शिखर सम्मेलन : अमित शाह ने कहा, 'मोदी सरकार ने सियासत से परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण को खत्म किया'

शिखर सम्मेलन : अमित शाह ने कहा, 'मोदी सरकार ने सियासत से परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण को खत्म किया'

By: | Updated: 19 May 2017 09:39 PM

नई दिल्ली : एबीपी न्यूज़ के खास कार्यक्रम ‘शिखर सम्मेलन’ में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि 2019 में हम मोदी जी के नेतृत्व में एक बार फिर जीत कर आएंगे. मोदी सरकार के तीन साल के कामकाज का पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा, 'परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण को भारतीय राजनीति से खत्म करने का काम मोदी सरकार ने किया है.'


उन्होंने कहा, 'मोदी सरकार ने देश को बदलने का काम किया है, देश में 2018 तक एक गांव भी नहीं रहेगा जहां बिजली नहीं होगी. वन रैंक वन पेंशन' का काम मोदी सरकार ने एक झटके में पूरा कर दिया. राजनीतिक पार्टियों की नगद चंदा राशि को 2000 रुपये करके देश की राजनीति से कालाधन घटाने का काम किया गया है.'


उन्होंने आगे कहा, 'मोदी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक कर सेना के अपमान का पाकिस्तान से बदला लिया. 26 मई को तीन साल पूरे होंगे, लेकिन हमारे विरोधी भी हम पर भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगा सकते. नोटबंदी से सारा कालाधन बैंकों में आया. 3 साल में 4 करोड़ घरों में शौचालय पहुंचाया है. ये एक बहुत बड़ी उपलब्धि है.'


बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, 'मोदी सरकार की फसल बीमा योजना किसानों के सम्पूर्ण हित वाली योजना है. शास्त्री जी के कहने पर लोगों ने अन्न छोड़ा था वहीं मोदी जी के कहने पर देशवासियों ने गैस की सब्सिडी छोड़ी है. मोदी के पीएम बनने के बाद देश के लगभग हर राज्य में बीजेपी की स्थिति मजबूत हुई है. तीन सालों में केंद्र की सरकार ने जो काम किया उससे उत्तर प्रदेश के मतदाता की उम्मीद बढ़ी इसलिए बीजेपी को बहुमत दिया.'


Amit 2


तीन तलाक पर बोलते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, 'तीन तलाक़ को राजनीतिक नहीं बनाना चाहिए. बीजेपी मानती है कि ये मुस्लिम महिलाओं के साथ अन्याय है. तीन तलाक़ संविधान के ख़िलाफ़ है. EVM मुद्दे पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि ईवीएम के मुद्दे पर इलेक्शन कमीशन ने राजनीतिक दलों से बात की है, जिसे भी शिकायत है वह ईसी से बात करे.'


राम मंदिर पर अमित शाह ने कहा, 'राम मंदिर बीजेपी के घोषणापत्र में है. हम संवैधानिक या आपसी सहमति से मंदिर बनाएंगे. गोरक्षा पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि बहुत से कानून का उल्लंघन होता है और गोरक्षा पर ही ऐसा हो रहा है.'


शाह ने कहा, 'अन्य दलों के लिए राजनीति चुनाव जीतने के लिए. बीजेपी एक विचार और जनता की आकांक्षा को पूरा करने के लिए लगी है. पार्टी अध्यक्ष के नाते मेरा दायित्व है की मोदी जी के अच्छे काम को लेकर गांव-गांव जाऊं, लोगों को बताऊं.' सर्जिकल स्ट्राइक पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए हमने ये संदेश दिया कि हम अपने जवानों की सुरक्षा के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं.


कश्मीर मुद्दे पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा, 'मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि कश्मीर की समस्या का हम जल्द समाधान करेंगे. पत्थरबाज़ी का प्रोग्राम कश्मीर के सिर्फ साढ़े 3 जिलों में सिमटा हुआ है. मैं देश की जनता को आश्वस्त करना चाहता हूँ की हम बहुत जल्द कश्मीर की समस्या का हल करेंगे.'


Amit 3


केंद्र की सरकारी की उपलब्धियों को गिनवाते हुए अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार स्टार्टअप, मुद्रा योजन, स्किल इंडिया के तहत नौकरियां दे रही है. जहां-जहां बीजेपी की सरकार है वहां कृषि विकास दर 10 फीसदी से कम नहीं रहा है. कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस का 10 साल के शासन के बाद हमसे सरकार से सवाल पूछने का हक़ नहीं है. सवाल करने का हक़ देश की जनता को है.


नोटबंदी पर बोलते हुए उन्होंने कहा, 'नोटबंदी की वजह से 90 लाख लोगों ने पैन कार्ड बनवाया. नोटबंदी से कितना पैसा आया ये RBI बताएगा, लेकिन इससे अर्थव्यवस्था का फायदा हुआ है.' कुछ महीनों बाद होने वाले राष्ट्रपति चुनाव पर अमित शाह ने कहा कि हम एनडीए के सभी दलों से बात करेंगे और कोशिश करेंगे कि देश को एक अच्छा राष्ट्रपति मिले.


दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर बोलते हुए शाह ने कहा, 'अपनी पार्टी को खत्म करने के लिए केजरीवाल बहुत ही कुशल हैं, बदला लेने का सवाल ही नहीं है.' नीतीश कुमार के दुबारा साथ आने के सवाल पर शाह ने कहा कि नीतीश कुमार से हम सम्पर्क में नहीं हैं, ना ही उधर से कभी कोई संपर्क किया गया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पीएम मोदी बोले- ‘कांग्रेस संस्कृति से मुक्ति पाने से है कांग्रेस मुक्त भारत का मतलब’