Anand Mahindra Says Will unhesitatingly volunteer to execute Surat rapists सूरत रेप केस पर क्या बोले आनंद महिंद्रा

सूरत रेप केस: आहत आनंद महिंद्रा ने कहा- दोषियों को फांसी देने के लिए मैं जल्लाद बनने को तैयार

गुजरात के सूरत में हुए रेप से जुड़ी एक खबर साझा करते हुए महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर लिखा कि वैसे तो जल्लाद का काम कोई नहीं करना चाहता है, लेकिन बच्चियों के बलात्कारियों और हत्यारों की सजा-ए-मौत के लिए मैं ये काम करने को तैयार हूं.

By: | Updated: 16 Apr 2018 11:06 AM
Anand Mahindra Says Will unhesitatingly volunteer to execute Kathua Unnao Surat rapists

नई दिल्ली: कठुआ, उन्नाव, सूरत में हुए रेप की वारदातों के बाद लोग आग-बबुला हो रहे हैं. देशभर के कई हिस्सों में लोग सड़कों पर उतर कर अपना आक्रोश जता रहे हैं. सोशल मीडिया यूजर्स भी पीड़ितों के इंसाफ के लिए आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी की तख्ती तक पहुंचाने की मांग कर रहे हैं. वहीं महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने आरोपियों को फांसी देने के लिए 'जल्लाद' तक बनने की बात कही है.


उन्होंने गुजरात के सूरत में हुए रेप से जुड़ी एक खबर साझा करते हुए ट्विटर पर लिखा, ''वैसे तो जल्लाद का काम कोई नहीं करना चाहता है, लेकिन बच्चियों के बलात्कारियों और हत्यारों की सजा-ए-मौत के लिए मैं ये काम करने को तैयार हूं. मैं शांत रहने की कोशिश करता हूं, लेकिन जब देश में ऐसी घटनाएं होती हैं तो मेरा खून खौल उठता है.''





आपको बता दें कि पिछले दिनों गुजरात के सूरत के पांडेसरा इलाके में 11 साल की बच्ची की लाश मिलने से पुलिस महकमे में हडकंप मच गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि उसके शरीर पर चोट के 80 से अधिक निशान हैं और 8 दिन तक उसके साथ रेप भी किया गया. इस मामले में पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने में अब तक असफल रही है. पुलिस पर लगातार सवाल उठ रहे हैं.


कठुआ केस: सुनवाई से पहले पीड़ित पक्ष की वकील ने कहा- मेरी रेप और हत्या की जा सकती है

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Anand Mahindra Says Will unhesitatingly volunteer to execute Kathua Unnao Surat rapists
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story A To Z: क्या है महाभियोग और जज को कैसे पद से हटाया जा सकता है?