राज ठाकरे से अधिक ओवैसी का महाराष्ट्र में 'जलवा'!

By: | Last Updated: Sunday, 19 October 2014 12:13 PM
Asaduddin Owaisi’s AIMIM

नई दिल्ली : महाराष्ट्र की सियासत में कई इतिहास बने हैं. पहली बार बीजेपी को करीब 122 सीटें मिली हैं. बीजेपी की बल्ले-बल्ले के बीच हैदराबाद की क्षेत्रीय पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) की भी अच्छे दिन आ गए हैं.

 

उत्तर भारतीयों के खिलाफ हर वक्त बोलने वाले राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना को महाराष्ट्र महाराष्ट्र विधानसभा में बड़ा झटका लगा है. राज ठाकरे बड़ी उम्मीदों के साथ मैदान में उतरे थे. बीजेपी-शिवसेना और कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन के टूटने से मनसे को काफी संख्या में सीटें जीतने की उम्मीदें थीं, लेकिन मनसे को बड़ा झटका लगा है. आलम यह है कि अभी तक के रूझान में एमएनएस को महज एक सीट मिलती दिख रही है. 

 

एआईएमआईएम ने महाराष्ट्र में 3 सीटें जीती 

राज ठाकरे से अधिक तो असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने सीटें हथिया ली हैं. महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने तीन सीटें जीत ली हैं. मुंबई के भायखला से एमआईएम के वारिश युसूफ पठान ने 25,314 मत हासिल कर जीत दर्ज की. उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के मधुकर जी. चव्हाण तथा अखिल भारतीय सेना की गीता गवली को पटखनी दी.

 

औरंगाबाद मध्य सीट से एआईएमआईएम के इम्तियाज जलीक ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी शिवसेना के प्रदीप जायसवाल को 30 हजार मतों से पराजित किया. औरंगाबाद पूर्व सीट पर एआईएमआईएम के अब्दुल गफ्फार कादरी ने भाजपा के अतुल मोरे को 15 हजार से अधिक मतों से पराजित किया. असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली पार्टी ने राज्य विधानसभा चुनाव में 24 उम्मीदवारों को उतारा था.

 

जीत के बाद ओवैसी के समर्थकों ने जमकर जश्न मनाया.