ABP सर्वे: दिल्ली में मोदी लहर पड़ी धीमी, फिर भी झाडू पर भारी है कमल

By: | Last Updated: Saturday, 13 December 2014 3:01 PM
ABP Survey: BJP will get majority

नई दिल्ली: एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक दिल्ली की सियासी फिजा बीते एक महीने में थोड़ी बदली है, धीरे-धीरे आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता बढ़ी है, लेकिन मोदी का मैजिक लोगों की सिर ऐसा चढ़कर बोल रहा है. अभी भी दिल्ली की ज्यादातर जनता यहां बीजेपी की सरकार के हक़ में है.

 

ताज़ा ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर अभी विधानसभा चुनाव हुए तो बीजेपी न सिर्फ बहुमत हासिल करेगी, बल्कि बहुमत के जादुई आंकड़े से 9 सीटें ज्यादा आने का अनुमान है. हालांकि नंवबर महीने के ओपिनियन पोल के मुकाबले उसे एक सीट कम मिलेगी यानी 45 सीटों पर कमल खिल सकता है.

 

आम आदमी पार्टी 17 सीटों पर ही सिमट जाएगी. यानी नवंबर महीने के मुकाबले उसे भी एक सीट का नुकसान होगा. कांग्रेस की झोली में 7 सीटें जा सकती है. यानी कांग्रेस को नवंबर के सर्वे के मुकाबले 2 सीटों का फायदा हो सकता है. एक सीट अन्य के खाते में जा सकती है. 70 सीटों वाली दिल्ली में बहुमत का जादुई आंकड़ा 36 है.

 

आपको बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव में बीजेपी+ को 32, आम आदमी पार्टी को 28 और कांग्रेस को 8 सीटें मिली थी. एक सीट निर्दलीय और एक सीट जेडीयू के खाते में गई थीं.

 

अरविंद केजरीवाल सीएम की पहली पसंद

 

बतौर सीएम दिल्ली की जनता के दिलों पर लगातार अरविंद केजरीवाल का जादू बढ़ चढ़कर बोल रहा है. ताज़ा ओपिनियन पोल में भी केजरीवाल दिल्ली की जनता में बतौर सीएम उनकी पहली पसंद हैं और उन्हें हर्षवर्धन से जो कड़ी टक्कर मिल रही थी वो मंद पड़ी है.

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक दिल्ली के 43 फीसद मतदाता अरविंद केजरीवाल को बतौर सीएम पंसद करते है तो 39 फीसद मतदाता डॉक्टर हर्षवर्धन को बतौर सीएम देखना चाहते हैं.

दिल्ली की 15 साल तक सीएम रहीं शीला दीक्षित को महज़ 5 फीसद जनता एक बार फिर सीएम के तौर पर देखना चाहती है. सीएम की रेस में बीजेपी अध्यक्ष सतीश उपाध्याय और जगदीश मुखी को 3-3 फीसद जनता पसंद करती है. कांग्रेस नेता अरविंदर सिंह लवली को 2 फीसद और अजय माकन को एक फीसद जनता पसंद करती है.

 

मोदी और केजरीवाल में कौन हैं लोकप्रिय

 

जब दिल्ली की जनता से पूछा गया कि उनके सबसे लोकप्रिया नेता कौन हैं तो यहां अरविंद केजरीवाल को मुंह की खानी पड़ी. विधानसभा चुनाव की बेला पर भी जनता की जुबान पर मोदी का नाम सबसे ऊपर है.

 

दिल्ली की 58 फीसद जनता नरेंद्र मोदी को सबसे लोकप्रिय नेता मानती है. 33 फीसद मतदाता अरविंद केजरीवाल को सबसे लोकप्रिय नेता मानते हैं. 7 फीसद जनता की नजर में राहुल गांधी सबसे लोकप्रिय नेता हैं. इस पोल की खास बात ये है कि बीते एक महीने में केजरीवाल की लोकप्रिया में इजाफा हुआ है तो मोदी और राहुल की लोकप्रियता में गिरावट आई है.

 

साध्वी निरंजन ज्योति का भारी विरोध

 

जब लोगों से पूछा गया कि क्या वे मोदी की मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के बयान ‘रामजादे’ बनाम ‘हरामजादे’ से सहमत हैं तो 72 फीसद ने साध्वी के बयान की निंदा की.

 

एक तिहाई लोगों का मानना था कि साध्वी निरंजन ज्योति विवादित बयान का बीजेपी पर कोई असर नहीं पड़ेगा, वहीं दूसरे एक तिहाई लोगों का कहना है कि इससे बीजेपी का नुकसान होगा.

 

14 फीसद का कहना है कि वे बीजेपी को वोट देना चाहते हैं और साध्वी के विवादित बयान का बीजेपी पर असर नहीं पड़ेगा.

 

किस तरह वोट बटेंगे?

