एबीपी स्पेशल: ऑपरेशन केदारनाथ की पड़ताल

By: | Last Updated: Saturday, 31 January 2015 4:36 AM
abp special: a report on operation kedarnath

नई दिल्ली: बर्फ की मोटी चादर से ढके केदारनाथ धाम का तापमान माइनस दस डिग्री है. इस मौसम में मंदिर में पूजा भी नहीं हो रही है. साथ ही पट भी बंद है. सारी दुकानें सूनी हैं. मान्यता के मुताबिक भगवान केदार की डोली भी नीचे ऊखीमठ ले जाई जाती है और इसलिए पुजारी हो या फिर सुरक्षाकर्मी हर कोई निचले इलाकों में जा चुका है. 

 

लेकिन करीब साढ़े ग्यारह हजार फीट की ऊंचाई पर इस कड़कड़ाती ठंड में भी इन दिनों यहां कुछ आवाजें सुनाई देती हैं ये आवाजें उन सैकड़ों मजदूरों की है जो जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं जिससे केदारनाथ घाटी की तस्वीर बदली जा सके. ठंड की परवाह किए बगैर 300 लोगों की ये टुकड़ी सेना के एक कर्नल के नेतृत्व में ऑपरेशन केदार को अंजाम दे रही है.

 

एबीपी ने की ऑपरेशन केदारनाथ की पड़ताल

 

ऑपरेशन केदार क्या है और क्यों शुरू किया गया ये जानने के लिए एबीपी न्यूज़ हेलिकॉप्टर के जरिए गुप्तकाशी से होते हुए केदार घाटी पहुंचा. दोपहर 2 बजे के बाद तापमान में बेहद गिरावट आ जाती है. तापमान 10°C तक गिर जाता है. इतने प्रतिकूल मौसम में काम करने बेहद जटिल काम है. एबीपी न्यूज जब केदारघाटी पहुंचा तो वहां नजर आई ये तस्वीरें जहां इमारतों को गिराने का काम चल रहा था.

 

ऑपरेशन का प्रमुख काम है इमारतों को तबाह करना

 

ऑपरेशन केदार के तहत मंदिर की आसपास की उन इमारतों को गिराना है जो 2013 की तबाही के बाद बेहद कमजोर हो गई थीं. जिन इमारतों पर D लिखा है उसका मतलब है डेंजर यानि खतरनाक और जिन VD लिखा है उसका मतलब वेरी डेंजरस यानि बहुत ही खतरनाक! पहले 46 सरकारी इमारतें गिराई जा रहीं हैं. उसके बाद निजी इमारतें, होटल, लॉज गिराए जाएंगे.

 

तीर्थ यात्रियों के रूकने के लिए बनी इन पुरानी इमारतों की जगह खास ‘यात्री निवास’ बनाए जाएंगे. जो भूकंप-रोधी के साथ-साथ बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा को भी झेल सकें और ज्यादा नुकसान ना हो. गांधी सरोवर पर बांध बनाना इस ऑपरेशन का दूसरा काम है.

 

जून 2013 में भारी बारिश और बादल फटने के बाद गांधी सरोवर का पानी मंदिर तक पहुंचा था और भारी तबाही लेकर आया था. अब इस गांधी सरोवर के चारों तरफ पक्का बंध बनाया जा रहा है ताकि भविष्य में पानी सरोवर के बाहर ना आ पाए. ये काम पूरा हो चुका है.

 

तीसरा काम है मंदाकिनी सरस्वती नदी पर घाट बनाना

 

तीसरा काम है मंदाकिनी सरस्वती नदी पर घाट बनाना. नदी पर पुल बनाने का काम पूरा हो चुका है. इस नए मास्टर प्लान को पूरा करने के लिए उत्तराखंड सरकार ने रक्षा मंत्रालय के अधीन चलने वाले Nehru Institute of Mountaineering (NIM) यानि नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के प्रिंसिपल कर्नल अजय कोठियाल को इस ऑपरेशन की जिम्मेदारी सौंपी है.

