असर : ड्राइविंग में लापरवाही पर लाइसेंस होगा रद्द और एक लाख रुपये जुर्माना!

By: | Last Updated: Saturday, 18 October 2014 2:33 PM
aamir khan

नई दिल्ली : सत्यमेव जयते में आमिर खान ने सड़क सुरक्षा का मुद्दा उठाया था और अपील की थी सख्त और धारदार कानून की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार जल्द ही सड़क सुरक्षा पर नया कानून लाने जा रही है.

 

दिल को दहला देने वाली एक्सीडेंट की तस्वीरें आमिर खान ने अपने शो सत्यमेव जयते में दिखाई थीं. आमिर ने रविवार को सड़क पर सुरक्षा पर बात की थी. अपील की थी एक सख्त सड़क सुरक्षा कानून की.

 

आमिर की इस मुहिम का असर जल्द दिखने वाला है क्योंकि मोदी सरकार संसद के अगले सत्र में सड़क सुरक्षा पर नया कानून लाने वाली है . कानून के लिए ड्राफ्ट बन चुका है – इसके मुताबिक तीन बार ट्रैफिक सिग्नल तोड़ा तो 15 हजार रुपए जुर्माने के अलावा एक महीने तक लाइसेंस रद्द.

 

ड्राइविंग में लापरवाही पर लाइसेंस रद्द होगा और एक लाख रुपये जुर्माना. शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 25 हजार रुपए जुर्माने से लेकर तीन महीने की सजा का प्रावधान.

स्कूल बस का ड्राइवर नशे में मिला तो पचास हजार रुपये जुर्माना और तीन साल की सजा.

 

सड़क हादसे में बच्चे की मौत पर तीन लाख रुपए के जुर्माने के साथ 7 साल की सजा का प्रावधान. दुपहिया वाहनों की ओवरलोडिंग पर 10 हजार रुपये का जुर्माना . भारी वाहनों की ओवरलोडिंग पर 50 हजार रुपये का जुर्माना.

 

ओवरलोड वाहन नहीं रोकने पर टोल कंपनी और इलाके के पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई . डिफेक्टिव गाड़ी बेचने पर कंपनी पर कार्रवाई होगी. 100 से ज्यादा डिफेक्टिव गाड़ी की शिकायत पर उसे रिकॉल करना होगा.

 

गाड़ी में मैन्युफैक्चरिंग डिफेक्ट की वजह से सड़क हादसों में कंपनी पर 5 लाख रुपये तक जुर्माना और 3 महीने की सजा का प्रावधान. अभी देश में सड़क हादसों में हर साल करीब पांच लाख सड़क हादसे होते हैं जिनमें करीब एक लाख चालीस हजार लोगों की मौत हो जाती है. यानी रोज करीब 380 लोगों की जान चली जाती है. सरकार का दावा है कि नए मोटर कानून से अगले पांच साल में 2 लाख जिंदगियां सड़क हादसों से बचाई जा सकेंगी. उम्मीद यही है कि ये कानून ना सिर्फ सख्त होगा बल्कि इस कड़ाई से लागू भी करवाया जाएगा.

 

बच्चों से खिलवाड़ क्यों ?

जुलाई 2014

आंध्र प्रदेश के मेढक में स्कूल बस ट्रेन से टकराई – 25 बच्चों की मौत

 

मई 2014

ग्रेटर नोएडा में स्कूल बस डिवाइडर से टकराई – एक बच्चे का हाथ कटा, छह बच्चे जख्मी

 

जनवरी 2014

महाराष्ट्र के मलकापुर में बस की ट्रक से टक्कर – 3 बच्चों की मौत

 

जुलाई 2013

राजस्थान के हनुमानगढ़ में स्कूल बस की ट्रक से  टक्कर – 12 बच्चों की मौत

 

मार्च 2013

पंजाब के जालंधर में स्कूल बस और ट्रक की टक्कर – 11 बच्चों की मौत

 

अप्रैल 2013

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में स्कूल बस खाई में गिरी, सात बच्चों की मौत

 

जनवरी 2013

यूपी के मुरादाबाद में स्कूली बच्चों की वैन को रोडवेज की बस ने टक्कर मारी – चार बच्चों की मौत

 

कहीं बस ओवरस्पीड थी. कहीं ड्राइवर को नींद आ गई. कहीं बस खटारा थी. ऐसे में हादसा तो होना ही था.

 

नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के मुताबिक देश में हर दिन सड़क हादसे में 14 साल से कम उम्र के 20 बच्चों की मौत हो जाती है

 

इस आंकड़े के बाबजूद सबक कोई नहीं ले रहा. देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने साफ साफ निर्देश दिए हुए हैं.

 

स्कूल बसों का रंग पीला होना चाहिए. स्कूल बस में फर्स्ट एड बॉक्स होना चाहिए. बस पर स्कूल का नाम और फोन नंबर लिखा हो . स्कूल बसों में सीटों पर सेफ्टी बेल्ट लगी हो. आग से बचाव वाले सुरक्षा उपकरण बस में हों. खिड़कियों के बाहर लोहे की ग्रिल होनी चाहिए. बसों के दरवाजों में लॉक सिस्टम होना चाहिए. ड्राइवर ड्रेस में हो और उसके पास लाइसेंस हो. स्कूल बस में टीचर भी होना चाहिए.

 

लेकिन सच ये है कि इन दिशा निर्देशों का पालन करने वाले स्कूलों की संख्या बेहद कम है. सड़क पर हादसों को न्योता देने वाली हजारों स्कूल बसें रोज दौड़ रही हैं. मासूमों की जान से खिलवाड़ में शामिल हम भी हैं क्योंकि हम आवाज नहीं उठाते.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: aamir khan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Aamir Khan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017