Asaduddin Owaisi Says Forces behind Mahatma Gandhis assassination are instilling fear today

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- महात्मा गांधी की हत्या करने वाले आज देश में खौफ पैदा कर रहे हैं

एमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुल्क में खौफ का माहौल पैदा किया जा रहा है. इस माहौल को पैदा करने में उन लोगों का रोल है, जिन्होंने महात्मा गांधी को गोली मारा, जिन्होंने हिंदुस्तान की आजादी में हिस्सा नहीं लिया बल्कि अंग्रेजों का साथ दिया.

By: | Updated: 08 Apr 2018 04:02 PM
Asaduddin Owaisi Says Forces behind Mahatma Gandhis assassination are instilling fear today

नई दिल्ली: मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पर जमकर निशाना साधा. साथ ही उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी को गोली मारने वाले आज मुल्क में खौफ का माहौल पैदा कर रहे हैं.


ओवैसी ने कहा, ''मुल्क में खौफ का माहौल पैदा किया जा रहा है. इस माहौल को पैदा करने में उन लोगों, उन ताकतों का पूरा रोल है, जिन्होंने महात्मा गांधी को गोली मारा, जिन्होंने हिंदुस्तान की आजादी में हिस्सा नहीं लिया बल्कि अंग्रेजों का साथ दिया.'' आपको बता दें कि नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को गांधीजी की हत्या कर दी थी.





उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुस्लिम महिलाओं की सुरक्षा को लेकर किये गये वादों को झूठा करार दिया. साथ ही पंजाब नेशनल बैंक को करोड़ों का चूना लगाने वाले नीरव मोदी की फरारी को लेकर भी पीएम मोदी की आलोचना की.


जमात-ए-उलेमा हिंद के एक कार्यक्रम में हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने मुस्लिम-दलित एकता पर जोर दिया. उन्होंने कहा, ''हर 15 मिनट पर देश में दलितों पर अत्याचार होता है, उन्हें पीटा जाता है. दलित के खिलाफ क्राइम में 66 प्रतिशत तक इजाफा हुआ है. हम दलित के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं. उनके खिलाफ सालों से अत्याचार हो रहा है. आज दलित मुस्लिमों की तरफ देख रहे हैं.''

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Asaduddin Owaisi Says Forces behind Mahatma Gandhis assassination are instilling fear today
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story 76 % लोगों ने कहा नाबालिग से रेप पर हो मौत की सजा: सर्वे