याकूब की फांसी पर राजनीति, ओवैसी ने किया विरोध

By: | Last Updated: Wednesday, 29 July 2015 4:40 PM
Asaduddin Owaisi on yakub memon

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने याकूब की फांसी पर आखिरी मुहर लगा दी, फैसले के बाद देश की दोनों बड़ी पार्टियां कांग्रेस और बीजेपी कह रही हैं कि मुंबई को इंसाफ मिला लेकिन एमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी विरोध में खड़े हैं और दंगों की याद दिला रहे हैं.

 

ओवैसी ने कहा कि अगर 250 लोग मारे गए अगर इससे क्लोजर मिलता है तो वो 900 लोग जो 92 दिसंबर और 93 जनवरी में मारे गए. उनसे इंसाफ का क्या होगा?

 

याकूब की फांसी पर फैसले के बाद एमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी बाबरी विध्वंस के बाद हुए दंगों की याद दिला रहे हैं कि इनके पीड़ितों को कब इंसाफ मिलेगा.

 

ओवैसी ने कहा कि जिन्होंने बाबरी शहीद किया आखिर इतने बरस क्यों हो गए वो इख्तदार में आ गए.

 

ओवैसी कह चुके हैं कि याकूब को मुस्लिम होने की वजह से फांसी दी जा रही है. अब फांसी का विरोध कर रहे ओवैसी ने सवाल पूछा है कि आखिर गुजरात दंगों के गुनहगारों के लिए सरकार ने फांसी क्यों नहीं मांगी?

 

ओवैसी ने कहा कि बाबू माया के लिए फांसी क्यों नहीं मांगी? ओवैसी ने दलील दी कि अगर राजीव गांधी और बेअंत सिंह के हत्यारों को फांसी नहीं दी गई तो मुंबई धमाके के सबूत देने वाले याकूब को फांसी क्यों दी जा रही है? 

 

ओवैसी ने कहा कि बेअंत के कातिल को अकाली ने ताईद की. राजीव के कातिलों की ताईद की.

 

कांग्रेस ने याकूब की फांसी के फैसले का स्वागत किया है लेकिन मोदी सरकार को चुनौती दी है कि मुंबई धमाकों के असली गुनहगार टाइगर मेमन को सजा दिलाई जाए.

 

याकूब का डेथ वारंट जारी होने के बाद विरोध शुरू हो गया था लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब फांसी पर मुहर लग चुकी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Asaduddin Owaisi on yakub memon
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Asaduddin Owaisi Yakub Memon
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017