गजेंद्र खुदकुशी केस: FIR में 'आप' कार्यकर्ताओं और नेताओं पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप

By: | Last Updated: Thursday, 23 April 2015 7:35 AM

नई दिल्ली: गजेंद्र की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस ने एफआईआर में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं पर गजेंद्र को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है.

 

एफआईआर में दिल्ली पुलिस के निर्देश की अवहेलना का आरोप भी लगाया है.  एफआईआर में मंच पर मौजूद आप नेताओं का सीधे जिक्र किया गया है.

 

दिल्ली पुलिस ने ये भी लिखा कि पेड़ से उतारने के बाद जब दिल्ली पुलिस गजेंद्र को पीसीआर में डालकर अस्पताल ले जाना चाहती थी तो ‘आप’ कार्यकर्ताओं ने पुलिस को रोका और कहा कि हमारा आदमी है हम अस्पताल ले जाएंगें.

FIR में ‘आप’ कार्यकर्ताओं और नेताओं पर गजेंद्र को उकसाने का आरोप 

गजेंद्र के भाई बिजेंद्र का आरोप

गजेंद्र के भाई बिजेंद्र ने एबीपी न्यूज़ से बातचीत में कहा, ”गजेंद्र के संपर्क में सभा पार्टियों के नाता था. सबको पगड़ी बांधते थे. लेकिन कल वो विशेष तौर पर रैली में इसलिए गए थे ताकि किसानों को मुआवजा मिल सके, जो चिट्ठी उन्होंने लिखी उसके जरिए वो नेताओं तक अपनी बात पहुंचाना चाहते थे.”

 

बिजेंद्र के मुताबिक वो चिट्ठी सुसाइड नोट नहीं थी, उन्होंने पर्ची में अपनी बात लिखी थी जिसके जरिए वो आप नेताओं तक अपनी और किसानों की बात पहुंचाना चाहते थे. मुझे नहीं पता कि वो चिट्ठी उन्होंने  खुद लिखी या नहीं, मुझे नहीं पता.

 

बिजेंद्र के मुताबिक गजेंद्र आम आदमी पार्टी के नेता और  दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के संपर्क में थे, लेकिन मुझे यह नहीं पता कि वो उनके बुलाने पर दिल्ली की किसान रैली में गए थे या खुद से.

 

आप नेता आशुतोष के बयान पर बिजेंद्र का कहना है कि जिसके पास जितना विवेक और बुद्धि है उसने उतनी बात कही.

 

बिजेंद्र ने कहा कि उनका भाई एक जिंदादिल व्यक्ति थे और वो आत्महत्या नहीं करसकते थे. अगर रैली रोकी जाती तो मेरे भाई को बचाया जा सकता था.

 

गजेंद्र का हुआ अंतिम संस्कार

दौसा पुलिस अघीक्षक अंशुमान भौमिया ने बताया कि मृतक गजेन्द्र सिंह के परिवार में कल विवाह होने के कारण उनके परिजन गजेन्द्र सिंह का शव उसके पैतृक आवास पर नहीं ले जाकर किसी परिचित के घर पर लेकर गये थे. गजेन्द्र सिंह के चाचा गोपाल सिंह कल रात ही गजेन्द्र सिंह का शव दिल्ली से लेकर अपने गांव पहुंच गये थे. उन्होंने कहा कि गजेन्द्र सिंह का पोस्टमार्टम कल दिल्ली में ही हो गया था.

 

भौमिया के अनुसार, अन्त्येष्टि के मौके पर राजस्थान सरकार के सामाजिक अधिकारिता मंत्री डा अरूण चतुवेदी, भाजपा विधायक डॉ अलका गुर्जर, राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री सचिन पायलट, राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री नमो नारायण मीना, जितेन्द्र सिंह एवं करणी सेना के नेता लोकेन्द्र सिंह कालवी, गजेन्द्र सिंह के परिजन समेत काफी तादाद में लोग मौजूद थे.

 

गौरतलब है कि गजेन्द्र सिंह ने कल दिल्ली में आप की जंतर मंतर में आयोजित रैली के दौरान पेड़ पर फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली थी.

 

यह भी पढ़ें-

बड़ा खुलासा: दिल्ली पुलिस के मना करने के बाद भी आप ने की जंतर मंतर पर रैली! 

गजेंद्र खुदकुशी केस: राजनाथ सिंह ने दिल्ली पुलिस से जांच जल्दी पूरी करने को कहा 

खुदकुशी पर आशुतोष ने दिया विवादित बयान, फिर मांगी माफी 

खुदकुशी पर आशुतोष ने दिया विवादित बयान, फिर मांगी माफी 

गजेंद्र की खुदकुशी को लेकर घिरे अरविंद केजरीवाल की तस्वीर पर विरोधियों ने लगाई कालिख  

गजेंद्र की मौत के बाद अलवर से आई किसान की मौत की खबर 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: aap_rally_gajendra_death_fir
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017