जेटली ने किया देश को अपमानित, नहीं पड़ा पर्यटन पर असर: अखिलेश

By: | Last Updated: Saturday, 23 August 2014 4:42 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा दिल्ली के ‘निर्भया’ कांड को कथित तौर पर छोटा बताये जाने को देश को अपमानित करने वाला बताते हुए आज कहा कि उस वारदात से पर्यटन पर कोई असर नहीं पड़ा.

 

मुख्यमंत्री ने बदायूं में दो लड़कियों की हत्या की सीबीआई जांच के दायरे में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) द्वारा पीड़ित परिवार की मदद करने तथा परिजन के राजनीतिक सम्पर्को को भी शामिल किये जाने की मांग की.

 

अखिलेश ने एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा, ‘‘देश के एक बड़े मंत्री ने अभी कुछ कहा है – दिल्ली के निर्भया कांड को छोटा बताया है. उन्होंने देश को अपमानित किया है.’’ उन्होंने जेटली पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘एक मंत्री ने कहा कि उस घटना से देश के पर्यटन पर असर पड़ा है. लेकिन आगरा में पर्यटन पर तो कोई फर्क नहीं पड़ा.’’ अखिलेश ने तंज भरे अंदाज में कहा ‘‘लोग समझते हैं कि ताजमहल भारत में है, उत्तर प्रदेश में नहीं.’’

 

बाद में, मुख्यमंत्री ने एसपी राज्य मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में बदायूं में गत मई माह में दो लड़कियों की कथित तौर पर बलात्कार के बाद हत्या के मामले में बीएसपी द्वारा पीड़ितों को धन दिये जाने का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘एक पार्टी तो बदायूं कांड के पीड़ितों के पास पैसा लेकर पहुंच गयी. हो सकता है कि बाद में और भी धन दिया हो. सीबीआई इसकी भी जांच करे. साथ ही यह भी जांच हो कि उनके किन राजनीतिज्ञों से सम्पर्क रहे.’’

 

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में जितने भी मामले हैं, उनमें राजनीति की जा रही है. अखिलेश ने बदायूं कांड को लेकर मीडिया की भूमिका की कड़ी आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मीडिया के एक वर्ग ने हमारी सरकार को अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र तक मशहूर कर दिया लेकिन उसका कारण गलत था.’’

 

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘कई बार दो लोगों के बीच परिचय के बाद घटना हो जाती है तो इसमें सरकार क्या करे. क्या हम मोहब्बत और बातचीत पर पाबंदी लगा दें.’’ उन्होंने मोहनलालगंज में एक महिला के साथ हुई दरिंदगी के मामले में भी मीडिया के एक वर्ग को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा, ‘‘उस महिला के बच्चों को जानबूझकर धरने पर बैठा दिया गया. क्या सचाई आप नहीं जानते थे.’’

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने विकास के अनेक क्रांतिकारी कार्य किये हैं लेकिन उन पर कोई बात नहीं करता. कुछ लोग जानबूझकर चाहते हैं कि सरकार की बदनामी होती रहे.

 

अखिलेश ने मीडिया को नसीहत देते हुए कहा, ‘‘आप क्या दिखा रहे हैं उससे क्या संदेश जा रहा है इस पर सोचना पड़ेगा. संवाद होना चाहिये लेकिन जरूरत से ज्यादा संवाद भी नुकसान देता है. समाज में जो बुराई आयी है, उनके लिये सबको मिलकर लड़ना होगा.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: akhilesh yadav
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017