सर्वे: दिल्ली में झाडू पर भारी कमल, बीजेपी को पूर्ण बहुमत के आसार

By: | Last Updated: Monday, 10 November 2014 2:26 PM
ABP Survey: BJP will get majority in Delhi

नई दिल्ली: दिल्ली के सियासी मिजाज को समझने और मतदाताओं के मूड भांपने की एबीपी न्यूज़-नीलसन की कवायद यह बता रही है कि दिल्ली में बीजेपी बहुमत के साथ सरकार बना लेगी. हालांकि, बतौर सीएम अरविंद केजरीवाल दिल्ली की जनता की पहली पसंद हैं.

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर अभी विधानसभा चुनाव हुए तो बीजेपी 14 सीटों की बढ़ोतरी के साथ 46 सीटों पर कब्ज़ा जमा सकती है, जबकि आम आदमी पार्टी 18 सीटों पर ही सिमट जाएगी. उसे कुल 10 सीटों का नुकसान हो सकता है. कांग्रेस की झोली में महज़ 5 सीटें जाएंगी. एक सीट अन्य के खाते में जा सकती है. 70 सीटों वाली दिल्ली में बहुमत का जादुई आंकड़ा 36 है.

 

आपको बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव में बीजेपी+ को 32, आम आदमी पार्टी को 28 और कांग्रेस को 8 सीटें मिली थी. एक सीट निर्दलीय और एक सीट जेडीयू के खाते में गई थीं.

 

अरविंद केजरीवाल सीएम की रेस में नंबर वन

आम आमदी पार्टी के लिए महज़ संतोष की बात यह है कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली की जनता में मामूली अंतर से ही सही, बतौर सीएम उनकी पहली पसंद हैं. हालांकि, उन्हें हर्षवर्धन से कड़ी टक्कर मिल रही है.

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक दिल्ली के 39 फीसद मतदाता अरविंद केजरीवाल को बतौर सीएम पंसद करते है तो 38 फीसद मतदाता डॉक्टर हर्षवर्धन को बतौर सीएम देखना चाहते हैं.

 

दिल्ली की 15 साल तक सीएम रहीं शीला दीक्षित को महज़ 7 फीसद जनता एक बार फिर सीएम के तौर पर देखना चाहती है. सीएम की रेस में जगदीश मुखी चौथे नंबर हैं और उन्हें 5 फीसद जनता पसंद करती है. सतीश उपाध्याय और अरविंदर सिंह लवली को चार-चार फीसद जनता पसंद करती है. दो फीसद मतदाओं की पसंद के साथ अजय माकन सबसे नीचले पायदान पर हैं.

 

जनता का मूड लोकसभा जैसा नहीं

 

ओपिनियन पोल से साफ है कि दिल्ली की जनता का मूड बीजेपी के पक्ष में है, लेकिन उनमें वो गर्मजोशी नहीं है जैसी उन्होंने लोकसभा चुनावों के दौरान दिखाई थी. लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 60 विधानसभा सीटों पर बढ़त मिली थी.

 

एबीपी न्यूज़ के सर्वे के मुताबिक बीजेपी को 38 फीसद वोट मिलने की संभावना है, जबकि आम आदमी पार्टी को 26 फीसद वोट मिलने के आसार हैं. 22 फीसद वोट कांग्रेस भी पाने में कामयाब रहेगी.

 

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी का मैजिक अपने चरम पर था और इस तरह बीजेपी को 46.4 फीसद, आप को 32.9 फीसद और कांग्रेस को 15.1 फीसद वोट मिले थे.

 

मोदी और केजरीवाल में कौन हैं लोकप्रिय

 

जब दिल्ली की जनता से पूछा गया कि उनके सबसे लोकप्रिया नेता कौन हैं तो यहां भी अरविंद केजरीवाल को मुंह की खानी पड़ी. विधानसभा चुनाव की बेला पर भी जनता की जुबान पर मोदी का नाम सबसे ऊपर है. दिल्ली की करीब दो तिहाई (63 फीसद) जनता नरेंद्र मोदी को सबसे लोकप्रिय नेता मानती है. एक चौथाई यानी 25 फीसद मतदाता अरविंद केजरीवाल को सबसे लोकप्रिय नेता मानते हैं. 12 फीसद जनता की नजर में राहुल गांधी सबसे लोकप्रिय नेता हैं.

 

किसकी सरकार का काम भाया- मोदी या केजरीवाल

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल की सबसे दिलचस्प बात यह है कि दिल्ली की अधिकतर जनता ने जहां 49 दिन के केजरीवाल सरकार के कामकाज को सराहा है वहीं वे मानते हैं कि मोदी ने अच्छे दिन लाए हैं.

 

पोल के मुताबिक 61 फीसद जनता अरविंद केजरीवाल के 49 दिन की सरकार के कामकाज से संतुष्ठ है तो 38 फीसद नाखुश. एक दूसरे सवाल के जवाब में 56 फीसद जनता को लगता है कि मोदी अच्छे दिन लाए हैं, 43 फीसद इससे सहमत नहीं है.

 

आपको बता दें कि एबीपी न्यूज़ का ये सर्वे 5 से 7 नवंबर के बीच किया गया. कुल 6528 लोगों से उनकी राय ली गई जिनमें 93 फीसद जनता ने कहा कि वे हर हाल में वोट देंगे, 95 फीसद ने पिछले विधानसभा में वोट किया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ABP Survey: BJP will get majority in Delhi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: arvind kejriwal ele2014 Narendra Modi
First Published:

Related Stories

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर ने फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा
यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा

बहराइच: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस बीच बहराइच में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017