बड़गाम में दो युवकों की हत्या पर सेना ने मानी अपनी गलती

By: | Last Updated: Friday, 7 November 2014 10:59 AM

नई दिल्ली: भारतीय सेना ने आज माना है कि बडगाम में दो युवकों की हत्या के मामले में सैनिकों से गलती हुई. सेना ने माना कि मारुति कार की गलत पहचान के कारण फायरिंग की गई.

 

आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने कहा, ‘हमें सफेद कार में आतंकवादियों के होने की खबर मिली थी. जाहिर है इस मामले में पहचानने में गलती हुई. हम मौत की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं.’

 

हुड्डा ने वादा किया कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी और अगर कोई नियम तोड़ा गया है तो कार्रवाई होगी.

 

इस घटना में कार में सवार चार युवकों पर गोलियां चलाई गई थीं जिनमें से दो की मौत हो गई थी और दो गंभीर रूप से घायल हैं. मरने वाले दोनों टीनएजर थे और उनमें से एक 14 साल का था.

 

यह घटना बडगाम के छत्रगाम में हुई जहां राष्ट्रीय राइफल्स की यूनिट तैनात थी. यूनिट ने कहा था कि उन्होंने खुफिया जानकारी के आधार पर कार्रवाई की थी. जवानों का कहना था कि कार इशारा करने के बावजूद नहीं रुकी, इसलिए फायरिंग की गई. लेकिन युवकों के रिश्तेदारों का आरोप है कि जवानों ने बिना चेतावनी दिए गोलियां चला दीं.

 

इस यूनिट को छत्रगाम से हटा लिया गया है. घाटी में इस घटना के बाद से काफी गुस्सा है और लोग प्रदर्शन कर रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: bagdaam murder case:
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017