all you need to know about all congress presidents Tenure जानिए- बीते 39 साल में 32 साल से कांग्रेस पर नेहरू-गांधी परिवार का ही कब्जा है

जानिए- बीते 39 सालों में 32 साल से कांग्रेस पर नेहरू-गांधी परिवार का ही कब्जा है

पांचवीं पीढ़ी के छठे शख्स के हाथों में कांग्रेस की कमान जाती दिख रही है. राहुल गांधी के लिए अध्यक्ष पद का मिलना अब महज़ औपचारिक घोषणा बाकी रह गई है.

By: | Updated: 04 Dec 2017 12:23 PM
all you need to know about all congress presidents Tenure
नई दिल्ली: कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए अब तक जो गहमागहमी दिखी है उससे साफ है कि राहुल गांधी के लिए मैदान खाली और उन्हें कोई टक्कर देने वाला नहीं है. अब वो 132 साल पुरानी पार्टी के निर्विरोध पार्टी अध्यक्ष बनने जा रहे हैं. यानि बीते 100 सालों में देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी की कमान पीढ़ी दर पीढ़ी होते हुए नेहरू-गांधी परिवार की पांचवीं पीढ़ी को सौंपी जा रही है. अब तक नेहरू-गांधी परिवार ने कांग्रेस को पांच पार्टी अध्यक्ष दिए हैं. राहुल के साथ ही ये संख्या छह हो जाएगी.

1919 में मोतीलाल नेहरू बने थे पार्टी अध्यक्ष

नेहरू-गांधी परिवार से सबसे पहले मोतीलाल नेहरू पहली बार 1919 में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष बने थे. उसके बाद उनके बड़े बेटे और देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू 1929 में पहली बार कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष बने. उसके बाद तीसरी पीढ़ी में इंदिरा गांधी ने पहली बार 1959 में कांग्रेस की कमान संभाली. उसके बाद इंदिरा 1978 से 1984 तक लगातार पार्टी की अध्यक्ष रहीं. उसके बाद चौथी पीढ़ी में राजीव गांधी और सोनिया गांधी दोनों पार्टी के अध्यक्ष रहे.

1998 में सोनिया गांधी बनी थीं पार्टी की अध्यक्ष

राजीव गांधी की मां इंदिरा गांधी के निधन के बाद 1985 में पार्टी अध्यक्ष बने और लगातार ताउम्र पार्टी अध्यक्ष रहे. 1991 में राजीव गांधी की एक चुनावी रैली में हत्या कर दी गई. राजीव के निधन के बाद पार्टी अध्यक्ष की कमान सात साल तक परिवार से बाहर पीवी नरसिम्हा राव और सीताराम केसरी से होते हुए 1998 में एक बार फिर नेहरू गांधी की चौथी पीढ़ी के हाथों में सौंपी गई. सोनिया गांधी पार्टी की अध्यक्ष बनीं.

19 सालों से अध्यक्ष पद पर विराजमान हैं सोनिया

नेहरू-गांधी परिवार में सबसे लंबा कार्यकाल सोनिया गांधी का ही है. वो लागातार 19 सालों से पार्टी की अध्यक्ष पद पर विराजमान हैं. अब पांचवीं पीढ़ी के छठे शख्स के हाथों में कांग्रेस की कमान जाती दिख रही है. राहुल गांधी के लिए अध्यक्ष पद का मिलना अब महज़ औपचारिक घोषणा बाकी रह गई है.

नेहरू-गांधी परिवार का पार्टी का कब्जा

अगर 1978 से कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर कब्जे का हिसाब जोड़ा जाए तो कांग्रेस पार्टी पर नेहरू गांधी परिवार का ही एकक्षत्र राज है. बीते 39 साल में 32 साल से ये परिवार का पार्टी अध्यक्ष पद पर कब्जा है.

राहुल गांधी के बारे में यहां जानें-

अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी की राह नहीं होगी आसान, सामने होंगी ये चुनौतियां

IN PICS: कांग्रेस अध्यक्ष बनने से पहले पढ़ें राहुल गांधी का पूरा रिपोर्ट कार्ड

13 साल पहले राष्ट्रीय राजनीति में आए थे राहुल, वक्त के साथ बढ़ती गईं जिम्मेदारियां

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: all you need to know about all congress presidents Tenure
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story सूरत से कांग्रेस के उम्मीदवार ने लगाए 'नमो वाईफाई' से EVM हैक करने के आरोप