बिहार में लालू ने बिगाड़ा सबका खेल, बीजेपी जेडीयू की परेशानी बढ़ी: एबीपी न्यूज़ सर्वे

बिहार में लालू ने बिगाड़ा सबका खेल, बीजेपी जेडीयू की परेशानी बढ़ी: एबीपी न्यूज़ सर्वे

By: | Updated: 28 Mar 2014 02:20 PM
नई दिल्ली:  जैसे-जैसे चुनाव के दिन नज़दीक आते जा रहे हैं बिहार की चुनावी जंग सबसे ज़्यादा दिलचस्प होती जा रही है.

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन के ताज़ा सर्वे के मुताबिक बिहार में कांग्रेस और आरजेडी का गठबंधन सत्ताधारी जेडीयू और बीजेपी गठबंधन की नींद उड़ाने वाला साबित होता दिख रहा है.

 

ताज़ा सर्वे के मुताबिक आरजेडी को 10, कांग्रेस को दो, बीजेपी को 19, एलजेपी को दो, सत्ताधारी जेडीयू को 6 सीटें मिलने का अनुमान है. यानी कांग्रेस से गठबंधन करते ही आरजेडी की सीटें दोगुनी होती दिख रही हैं. फरवरी और जनवरी के सर्वे में आरजेडी को पांच सीटें मिल रही थीं.

 

लेकिन बीजेपी का एलजेपी से गठबंधन करना कोई फायदा नहीं पहुंचाता दिख रहा है. जनवरी में जहां बीजेपी को 24 और फरवरी में 21 सीटें मिल रही थीं वहीं मार्च में घटकर उसे 19 सीटें मिल रही हैं. लेकिन एलजेपी को एक सीट का फायदा होता दिख रहा है. एलजेपी को दो सीटें मिल सकती है.

 

वोट शेयर

 

दिलचस्प बात यह है कि सीटों के नतीजे आरजेडी के पक्ष में हैं, लेकिन बीते दो महीने में उसके वोट फीसदी में कोई बदलाव नहीं आया है. आरजेडी को 17 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं.



बीजेपी के वोट शेयर में लगातार गिरावट देखी जा रही है. बीते दो महीने में बीजेपी को दो फीसदी वोट का नुसकान हो सकता है.

जेडीयू को फरवरी के मुकाबले मार्च में एक फीसदी वोट का फायद दिख रहा है.

 

बीजेपी से गठबंधन के बावजूद एलजेपी के वोट शेयर में इज़ाफा के बजाय एक फीसदी की कमी होती दिख रही है. एलजेपी को पांच फीसदी वोट मिल सकते हैं.

 

कांग्रेस को फरवरी के मुकाबले मार्च में एक फीसदी वोट शेयर के इजाफे का अनुमान है.

 

जानें सर्वे के बारे में

 

आपको बता दें कि 9 से 16 मार्च के बीच किया गया है ये सर्वे. जनवरी में किए गए ओपिनियन पोल में हमने बिहार की 40 में से 20 सीटों का सर्वे किया. फरवरी में हमने फिर से 40 में से 10 सीटों पर सर्वे किया और मार्च में फिर 10 सीटों का सर्वे किया है.

आज का ओपिनियन पोल फरवरी और मार्च की 20 सीटों के सर्वे के आधार पर है.

 

एबीपी न्यूज और नीलसन ने यही प्रक्रिया महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में भी अपनाई है. 

जनवरी में हमने महाराष्ट्र की 48 में से 24 सीटों का सर्वे दिखाया. फरवरी में 12 और अब मार्च में फिर 12 सीटों का सर्वे है.

 

इसी तरह पश्चिम बंगाल की 42 में से 20 सीट का सर्वे हमने जनवरी में दिखाया. जबकि फरवरी में 11 सीट और मार्च में भी 11 सीट का सर्वे किया.  सर्वे की यही प्रक्रिया 18 राज्यों में सर्वे के दौरान अपनाई गई है.

 

नीलसन का ये पोल अंतर्राष्ट्रीय संस्था यूरोपियन सोसाइटी फॉर ओपिनियन एंड मार्केटिंग रिसर्च यानी ESOMAR के दिशानिर्देशों को पूरी तरह ध्यान में रखकर किया गया है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story आज दुबई से मुंबई पहुंचेगा श्रीदेवी का पार्थिव शरीर, परसों रात हृदय गति रुकने से हुआ था निधन