लंदन में माल्या के दूसरे घर पहुंचा ABP, बंगले के बाहर दिखी उनकी लिमोजीन

By: | Last Updated: Sunday, 13 March 2016 2:32 PM
ABP NEWS REACHES AT VIJAY MALLYA SECOND RESIDENCE IN UK

नई दिल्ली: लंदन में विजय माल्या के दूसरे घर पहुंचा एबीपी न्यूज़. बेकर स्ट्रीट पर बने इस घर पर जब एबीपी न्यूज़ पहुंचा तो वहां के नज़ारे से ऐसा लगा कि विजय माल्या अंदर ही हैं.

पहले फोर्स इंडिया का लोगो लगी एक गाड़ी पहुंची जिसमें से एक महिला उतरीं जो शॉपिंग करके आई थीं. इसके बाद काले शीशे वाली एक लिमोज़ीन गाड़ी निकली. क्या इसी गाड़ी में थे विजय माल्या?

car 2

आपको बता दें इससे पहले एबीपी न्यूज़ माल्या के लंदन में बने एक औऱ घर पहुंचा था. ब्रिटेन की लंदन से कुछ दूरी पर हर्डफोर्डशायर के तिवेन गांव में है माल्या का तीस एकड़ में फैला बंगला है.

मीडिया मेरा शिकार कर रहा है- माल्या

वहीं एबीपी न्यूज़ की खबर पर विजय माल्या ने भी बयान दिया है. विजय माल्या ने ट्वीट कर कहा, ”लंदन में मीडिया मेरा शिकार कर रहा है. लेकिन दुख है कि वे सही जगह पर नहीं खोज रहे हैं. मैं मीडिया से बात नहीं करूंगा इसलिए अपना समय बर्बाद ना करें.”

बैंकों के नौ हजार करोड़ लेकर देश छोड़कर गए विजय माल्या को लेकर देश में भी हंगामा जारी है. जिस सीबीआई के लुक आउट नोटिस में छूट की वजह से माल्या देश छोड़कर जा सके वो अब सवालों के घेरे में है. सीबीआई को उस अधिकारी का पता चल गया है जिनके स्तर पर कथित तौर पर चूक हुई होगी. नियम है कि लुकआउट नोटिस एसपी रैंक से नीचे रैंक का अधिकारी जारी ही नही कर सकता. इस बीच माल्या को सबसे ज्यादा कर्ज देने वाले बैंक स्टेट बैंक की चेयरपर्सन की बोलती बंद है.

पीएम बताएं माल्या कैसे भागा

विजय माल्या के भागने पर देश में राजनीति भी तेच हो गई है. अरविंद केजरीवाल ने मोदी को घेरा, ट्विट करके पूछा, “CBI पीएम को ही रिपोर्ट करती है. पीएम बताएं विजय माल्या देश छोड़कर कैसे भाग गए.” कांग्रेस ने भी सरकार को घेरा है. कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी नेताओं के माल्या से संबंध इसलिए बचा रहे हैं.

माल्या पर अपने ही झूठ के जाल में फंस रही सीबीआई

जिस सीबीआई की लापरवाही से माल्या भागा वो अब अपने ही झूठ के जाल में फंसती जा रही है… माल्या के खिलाफ हिरासत का लुकआउट नोटिस को जानकारी देने वाला नोटिस बनाने वाली सीबीआई गलती कबूलने के बाद सवालों के घेरे में है

सीबीआई का पहला झूठ- लुकआउट नोटिस के बावजूद विदेश कैसे भागा

इस मामले में सीबीआई ने इनडायरेक्ट तरीके से आईबी पर हमला किया और जब एयरपोर्ट इमीग्रेशन ने जांच की तो पाया कि माल्या के बारे में उऩके पास रोकने का नोटिस नहीं था बल्कि केवल सूचना देने का नोटिस जारी था इसके बाद भी सीबीआई ने तब तक नहीं बताया कि माल्या का पहला नोटिस रोकने का ही था औऱ उसे एक महीने में ही बदलवाया गया था जिसके चलते माल्या आराम से देश से बाहर चले गए.

सीबीआई का दूसरा झूठ- निचले स्तर के अधिकारी की गलती से हिरासत में लेने का नोटिस

सीबीआई के ही एक आला अधिकारी ने कैमरे पर आए बिना कहा कि लुकआऊट नोटिस एसपी रैंक से नीचे का अधिकारी तो जारी कर ही नहीं सकता औऱ बडे मामलो में तो उसमें डीआईजी औऱ संयुक्त निदेशक दोनो की परमीशन ली जाती है. यहाँ सवाल ये उठता है कि सीबीआई एसपी को बड़ा अधिकारी मानती है या नही.

सीबीआई ने अधिकारिक तौर पर कहा कि 23 नवंबर 2015 तो इमीग्रेशन विभाग ने सूचना दी कि माल्या लंदन से आने वाला है तो उसी दिन आनन फानन में उसका नोटिस बदल दिया गया लेकिन ये नोटिस किस अधिकारी की इजाजत से बदला गया उसके बारे में सीबीआई ने कोई भी जवाब देने से मना कर दिया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ABP NEWS REACHES AT VIJAY MALLYA SECOND RESIDENCE IN UK
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017