60 के बाद राजनीति नहीं समाज सेवा करनी चाहिए: अमित शाह

By: | Last Updated: Saturday, 14 November 2015 4:40 PM

नई दिल्लीः बिहार में एनडीए गठबंधन की हार के बाद भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जगतगुरू स्वामी रामभद्राचार्य की शरण में पहुंचे. इस दौरान उन्होंने चित्रकूट के जानकीकुंड स्थित आश्रम में जगतगुरू से भेंट की. भेंट के दौरान उन्होंने स्वामी रामभद्राचार्य का आशीर्वाद लिया.

 

चित्रकुट में बीजेपी अध्यक्ष अमित ने  नानाजी देशमुख का जिक्र करते हुए कहा , ”नानाजी देशमुख कहते थे साठ साल की उम्र में राजनीति से संन्यास लेकर समाजसेवा करनी चाहिए”

 

 आपको बता दें बिहार की हार के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए बीजेपी के बुजुर्ग नेताओं के दल आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा ने हार की जिम्मेदारी लेने की बात कही थी.  अमित शाह चित्रकूट के जानकीकुंड में सतगुरू सेवा संघ ट्रस्ट के स्नातकोत्तर नेत्र विज्ञान संस्थान के शुभारंभ समारोह में पहुंचे थे.

 

इस दौरान उन्होंने स्वामी रामभद्राचार्य से भेंट की. स्वामी जी से उन्होंने आशीर्वाद लिया. और कहा कि उनकी कृपा बनी रहे. जिससे हालत सुधर जाऐंगे. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे भी अमित शाह के साथ थे. उल्लेखनीय है कि जानकीकुंड में नेत्रों का उपचार होता है. यहां बने 36 ऑपरेशन थियेटर में नेत्र विज्ञान  पर कार्य किया जाता है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: After criticism from Advani & cos, Amit Shah says leaders
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017