर बनाया जा रहा है.

 

डब्ल्यूआईआई के वैज्ञानिक और इस परियोजना के प्रभारी के. रमेश कहा, ‘‘इसके साथ हम वन्यजीव निगरानी के लिए दूसरी पीढ़ी की तकनीक पर आ जाएंगे. इनकी लागत कम होगी और इनकी पहुंच ऐसे इलाकों तक होगी, जहां इंसान का पहुंचना मुश्किल है.’’

 

राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण और अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण संस्था के साथ संयुक्त कार्य के तहत देशभर में वन्यजीवन से समृद्ध दस इलाकों में ड्रोन के जरिए निगरानी रखने की एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार की जा रही है.

 

इन ड्रोनों का मुख्य उद्देश्य वन्यजीवों के आवागमन की जानकारी रखना और शिकार की निगरानी करना होगा. रमेश ने कहा, ‘‘इनका इस्तेमाल बाघ जैसे जानवरों की गणना करने में भी किया जा सकता है.’’

 

उन्होंने यह भी कहा कि कई इलाकों में ‘कैमरा ट्रैप’ तरीके से बाघों की गणना प्रभावी साबित नहीं हुई है. वन्यजीव व्यापार निगरानी तंत्र के प्रमुख शेखर कुमार नीरज ने कहा कि वन सुरक्षाकर्मियों के लिए यह एक उपयोगी और हाईटेक उपकरण होगा.

 

एक ड्रोन को स्वचालित मोड पर रखकर जंगल के भीतर 40-50 किलोमीटर की गहराई तक भेजा जा सकता है, जहां से वह तस्वीरें और वीडियो रिकॉर्ड कर सकता है और उन्हें तत्काल भेज सकता है.

 

इस ड्रोन की गति को भी जीपीएस-आधारित तंत्र से नियंत्रित किया जा सकता है. इन ड्रोनों का हाल ही में पन्ना बाघ अभयारण्य और काजीरंगा वन में सफल परीक्षण किया गया था. चालीस किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाले ड्रोनों का इस्तेमाल 40-50 मिनट तक किया जा सकता है.

 

वैज्ञानिक ने कहा कि उन्हें वापस बेस स्टेशन पर लाकर दोबारा चार्ज किया जा सकता है और फिर एक दिन में कई बार वापस भेजा जा सकता है. ‘‘हम ड्रोन के एक नए मॉडल पर भी काम कर रहे हैं, जो 100 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चल सकता है.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘ये सस्ते हैं. हर ड्रोन की कीमत सिर्फ 3 से 6 लाख रूपए है और इन पर बार-बार कोई खर्च भी नहीं होता. बैटरियां आसानी से चार्ज हो जाती हैं.’’ उन्होंने देश में ऐसे दस स्थान चिह्नित किए हैं, जहां वर्ष 2015 से ड्रोन निगरानी परियोजना लागू की जाएगी. इन स्थानों में हिमालय के उंचे इलाके, हिमालय के तल, मध्य भारत, सुंदरबनों के तटीय क्षेत्र और अंडमान द्वीप शामिल हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: _Drones _are _to _protect _forest _animals
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ?? ????? ???????
First Published:

Related Stories

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर ने फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा
यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा

बहराइच: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस बीच बहराइच में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017