'भारत माता की जय' बोलना हो राष्ट्रवाद की एकमात्र परिभाषा: अनुपम खेर

By: | Last Updated: Wednesday, 16 March 2016 1:35 PM
Bharat Mata Ki Jai’ Only Definition of Nationalism: Anupam

नई दिल्ली: बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने ‘भारत माता की जय’ बोलने को लेकर छिड़े विवाद के बीच बुधवार को कहा कि भारत में रहने वालों के लिए ‘भारत माता की जय’ बोलना राष्ट्रवाद की एकमात्र परिभाषा होनी चाहिए. अनुपम ने एक ट्वीट में कहा, ”भारतवासियों के लिए राष्ट्रवाद की एक मात्र परिभाषा ‘भारत माता की जय’ बोलना होना चाहिए.”

उनका यह ट्वीट ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लिमीन (एमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के उस हालिया बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन भागवत का जिक्र करते हुए कहा था कि यदि उनकी गर्दन पर चाकू रख दिया जाएगा, तो भी वह ‘भारत माता की जय’ नहीं बोलेंगे.

इससे पहले आरएसएस प्रमुख ने कहा था कि नई पीढ़ी को भारत माता की जय बोलना सिखाने की आवश्यकता है.

यह मामला मंगलवार को एक बार फिर उस समय गर्माया था, जब राज्यसभा सांसद और जाने-माने गीतकार जावेद अख्तर ने ओवैसी का नाम लिए बगैर कहा था कि उन्हें नहीं पता कि ‘भारत माता की जय’ कहना उनका कर्तव्य है या नहीं, पर यह उनका अधिकार है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bharat Mata Ki Jai’ Only Definition of Nationalism: Anupam
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017