रेप केस मामले में आसाराम के खिलाफ दलीलें पूरी, कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा | Asaram Rape case: Court reserves order for April 25

रेप केस मामले में आसाराम के खिलाफ दलीलें पूरी, कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

एक किशोरी ने आसाराम पर जोधपुर के पास के मनई गांव स्थित अपने आश्रम में यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. लड़की उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की रहने वाली है. किशोरी एक छात्रा थी जो कि आश्रम में रह रही थी.

By: | Updated: 07 Apr 2018 07:32 PM
Asaram Rape case: Court reserves order for April 25

जोधपुर: जोधपुर की एक विशेष अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति कोर्ट ने आसाराम के खिलाफ 2012 के रेप के एक मामले में अंतिम दलीलें पूरी होने के बाद आज फैसला 25 अप्रैल के लिए सुरक्षित रख लिया. पीड़िता के वकील पीसी सोलंकी ने कहा कि न्यायाधीश मधुसूदन शर्मा ने पांच महीने तक अभियोजन और बचाव पक्ष के वकीलों की दलीलें सुनी. अंतिम दलीलें आज पूरी हो गई. उन्होंने कहा कि कोर्ट ने 25 अप्रैल के लिए अपना आदेश सुरक्षित रख लिया है.


एक किशोरी ने आसाराम पर जोधपुर के पास के मनई गांव स्थित अपने आश्रम में यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. लड़की उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की रहने वाली है. किशोरी एक छात्रा थी जो कि आश्रम में रह रही थी.


वकील ने कहा कि आसाराम 31 अगस्त 2013 से पोक्सो कानून की संबंधित धाराओं और अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) कानून के तहत जेल में है. वकील ने कहा कि दोषी ठहराये जाने पर आसाराम को अधिकतम 10 साल की सजा हो सकती है. वह गुजरात में भी रेप के एक मामले का सामना कर रहा है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Asaram Rape case: Court reserves order for April 25
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश राजिन्दर सच्चर का निधन, 'सच्चर कमेटी' के रहे थे अध्यक्ष