यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को अस्पताल से मिली छुट्टी, वापस भेजे गएं बांदा जेल । Bahubali leader mukhtar ansari has distarched from hospital

यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को अस्पताल से मिली छुट्टी, वापस भेजे गए जेल

मुख्तार अंसारी को पिछले दिनों दिल का दौरा पड़ने पर जेल से पहले बांदा अस्पताल और फिर वहां से पीजीआई रेफर किया गया था.

By: | Updated: 11 Jan 2018 10:00 PM
Bahubali leader mukhtar ansari has distarched from hospital

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बाहुबली नेता और बसपा से विधायक मुख्तार अंसारी को लखनऊ के पीजीआई अस्पताल से गुरुवार को छुट्टी मिल गई. इसके बाद अंसारी को कड़ी सुरक्षा के बीच फिर से बांदा जेल भेज दिया गया. इधर मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी ने आरोप लगाया है कि दिल के दौरे से बीमार पड़े उनके पिता को मंत्रियों के दबाव में अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है. प्रदेश के गृह विभाग ने मुख्यमंत्री के निर्देश पर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को वापस बांदा जेल भेजने का आदेश जारी किया है.


विधानसभा चुनाव के दौरान प्रचार रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि बाहुबली का मुकाबला करने के लिए उन्होंने 'कटप्पा' को मैदान में उतारा है. मोदी ने बीजेपी समर्थित उम्मीदवार महेंद्र राजभर को कटप्पा की उपाधि दी थी. चुनाव में मोदी के 'कटप्पा' को बसपा के बाहुबली ने हरा दिया था. मुख्तार अंसारी मऊ सदर विधानसभा सीट से विधायक हैं.


मुख्तार अंसारी को पिछले दिनों दिल का दौरा पड़ने पर जेल से पहले बांदा अस्पताल और फिर वहां से पीजीआई रेफर किया गया था. मंगलवार की रात मुख्तार अंसारी की एंजियोग्राफी और ईसीजी की रिपोर्ट सामने आई थी. पीजीआई के डॉक्टरों ने कहा कि मुख्तार को दिल की बीमारी नहीं है.


मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने बताया कि अंसारी को मंगलवार की शाम सीने में दर्द की शिकायत पर बांदा से लखनऊ रेफर किया गया था. यहां कार्डियोलॉजी विभाग में डॉक्टरों की टीम ने उनका परीक्षण किया. जो जांचें की गईं, उनमें किसी तरह की कोई दिक्कत नजर नहीं आई. अब प्रदेश के गृह विभाग ने मुख्तार अंसारी को वापस बांदा जेल भेजने और वहीं उनका इलाज कराने का फैसला किया है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Bahubali leader mukhtar ansari has distarched from hospital
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story AAP विधायकों की सदस्यता रद्द होगी या नहीं, आज फैसला सुना सकता है चुनाव आयोग