 

इसकी वजह भी है कर्नल कोठियाल को सियाचिन जैसे दुनिया के सबसे बड़े ग्लेशियर पर काम करने का लंबा अनुभव है. कर्नल कोठियाल दो बार माउंट एवरेस्ट फतह कर चुके हैं.

 

नेपाली मजदूर अपने कंधों पर उठा रहे हैं ऑपरेशन-केदार का भार 

 

भारतीय सेना से आए अधिकारियों और जवानों के साथ-साथ उत्तराखंड पुलिस के जवान और स्थानीय प्रशासन भी इस टीम का हिस्सा है इसके अलावा 250 नेपाली मजदूर हैं जो ऑपरेशन-केदार को अपने कंधों पर उठाए हैं. ये काम कितना मुश्किल है इसका अंदाज आप इस बात से लगाइए कि केदारनाथ मंदिर से 7 किमी नीचे गौरीकुंड से मजदूर कुछ मशीनों को अपने कंधों पर ढोकर ऊपर लाए हैं.

 

बड़ी मशीनों को लाने के लिए वायुसेना से मदद मांगी गई. वायुसेना के Mi-26 हेलीकॉप्टर को लैंड कराने के लिए हवाईपट्टी को बड़ा किया गया जिसके बाद जेसीबी 3DX और दूसरी बड़ी मशीनरी को केदार घाटी तक पहुंचाया जा सका. 11,600 फीट की उंचाई पर बनाई गई ये हवाई पट्टी पूरे उत्तराखंड में अबतक की सबसे बड़ी हवाई पट्टी है.

 

केदारनाथ घाटी की तस्वीर बदलने में जुटी इस टीम के लिए अप्रैल तक का राशन इकट्ठा करके रखा गया है. कल्पना करना मुश्किल है कि इस कड़कड़ाती ठंड में साढ़े 11 हजार फीट की ऊंचाई पर बर्फ की मोटी चादर के बीच 300 लोगों की ये टीम दिन रात काम कर रही है. केदारनाथ के पट बंद है लेकिन 6 महीने बाद ये पट जब दोबारा खुलेंगे तो ऑपरेशन केदार से यहां की तस्वीर जरूर बदली हुई नजर जाएगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: abp special: a report on operation kedarnath
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे हुई ?
गोरखपुर ट्रेजडी: इलाहाबाद HC ने योगी सरकार से पूछा सवाल, बच्चों की मौत कैसे...

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक नहीं लगाई
योगी के बयान पर बोले अखिलेश- थानों में पहले भी मनती थी जन्माष्टमी, हमने रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री...

ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी
ABP न्यूज़ का खुलासा: सृजन NGO में बाहर से सामान मंगाकर सिर्फ पैकिंग होती थी

भागलपुर:  बिहार में जिस सृजन घोटाले को लेकर राजनीति गरम है उसको लेकर बड़ा खुलासा किया है. एबीपी...

CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से छेड़खानी
CCTV में कैद दिल्ली का 'दुशासन': 5 स्टार के सिक्योरिटी मैनेजर ने की महिला से...

नई दिलली: राजधानी दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में महिला से छेड़खानी का एक सनसनीखेज मामला सामने...

आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त
आज हर कीमत पर चुनाव जीतना चाहती हैं राजनीतिक पार्टियां: चुनाव आयुक्त

गुरुवार को एडीआर के एक कार्यक्रम में चुनाव आयुक्त ने कहा, जब चुनाव निष्पक्ष और साफ सुथरे तरीके...

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा
2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा

नई दिल्ली: दिल्ली की आप सरकार तेजाब हमलों के उन मामलों पर विचार करेगी, जो सरकार की 2015 में...

बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने  बच्चे को जन्म दिया
बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने बच्चे को जन्म दिया

चंडीगढ़: बलात्कार पीड़ित एक 10 साल की लड़की ने कल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया. लड़की के...

‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां
‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां

नई दिल्ली:  लगभग एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों ने कल एक मंच पर आकर आरएसएस पर तीखा हमला...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति के बारे में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017