 

साल 2013 के विधानसभा चुनाव में जिन 77 फीसद मतदाताओं ने आप को वोट दिया था वे अभी भी आप के साथ हैं. लेकिन आप के 18 फीसद समर्थक बीजेपी की ओर झुक रहे हैं, जबकि आप की झोली में बीजेपी के 9 फीसद वोटर ही खिसक रहे हैं. कांग्रेस के 12 फीसद वोटर आप की झोली में जा रहे हैं.

 

बीते विधानसभा चुनाव में बीजेपी को जिन 88 फीसद लोगों ने वोट किया था वे आज भी उनके साथ डटे हुए हैं. कांग्रेस से 11 फीसद वोटर बीजेपी की झोली में जा रहे हैं.

 

साल 2013 के विधानसभा चुनाव में जिन 75 फीसद लोगों ने कांग्रेस को वोट किया था, वे आज भी कांग्रेस के साथ हैं. पार्टी को शोएब इकबाल के आने से फायदा होता दिख रहा है और जेडीयू के वोट कांग्रेस की झोली में आ रहे हैं.

 

क्यों वोटर की पार्टियों से वफादारी बदल रही है?

 

आप से बीजेपी में खिसकने वालों में 40 फीसद पार्टी के नेता को वजह बता रहे हैं तो इसी वजह से महज़ 22 फीसद वोटर बीजेपी के आप की ओर खिसक रहे हैं, जबकि 38 फीसद वोटर कांग्रेस से आप की ओर जा रहे हैं. महंगाई के सवाल पर 22 फीसद वोटर बीजेपी से आप की तरफ झुक रहे हैं.

 

विधानसभा चुनाव में आप की तरफ झुकाव

 

लोकसभा चुनाव में बीजेपी का जबरदस्त बोलबाला दिखा था, लेकिन एबीपी न्यूज़ के सर्वे में विधानसभा चुनाव को लेकर जनता का रुख अलग है. वो 22 फीसद वोटर जिन्होंने लोकसभा में बीजेपी को वोट दिया था.. अगर आज विधानसभा चुनाव हों तो वे आप को वोट देंगे.

 

लोकसभा में आप को वोट देने वाले 87 फीसद वोटर आज भी उनके साथ हैं, जबकि बीजेपी के 73 फीसद वोटर ही उनके साथ हैं.

 

कैसा था केजरीवाल की 49 दिन की सरकार का कामकाज?

 

65 फीसद जनता ने अरविंद केजरीवाल की सरकार के कामकाज को अच्छा या बहुत अच्छा माना है.  खासकर ग़रीब वोटरों में ये रुझान ज्यादा दिखा.

 

इसी तरह 67 फीसद वोटरों ने आप की सरकार के कामकाज को अच्छा या बहुत अच्छा करार दिया.

 

कैसा रहा मोदी के छह महीने का काम?

 

तीन चौथाई (74%) लोगों का मानना है कि मोदी सरकार ने बीते छह महीने में अच्छा या बहुत अच्छा काम किया है.

 

क्या हैं अहम मुद्दे

 

39 फीसद जनता की नजर में महंगाई, 30 फीसद जनता के लिए साफ-सफाई और जलभराव को दिल्ली में बड़ा मुद्दा बताया. 27 फीसद के लिए पीने का पानी काफी बड़ा मुद्दा है. 

 

किस पार्टी की बनेगी सरकार?

 

आधी जनता यानी 50 फीसद का मत है कि बीजेपी की सरकार बनेगी, जबकि 38 फीसद को लगता है कि आप की सरकार बनेगी.

 

46 फीसद को लगता है कि दूसरी पार्टियों की तुलना में बीजेपी की मुहिम ज्यादा आक्रामक होगी.

 

क्या है वोट देने की वजह?

 

दिल्ली में हर पार्टी के वोटर्स के बीच कानून-व्यवस्था बनाए रखना सबसे बड़ा सवाल है. कौन पार्टी बेहतर कानून व्यवस्था देगी, इस सवाल पर  सबसे ज्यादा 24 फीसद जनता बीजेपी के साथ, 21 फीसद ‘आप’ के साथ और 20 फीसद कांग्रेस के साथ खड़ी है.

 

आम आदमी पार्टी के समर्थकों को लगता है कि यही पार्टी भ्रष्टाचार कम कर सकती है. 26 फीसद जनता इस मुद्दे पर आप के साथ है, जबकि 10 फीसद बीजेपी और 9 फीसद कांग्रेस के साथ है.

 

आपको बता दें कि एबीपी न्यूज़ का ये सर्वे 4 से 8 दिसंबर  के बीच किया गया. कुल 6,409 लोगों से उनकी राय ली गई जिनमें 92 फीसद जनता ने कहा कि वे हर हाल में वोट देंगे, 97 फीसद ने पिछले विधानसभा में वोट किया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ABP Survey: BJP will get majority
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017