दिल्ली: विज्ञापन से पटे हैं आज के अखबार, AAP-BJP में छिड़ी जंग

By: | Last Updated: Friday, 6 February 2015 8:07 AM
AAP slams BJP for front page ads listing achievements

नई दिल्ली: दिल्ली में वोटिंग पहले बीजेपी का आखिरी दांव चला है. आज दिल्ली के अखबारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपलब्धियां गिनाने वाले विज्ञापन छपे हैं. इस विज्ञापन में दिल्ली को वर्ल्ड क्लास बनाने का वादा किया गया है. विज्ञापन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हवाले से लिखा है, ‘मेरा वादा वर्ल्ड क्लास दिल्ली जिस पर आपको गर्व हो.’ विज्ञापन में जन-धन योजना,मेक इन इंडिया और स्वच्छ भारत का भी जिक्र किया गया है.

 

इस विज्ञापन पर आम आदमी पार्टी ने सवाल उठा दिया है. आप नेता आशुतोष ने कहा, ‘आज दिल्लीवासियों ने देखा है कि भाजपा ने पहले पन्ने पर विज्ञापन दिया है. मेरी राय में यह स्पष्ट तौर पर निर्वाचन आयोग के निर्देशों और आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है.

 

उन्होंने कहा, ‘मेरा सवाल यह है कि यदि प्रचार प्रक्रिया समाप्त होने के बाद टेलीविजन पर इस प्रकार के विज्ञापनों की अनुमति नहीं है तो उन्हें समाचारपत्रों में क्यों अनुमति दी गयी. कानून बदलना चाहिए. यदि बड़े समाचारपत्र इस प्रकार के विज्ञापन जारी करते हैं तो निश्चित रूप से लोगों के दिमाग पर इसका असर पड़ेगा.’ आशुतोष ने ट्विटर पर यह मुद्दा उठाते हुए सवाल किया कि ऐसे विज्ञापनों के लिए भाजपा के पास धन कहां से आया.

 

आशुतोष ने ट्वीट करके पूछा है कि विज्ञापनों के लिए इतने पैसे कहां से आते हैं. आशुतोष ने ट्वीट किया, ‘दिल्ली के हर अखबार में पहले पेज पर बीजेपी का विज्ञापन है. इसके लिए पैसे कहां से आए? ‘आप’ पैसे की ताकत के खिलाफ लड़ रही है.’

 

आशुतोष ने आगे लिखा, ‘चुनाव प्रचार बंद होने के बाद ऐसे विज्ञापन आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हैं. इससे यह भी पता चलता है कि बीजेपी के पास कितना पैसा है. चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद टीवी पर ऐसे विज्ञापन नहीं किए जा सकते तो न्यूज पेपर में क्यों? नियम बदलना चाहिए.’

 

अरविंद केजरीवाल ने भी इस विज्ञापन पर प्रतिक्रिया वयक्त करते हुए ट्विटर पर लिखा है, ‘बीजेपी ने अपने सात महीने की उपलब्धि को गिनाते हुए समाचारपत्रों के पूरे पेज को विज्ञापन से भर दिया है. क्या  आप इस विज्ञापन को देखकर उत्साहित हैं.? क्या बीजेपी आपकी उम्मीदों पर खरी उतरी है.?

 

‘आप’ नेता योगेन्द्र यादव ने ट्विटर पर लिखा, ‘प्रचार खत्म, अब कोई स्पीकर, बैनर, फोन और मैसेज नहीं. लेकिन बीजेपी के विज्ञापनों को देखिए, क्या यह मजाक है?’

 

सिर्फ आप ने ही नहीं कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने भी बीजेपी के विज्ञापन पर सवाल उठाया है. मनीष तिवारी ने कहा, ‘अगर दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे मोदी सरकार के आठ महीनों के काम का जनमत संग्रह नहीं माना जाएगा, तो फिर बीजेपी के विज्ञापनों में क्यों मोदी सरकार के काम की चर्चा की जा रही है.’

वहीं, बीजेपी उपाध्यक्ष और दिल्ली चुनाव के प्रभारी प्रभात झा ने विज्ञापन में हुए खर्चे पर आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि हमारी पार्टी तो बहुत बड़ी है लेकिन ‘आप’ छोटी पार्टी है और इसके बावजूद उसके पास इतने पैसे कैसे आए.

 

इन आरोपों का जवाब देते हुए बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिंहा ने कहा, ‘आप का यह दावा किया कि विज्ञापन चुनाव संहिता का उल्लंघन है, तो मैं समझता हूं कि यह उनका अज्ञान है. या तो उन्हें कानूनों की जानकारी नहीं है या आदर्श आचार संहिता की या फिर वे खबरों में बने रहने के लिए इस प्रकार के बयान दे रहे हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘विज्ञापन भाजपा के सकारात्मक एजेंडे के बारे में बात करता है जिसके बारे में पार्टी जनता को बताना चाहती है. इसमें किसी प्रकार का उल्लंघन नहीं है. इस प्रकार के विज्ञापन मतदान के दिन तक दिए जा सकते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: AAP slams BJP for front page ads listing achievements
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017