गरमी में सैर-सपाटा होगा आसान, एय़रलाइंस की रिकॉर्ड उड़ान

Airlines to operate flights per week in summer schedule

नई दिल्ली:  अबकी गरमी की छुट्टियों में हवाई किराया कम हो सकता है. क्योंकि घरेलू एय़रलाइंस कम्पनियों ने गरमी के दौरान हर हफ्ते 14 हजार 8 सौ से भी ज्यादा उड़ान मुहैया कराने का प्रस्ताव रखा है. इसे विमानन मंत्रालय ने भी हरी झंडी दिखा दी है.

हम आपको बता दें कि घरेलू विमानन के इतिहास में पहली बार गरमी के दौरान इतनी ज्यादा उड़ानें उपलब्ध होंगी. ध्यान रहे कि विमानन कम्पनियो के लिए गरमी का मतलब मार्च के आखिरी रविवार से लेकर अक्टूबर के आखिरी शनिवार तक का समय होता है. तकनीकी भाषा में इसे Summer Schedule कहते हैं. इस तरह 2016 का Summer Schedule 27 मार्च को शुरु होगा और 29 अक्टूबर को खत्म होगा.

विमानन बाजार के रेग्युलेटर, नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि कुल 11 घरेलू एयरलाइंस ने गरमी के लिए हर हफ्ते 14 हजार 8 सौ 69 उड़ानो का प्रस्ताव रखा. ये बीते साल की गरमियों के 12 हजार 5 सौ 33 उड़ान के मुकाबले साढ़े 18 फीसदी से भी ज्यादा है. देश में इस समय घरेलू रास्तों पर एयर इंडिया, एय़र इंडिया एक्सप्रेस, जेट एय़रवेज, जेटलाइट, इंडिगो, स्पाइसजेट, गो, एय़र एशिया, विस्तारा, एय़र कोस्टा, एयर पिगेसस और ट्रूजेट उड़ानें मुहैया कराती हैं.

उक्त अधिकारी ने ये भी बताया कि उड़ानों की कुल संख्या भले ही रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गयी है, लेकिन पहले के मुकाबले कम शहरों के लिए ही उड़ान उपलब्ध होगी. “2015 में घरेलू एय़रलाइंस 81 हवाई अड्डों के लिए सेवा मुहैया करा रही थी, जबकि इस साल ये संख्या 77 रहेगी,” उसने कहा. जिन हवाईअड्डों के लिए एयरलाइन कम्पनियों ने अपनी सेवा बंद कर दी है, उनमें भावनगर (गुजरात), पोरबंदर (गुजरात), नांदेड़ (महाराष्ट्र) और मैसूर (कर्नाटक) शामिल है.

उड़ानों की संख्या बढ़ाने में सबसे आगे विस्तारा है जबकि दूसरे स्थान पर एय़र एशिया है. वहीं सरकारी विमानन कम्पनी एयर इंडिया के साथ क्षेत्रीय एयरलाइन एयर कोस्टा ने उड़ानो की संख्या घटा दी है. अधिकारी का कहना था कि किसी भी शहर के लिए उड़ान शुरु करना या बंद करना एय़रलाइन कम्पनियों का व्यावसायिक फैसला होता है, इसमें सरकार कोई दखल नहीं देती. हां, उड़ान शुरु करने या संख्या बढ़ाने के लिए डीजीसीए से अनुमति लेनी होती है जबकि बंद करने की सूचना निश्चत समय पहले देनी जरुरी है.

 

किसकी कितनी उड़ानें

(हर हफ्ते)

एयरलाइन 2016 समर शेडयूल 2016 समर शेडयूल फेरबदल (फीसदी में)
विस्तारा 334 176 89.8
एयर एशिया 280 168 66.7
स्पाइसजेट 1934 1520 27.2
इंडिगो 5323 4291 24.1
एलायंस एयर 234 195 20
जेटलाइट 519 463 12.1
गो एय़र 1011 918 10.1
जेट एय़रवेज 3100 2836 9.3
एयर पिगेसस 120
ट्रू जेट 112
एयर इंडिया 1692 1718 -1.5
एय़र कोस्टा 210 248 -15.3
कुल

 

बढ़ता हवाई यातायात

इस बीच, फरवरी के महीने में घरेलू रास्तों पर हवाई यात्रियों की संख्या 74 लाख 76 हजार पर पहुंच गयी. ये बीते साल के फरवरी के मुकाबले सवा 24 फीसदी ज्यादा है. समझा जाता है कि हवाई इंधन के दाम में कमी की वजह से किराये में कुछ कमी देखी गयी जिससे हवाई यात्रियों की गिनती बढ़ी. खास बात ये भी है कि हर उड़ान में औसतन 80 फीसदी के करीब सीटें भरी रही. मतलब ये कि एय़रलाइन कम्पनियों की कमाई अच्छी हुई. ध्यान रहे कि तमाम निजी एय़रलाइन के साथ-साथ एय़र इंडिया को भी इस कारोबारीर साल में फायदा होने की उम्मीद है.

 

 

 

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Airlines to operate flights per week in summer schedule
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: airlines summer schedule
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017