Allahabad Nagar Nigam chunav Final Results of mayors and parshad UP Nigam, Vote share UP Nikay 2017 in Hindi UP Civic Elections Results 2017

इलाहाबाद नगर निगम चुनाव फाइनल रिजल्ट : बीजेपी को मिली जीत

इलाहाबाद नगर निगम चुनाव फाइनल रिजल्ट : इस सीट पर बीजेपी उम्मीदवार अभिलाषा गुप्ता को जीत हासिल हुई है. इस सीट पर बीएसपी उम्मीदवार ने उन्हें कड़ी टक्कर दी है.

By: | Updated: 01 Dec 2017 07:58 PM
Allahabad Nagar Nigam chunav Final Results of mayors and parshad UP Nigam, Vote share UP Nikay 2017 in Hindi UP Civic Elections Results 2017
लखनऊ/नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ अपनी पहली परीक्षा में पास होते दिख रहे है. सूबे 16 नगर निगम, 198 नगर पालिका परिषद और 438 नगर पंचायत के चुनावों में बीजेपी अपनी पिछली जीत को दोहरा रही है. बीएसपी भी इस चुनाव में उलटफेर करती दिख रही है. नगर निगम चुनाव में बीजेपी को 14 सीटों पर जीत मिली है वहीं बीएसपी दो सीटों पर कब्जा जमाने में कामयाब रही है.

जानिए- इलाहाबाद नगर निगम के आखिरी नतीजे:  इस सीट पर बीजेपी उम्मीदवार अभिलाषा गुप्ता को जीत हासिल हुई है. इस सीट पर बीएसपी उम्मीदवार ने उन्हें कड़ी टक्कर दी है.

इलाहाबाद मेयर चुनाव के नतीजे:

जीत- बीजेपी

कुल वार्ड- 80
बीजेपी- 21
एसपी- 24
बीएसपी-03
कांग्रेस-14
अन्य-20

बता दें कि इलाहाबाद नगर निगम में कुल 80 वार्ड हैं. 2012 में बीएसपी समर्थित अभिलाषा गुप्ता यहां मेयर बनीं थीं लेकिन इस बार वे बीजेपी की उम्मीदवार हैं. ये इलाका मंत्री नंद गोपाल नंदी, सिद्धार्थ नाथ सिंह का माना जाता है.

विधानसभा की 3 सीटें नगर निगम क्षेत्र में आती हैं- इलाहाबाद उत्तर, इलाहाबाद दक्षिण और इलाहाबाद पश्चिम. तीनों विधानसभा सीटों पर बीजेपी का कब्जा है. इलाहाबाद की पहचान इलाहाबाद यूनिवर्सिटी और इलाहाबाद हाईकोर्ट से होती है. इस जिले में 9 नगर ​​पंचायत हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Allahabad Nagar Nigam chunav Final Results of mayors and parshad UP Nigam, Vote share UP Nikay 2017 in Hindi UP Civic Elections Results 2017
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मनमोहन के वार पर सरकार का पलटवार, राष्ट्रीय नीति के उल्लंघन के लिए माफी मांगे