आम आदमी पार्टी के सांसद हुए बागी

By: | Last Updated: Tuesday, 7 July 2015 2:14 PM
Aam Aadmi Party_

फोटो क्रेडिट- फेसबुक

नई दिल्ली: क्या पंजाब में आम आदमी पार्टी के सासंद अपनी ही पार्टी से बगावत की तैयारी में हैं?  ये सवाल उठा है पार्टी के सांसद के एक ई मेल से.  सूत्रों के जरिए पार्टी का इंटरनल मेल ABP न्यूज के हाथ लगा है.

 

फतेहगढ़ से आप सासंद हरिंदर सिंह खालसा ने ई मेल में पार्टी के पंजाब प्रभारी संजय सिंह और संयोजक सुच्चा सिंह पर काफी तल्ख टिप्पणी करते हुए बगावत की धमकी दे रहे हैं. दोनों पर पार्टी को बर्बाद करने के आरोप लगाने के साथ ही खालसा ने लिखा है कि वो पंजाब के लोगों को बेवकूफ नहीं बनाने देंगे.

 

यह मेल 6 जुलाई को पार्टी की राज्य अनुशासन समिति के अध्यक्ष डा. दलजीत सिंह को भेजा गया था. दरअसल पंजाब में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर पार्टी इन दिनों संगठन विस्तार में लगी है.

 

सूत्रों के मुताबिक पंजाब में पार्टी के चार में से कम से कम तीन सासंद इस बात से नाराज हैं कि मिशन पंजाब के फैसलों में उनकी राय नहीं ली जाती. गौर करने वाली बात ये भी है कि केजरीवाल अपनी राजनीति चमकाने के लिए लोगों की रायशुमारी की बात करते रहे हैं. दिल्ली को पूर्ण राज्य के दर्जे के मुद्दे पर उनकी सरकार दिल्ली में रेफरेंडम यानी रायशुमारी करवाने की तैयारी में है.  लेकिन उन पर आरोप लगते रहे हैं कि वो पार्टी के अंदर किसी ‘दूसरी राय’ की परवाह नहीं करते.

 

खालसा के अलावा एक अन्य सासंद ने ABP न्यूज से कहा है कि वो लोग अगले कदम पर विचार विमर्श कर रहे हैं और आने वाले दिनों में कोई ‘बड़ी खबर’ आ सकती है. पार्टी वरिष्ठ नेता और पंजाब के प्रभारी संजय सिंह ने पिछले दिनों पंजाब के 13 संसदीय क्षेत्रों के प्रभारियों का एलान किया. उससे पहले दिल्ली से गई दुर्गेश पाठक की टीम ने पंजाब के सभी विधानसभा क्षेत्रों का सर्वे किया था.

 

पिछले लोकसभा चुनाव में आप ने पंजाब में चार सीटें जीती थीं. और तभी से यह मान लिया गया कि अगले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी बड़ा उलटफेर करने में सक्षम है. लेकिन, फिलहाल पार्टी के अंदर ही उथल पुथल मची हुई है.

 

पार्टी के चारों सांसद पंजाब से हैं. संगरूर से भगवंत मान, पटियाला से डा. धर्मवीर गांधी, फरीदकोट से प्रो.  साधु सिंह और फतेहगढ़ से हरिंदर सिंह खालसा. पहले धर्मवीर गांधी लोकसभा में पार्टी के नेता थे लेकिन योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण का समर्थन करने के कारण उन्हें हटा कर भगवंत मान को पार्टी का नेता बना दिया गया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Aam Aadmi Party_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017