एबीपी सर्वे: झारखंड में भी बीजेपी गठबंधन पहुंच सकता है बहुमत के करीब

By: | Last Updated: Friday, 21 November 2014 2:42 PM
ABP NEWS OPINION POLL, bjp will be largest party oooo

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों के बाद महाराष्ट्र और हरियाणा की जंग जीतने वाली बीजेपी झारखंड विधानसभा चुनाव में भी मोदी लहर के सहारे सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है, जबकि सत्ताधारी झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) सरकार का जाना तय है.

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन के ओपिनियन पोल के मुताबिक झारखंड में बीजेपी गठबंधन बहुमत के जादुई आंकड़े के करीब आ सकता है. सर्वे के मुताबिक एनडीए के 37 सीटें जीतने का अनुमान है.

 

बीजेपी अकेले 30 सीटें जीत लेगी तो गठबंधन साथी ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन यानी एजेएसयू की झोली में 6 सीटें जा सकती हैं. एक सीट पर एलजेपी जीत का झंडा लहरा सकता है. यानी बीते विधानसभा चुनाव के मुकाबले में बीजेपी को 12 और बतौर गठबंधन 13 सीटों का फायदा हो सकता है.

 

जेएमएम की बड़ी हार

 

एबीपी सर्वे के मुताबिक सत्ताधारी जेएमएम को बड़ी हार का सामना करना पड़ेगा. जेएमएम महज़ 7 सीटों पर ही सिमट जाएगी यानी जेएमएम को 11 सीटों का भारी नुकसान होगा.

 

बाबू लाल मारंडी की जेवीएम की भी हालत तरस खाने हो सकती है. ये पार्टी भी महज़ 6 सीटों पर सिमट जाएगी. जेवीएम को भी 5 सीटों का नुकसान हो सकता है.

 

झारखंड से कांग्रेस के लिए अच्छी खबर है. बीते विधानसभा चुनाव के मुकाबले में कांग्रेस दो सीटें ज्यादा जीतती दिख रही है. कांग्रेस को 15, आरजेडी को 3 और जेडीयू को 5 सीटें मिल सकती हैं यानी यूपीए को 23 सीटें मिलने का अनुमान है.

आपको आपको बता दें कि 2009 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 18 और एजेएसयू को 6 सीटें मिली थीं. एलजेपी खाता नहीं खोल पाई थी. सत्ताधारी जेएमएम को 18 सीटें मिली थीं.  कांग्रेस को 13, जेडीयू को एक और आरजेडी को पांच सीटें मिली थीं. जेएमएम को 18 तो जेवीएम को 11 सीटें मिली थीं.

 

सीएम की रेस

एबीपी न्यूज़ के सर्वे में बीजेपी नेता अर्जुन मुंडा सीएम की रेस में सबसे आगे हैं. मुंडा 35 फीसद लोगों की पसंद बन कर उभरे हैं.  बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा 22 पर्सेंट लोगों की चॉइस हैं. बीजेपी के ही एक अन्य नेता राघुवीर दास 10 फीसद जनता की पसंद हैं. महज़ 8 फीसद लोग चाहते हैं कि हेमंत सोरेन एक बार फिर राज्य के सीएम बने.

 

बीजेपी के भीतर अर्जुन मुंडा सीएम की रेस में सबसे आगे हैं. उन्हें 47 फीसद बीजेपी के समर्थक सीएम के तौर पर देखना चाहते हैं तो 30 फीसद समर्थन के साथ यशवंत सिन्हा दूसरे स्थान पर हैं. जेएमएम के भीतर हेमंत सोरेन ही सीएम की पहली पंसद हैं. कांग्रेस और आरजेडी के समर्थक सीएम कैंडिडेट को लेकर स्पष्ट नहीं हैं.

 

कैसा रहा सरकार का कामकाज?

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक झारखंड के लोग मौजूदा सरकार के कामकाज को औसत बता रहे हैं. 6 फीसद लोग सरकार के कामकाज को बहुत अच्छा, 31 फीसद अच्छा, 40 फीसद औसत, 15 फीसद बुरा और 4 फीसद लोग काफी बुरा बता रहे हैं.

 

सीएम का कामकाज?

 

ओपिनियन पोल के मुताबिक सीएम हेमंत सोरेन का कामकाज भी औसत रहा है. लेकिन सरकार के कामकाज से उनके काम को लोगों ने अच्छा कहा है. 12 फीसद लोग सीएम के कामकाज से बहुत ज्यादा संतुष्ठ हैं, जबकि 41 संतुष्ठ हैं. 21 फीसद की राय मिलीजुली है. 13 फीसद बहुत असंतुष्ठ हैं और 7 फीसद लोग काफी बुरा बता रहे हैं.

 

क्या हैं मुद्दे

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक जनता की नजर में बेरोज़गारी (26%), भष्टाचार (18%), महंगाई (11%) और गरीबी (8%) बड़े मुद्दे हैं.

 

सर्वे के मुताबिक वोटरों का बीजेपी की तरफ झुकने की वजह महंगाई और रोज़गार के मोर्चे पर सरकार की नाकामी है.

 

महंगाई को कारण बता जहां 18 फीसद वोटरों का कहना है कि वह बीजेपी को वोट देंगे तो वहीं 19 फीसद का कहना है कि अच्छे रोज़गार की उम्मीद के कारण बीजेपी को वोट देंगे.

 

किसकी बन सकती है सरकार

 

62 फीसद वोटरों का कहना है कि बीजेपी और एजेएसयू गठबंधन सरकार बना सकती है.

 

पिछले पांच साल में जिंदगी कितनी बदली?

 

 

एबीपी न्यूज़- नीलसन का ये पोल 11 नवंबर और 17 नवंबर  के बीच किया गया है. 7209 वोटरों की राय ली गई है.

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ABP NEWS OPINION POLL, bjp will be largest party oooo
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017