प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी ने किया नेतन्याहू का स्वागत, हाइफा स्मारक पर दी श्रद्धांजलि

प्रोटोकॉल तोड़कर पीएम मोदी ने किया नेतन्याहू का स्वागत, हाइफा स्मारक पर दी श्रद्धांजलि

भारत और इजरायल अपने राजनयिक संबंधों की 25वीं वर्षगांठ मना रहे हैं. इस सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जुलाई 2017 में इजरायल की यात्रा पर गए थे और अब नेतन्याहू भारत की यात्रा पर आए हैं.

By: | Updated: 14 Jan 2018 06:14 PM
Benjamin Netanyahu set to visit India, PM Modi to host dinner for the Israeli PM

नई दिल्ली: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के भारत आगमन पर उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत हुआ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  प्रोटोकॉल तोड़कर एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया. पीएम मोदी ने पहले इजरायली पीएम से हाथ मिलाया फिर दोनों नेता गले मिले. बेंजामिन नेतन्याहू के साथ उनकी पत्नी सारा नेतन्याहू भी आईं हैं.


आपको बता दें कि 15 साल बाद कोई इजरायली पीएम भारत दौरे पर आया है.




  • दिल्ली एयरपोर्ट से इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू और पीएम मोदी तीन मूर्ति हाइफा चौक पहुंचे. यहां दोनों नेताओं ने हाइफा के शहीदों को श्रद्धांजलि दी. इजरायल के हाइफा शहर में प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान शक्तिशाली ओट्टोमन साम्राज्य से शहर की रक्षा करते हुए 44 भारतीय सैनिकों शहीद हो गए थे. पीएम मोदी जब इजराइल के दौरे पर गये थे तब उन्होंने हाइफा शहर में स्मारक पर जाकर श्रद्धांजलि दी थी.

  • इसके बाद इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन मूर्ति चौक पर बने हाइफा मेमोरियल गए. इस मेमोरियल का नाम बदल कर तीन मूर्ति हाइफा चौक कर दिया गया है. इजरायली पीएम के दौरे को देखते हुए इस मेमोरियल को खूब  सजाया गया था.

  • तीन मूर्ति पर कांस्य की तीन मूर्तियां हैदराबाद, जोधपुर और मैसूर के सैनिकों का प्रतिनिधित्व करती हैं जो 15 इमीरियल सर्विस कैवेलरी ब्रिगेड का हिस्सा थे. ब्रिगेड ने प्रथम विश्व युद्ध के दौरान 23 सितम्बर, 1918 को हाइफा पर हमला किया था और उसमें जीत हासिल की थी.


 







  • आगमन पर मोदी ने अंग्रेजी और हिब्रू भाषा में ट्वीट किया, ‘‘मेरे मित्र प्रधानमंत्री नेतान्याहू, भारत में आपका स्वागत है. भारत की आपकी यह यात्रा ऐतिहासिक और विशेष है. इससे हमारे देशों के बीच मित्रता और मजबूत होगी.’’

  • प्रधानमंत्री नेतन्याहू के इस यात्रा के दौरान दोनों देश रक्षा, कृषि, जल संरक्षण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, आंतरिक सुरक्षा समेत द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर व्यापक चर्चा करेंगे. प्रधानमंत्री नेतन्याहू आज से 19 जनवरी तक भारत की यात्रा पर रहेंगे.



दोनों देशों के संबंधों के 25 साल
उनकी यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब भारत और इजरायल अपने राजनयिक संबंधों की 25वीं वर्षगांठ मना रहे हैं. इस सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जुलाई 2017 में इजरायल की यात्रा पर गए थे और अब नेतन्याहू भारत की यात्रा पर आ रहे हैं. बेंजामिन नेतन्याहू दिल्ली, आगरा, अहमदाबाद और मुंबई जाएंगे. उनके साथ एक कारोबारी शिष्टमंडल भी भारत आया है.


बेबी मोशे से मिलेंगे पीएम मोदी
इजरायली पीएम के साथ 26/11 के मुंबई आतंकी हमले में बचे बेबी मोशे भी साथ आए हैं. पीएम मोदी जब इजरायल गए थे तब वे बेबी मोशे को भारत आने का न्योता देकर आए थे. 26/11 हमले में आतंकियों ने मोशे के माता-पिता की हत्या कर दी थी तब मोशे की भारतीय आया सैंड्रा सैमुएल ने बड़ी मुश्किल से बेबी मोशे की जान बचाई थी. बाद में आया सैंड्रा भी इजरायल चली गईं थीं.



कल पीएम मोदी के साथ होगी द्विपक्षीय वार्ता
प्रधानमंत्री मोदी और नेतन्याहू के बीच 15 जनवरी को द्विपक्षीय वार्ता हागी. इसके बाद इजरायली प्रधानमंत्री राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भेंट करेंगे. 15 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और इजरायली प्रधानमंत्री दूसरे भारत इजरायल सीईओ फोरम की बैठक में हिस्सा लेंगे. नेतन्याहू की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात का भी कार्यक्रम है.


गुजरात भी जाएंगे नेतन्याहू
16 जनवरी को प्रधानमंत्री नेतन्याहू रायसिना डायलॉग में भाग लेंगे. 17 जनवरी को उनका गुजरात में कृषि क्षेत्र में राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्र जाने का कार्यक्रम है. 18 जनवरी को इजरायली प्रधानमंत्री मुंबई जाएंगे जहां उनका कारोबार संबंधी बातचीत का कार्यक्रम है.


पिछले तीन सालों में दोनों देशों के बीच काफी उच्च स्तरीय आदान प्रदान हुए हैं. सबसे पहले तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी इजरायल गए थे और इसके बाद इजरायली राष्ट्रपति रेवलीन भारत आए थे. जनवरी 1992 में दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध स्थापित होने के बाद संबंध काफी मजबूत हुए हैं.


दोनों देशों के बीच कृषि, जल, अंतरिक्ष, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, रक्षा, आंतरिक सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में सहयोग काफी घनिष्ठ हुए हैं. इजरायल के सहयोग से भारत के 11 राज्यों में कृषि संबंधी 28 उत्कृष्ठता केंद्र स्थापित हुए हैं. दोनों देशों के बीच संबंधों में जल और कृषि एक महत्वपूर्ण आयाम बनकर उभरा है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Benjamin Netanyahu set to visit India, PM Modi to host dinner for the Israeli PM
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story बैसाखी पर पाकिस्तान गया युवक अमरजीत लापता, 12 अप्रैल को गए 1800 सिख श्रद्धालु भारत लौटे