आजम खान बोले, बाबरी मस्जिद गिराने में सब शामिल थे, फौज ने भी नहीं रोका

By: | Last Updated: Friday, 25 December 2015 12:04 PM
Azam Khan alleged allegation on army over Babri Masjid demolition

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के बड़े नेता और यूपी के शहरी विकास मंत्री आजम खान ने एक बार फिर से देश की फौज को लेकर विवादित बयान दिया है. आजम खान ने कहा है कि बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराने के वक्त देश में सब लोग एक हो गए थे. मस्जिद का ढांचा गिराने वालों को फौज ने भी नहीं रोका था.

उनका कहना था कि अब मंदिर बनाने के वक्त भी सब लोग एक हो जाएंगे.

दरअसल मामला ये है कि गुरुवार को जब आजम खान से पूछा गया था कि कहा जा रहा कि कोर्ट में मामला नहीं सुलझने पर राम मंदिर के लिए संसद में कानून बनाया जाएगा और इसे लेकर मांग भी की जा रही है तो उन्होंने कहा, ” जब बाबरी मस्जिद गिराई गई थी, तब 6 दिसंबर, 1992 को संसद से कोई बिल पास नहीं हुआ था. उस वक़्त के सीएम ने हलफनामा भी दिया था, कि ढांचे से कोई छेड़छाड़ नहीं होगी, लेकिन मस्जिद गिरा दी गई.”

इसके साथ ही आजम खान ने आरोप लगाया कि फौज ने भी कोई कार्रवाई नहीं की.

आजम ने ये बयान देकर देश की सेना की निष्पक्षता पर सवाल उठाए हैं. इससे पहले भी आजम देश की सेना को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं. आजम खान ने कहा था कि करगिल की पहाड़ियों से पाकिस्तान की सेना को खदेड़ने वाला कोई हिंदू नहीं, बल्कि मुसलमान जवान थे.

आपको बता दें कि 6 दिसंबर, 1992 को भारी सुरक्षाबलों की मौजूदगी में कारसेवकों की बेकाबू भीड़ ने बाबरी मस्जिद का ढ़ांचा गिरा दिया था, जिसके बाद उत्तर प्रदेश की कल्याण सिंह की सरकार को बर्खास्त कर दिया गया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Azam Khan alleged allegation on army over Babri Masjid demolition
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Army azam khan babri masjid Ram temple
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017