अपनी इस गलती पर झेंप जाएंगे रामदेव

By: | Last Updated: Saturday, 15 August 2015 12:42 PM
baba ramdev commits two spellings mistakes while talking about own language

नई दिल्ली: आज़ादी का जोश, जुनून और खुमार चारों ओर छाया हुआ है. ऐसे में लोग इस मौके का जश्न अपने तरीके से मना रहे हैं. कोई तिरंगा फरहा रहा है तो कोई सेल्फी खींच रहा है. बाबा रामदेव ऐसे जश्न के मौके पर पीछे कैसे रह सकते हैं. सो उन्होंने ट्वीट करके इस मौके पर अपनी राय जाहिर की. अपनी राय व्यक्त करते हुए उन्होंने दनादन चार ट्विट्स किए जिनमें उन्होंने बताया कि स्वतंत्रता का मतलब है अपना तंत्र, लेकिन आज भी देश में विदेशी तंत्र व व्यवस्थाएं चल रहीं हैं.

 

इसी ट्वीट के अगले हिस्से में वे लिखते हैं, “ना ‘अपनी भाषा है’, ना न्याय व्यवस्था, ना शिक्षा, ना चिकित्सा, ना कृषि ना कानून. जबकि भारत इन सबका जनक रहा है.” इस ट्वीट तक तो लगभग सबकुछ ठीक रहा पर इसी ट्वीट में बाबा वे जिन मुद्दों को उठाया उनमें शामिल एक मुद्दा ‘भाषा’ पर बाबा खुद ही गड़बड़ कर बैठे. बताते चलें कि हिंदी भारत की राष्ट्रभाषा यानि नेशनल लैंग्वेज ना होकर राजभाषा यानि ऑफिशियल लैंग्वेज है. शायद बाबा इसी ओर इशारा कर रहे थे कि देश की आज़ादी के इतने सालों बाद भी हिंदी को राष्ट्रभाषा नहीं बनाया जा सका.

 

इस राष्ट्रभक्ति से भरे विचार के बाद आया बाबा का अगला ट्वीट जिसमें थोड़ी गड़बड़ हो गई. इस ट्वीट में भाषा (हिंदी) को लेकर चिंता जाहिर कर रहे बाबा ने दो शब्द गलत लिख डाले. उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा, “1947 में राजनैतिक आज़ादी तो मिल गयी, पर आर्थिक व ‘व्यचारिक’ आज़ादी के लिए हम आज भी ‘संघर्ष रथ’ हैं.” बाबा के विचार तो बड़े अच्छे हैं लेकिन इसी वाक्य में उन्होंने दो शब्द ‘व्यचारिक’ और ‘संघर्ष रथ’ लिखने में गलती कर दी. दरअसल ‘व्यचारिक’ नहीं, वैचारिक होता है और ‘संघर्ष रथ’ नहीं बल्कि संघर्षरत होता है.

 

अब आप ही बताएं कि ये गलतियां किसी और से हो जाए तो उसे जाने दिया जा सकता है लेकिन अगर ऐसी गलती बाबा रामदेव तब कर बैठें जब वे खुद भाषा का मुद्दा उठा रहे हों तो कैसे चलेगा. आप गौर करेंगे तो पाएंगे कि अपनी भाषा की बात करने वाले बाबा के ज्यादातर ट्विट्स अंग्रेजी में ही रहते हैं. इस मामले पर बाबा ने एक बार सफाई देते हुए कहा था कि ट्विटर पर ज्यादातर लोग हिंदी कम समझते हैं सो वे अंग्रेजी का इस्तेमाल करते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: baba ramdev commits two spellings mistakes while talking about own language
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017