टिकट बंटवारा: जानें लालू-नीतीश और बीजेपी ने किस जाति पर किया कितना भरोसा

By: | Last Updated: Wednesday, 23 September 2015 1:23 PM
Bihar elections: All parties are focused on castes

नई दिल्ली: लंबे इंतजार के बाद महाठबंधन ने आज उम्मीदवारों के नाम का एलान कर दिया है. लालू और नीतीश ने जातीय समीकरण का पूरा ख्याल रखते हुए टिकट बांटे हैं. राज्य में जिस समाज की जितनी आबादी है कमोबेश उसी अनुपात में टिकट दिये गये हैं. जैसे राज्य में सवर्णों की आबादी 15-16 फीसदी के आसपास है तो उम्मीदवार भी 16 फीसदी उतारे हैं. वैकवर्ड क्लास जिसमें ओबीसी से लेकर ईबीसी तक की जातियां शामिल हैं उसे भी आबादी के हिसाब से 55 फीसदी टिकट दिया है.

 

महागठबंधन ने सबसे ज्यादा यादव उम्मीदवार उतारे हैं. अभी तक घोषित नामों में से तीनों पार्टियों ने 64 यादवों को उतारा है. 33 मुसालमानों को टिकट दिया गया है. नीतीश का आधार वोट माने जाना वाले 38 (16+22) कुर्मी -कोइरी को टिकट दिया गया है. यानी बिहार में महागठबंधन के आधार वोट के टिकटों का समीकरण देखें तो MYKK  (मुस्लिम, यादव, कुर्मी, कोइरी) से 135 लोगों को टिकट दिया गया है. कोइरी को ज्यादा टिकट इसलिए भी मिला है क्योंकि नीतीश को खतरा है कि उपेंद्र कुशवाहा की वजह से उनका ये आधार वोट खिसक सकता है. लिहाजा कुशवाहा पर कंट्रोल करने के लिए ज्यादा कोइरी उम्मीदवार उतारे गए हैं.

 

सवर्णों में सेंध लगाने के लिए 39 उम्मीदवार महागठबंधन की ओर से उतारे गए हैं. एनडीए में सबसे ज्यादा सवर्णों को ही टिकट दिया गया है. उसी सवर्ण कार्ड को घेरने के लिए लालू-नीतीश और कांग्रेस की तिकड़ी ने 39 सवर्ण उम्मीदवार दिये हैं. हालांकि लालू ने एक भी भूमिहार को टिकट नहीं दिया है लेकिन नीतीश और कांग्रेस ने 13 भूमिहार उतारे हैं. लालू ने सवर्णों में सबसे ज्यादा राजपूतों को टिकट देकर बीजेपी के मजबूत वोट में सेंधमारी की कोशिश की है.

 

दलित-महादलित वोटों के लिए नीतीश और मांझी में जंग छिड़ी हुई है. एनडीए ने दलित-महादलित मिलाकर अब तक 34 टिकट दिये हैं . जबकि महागठबंधन ने 38 उम्मीदवार उतारे हैं.

 

टिकट देने में नीतीश और लालू ने एक और चालाकी की है. 2005 और 2010 के विधानसभा चुनावों में महिलाओं ने नीतीश को जमकर वोट किये थे. नीतीश ने महिला वोटों पर पकड़ मजबूत रखने के लिए ही 25 महिला उम्मीदवारों को उतारा है. सवर्णों को जिन 20 सीटों पर महागठबंधन ने टिकट दिया है वहां उनका मुकाबला एनडीए के सवर्ण उम्मीदवार से ही है.

 

बीजेपी ने अभी तक घोषित 153 उम्मीदवारों में से 65 सवर्णों को टिकट दिया है. इनमें सबसे ज्यादा 30 राजपूत, 18 भूमिहार, 14 ब्राह्मण और 3 कायस्थ हैं. जबकि लालू के वोट में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने 22 यादव उम्मीदवार उतारे हैं.

 

उम्मीदवारों के चुनाव में नीतीश ने जहां ज्यादातर अपने पुराने साथियों पर दांव लगाया है. वहीं लालू ने ज्यादातर नए उम्मीदवार उतारे हैं. अब इसका फायदा भी हो सकता है और नुकसान भी. फायदा ये हो सकता है कि पुराने लोगों की गलतियों को छिपाने का मौका मिलेगा. नुकसान ये होने की आशंका है कि जिनका टिकट कटा है वो बागी होकर खेल बिगाड़ सकते हैं.
 

जगदीशपुर से टिकट के दोनों दावेदार भाई दिनेश और भगवान सिंह कुशवाहा का पत्ता पार्टा ने साफ कर एक तीसरे उम्मीदवार को उतारा है. कई उम्मीदवारों के सीटों की अदला बदली कर दी गई है. इससे बाहरी बनाम स्थानीय की लड़ाई बढ़ सकती है. कुल मिलाकर स्थिति ये है कि विकास का मुद्दा सिर्फ भाषण और नारे तक सीमित रह गया है. जीतने के लिए दोनों गठबंधन जातीय गणित ही दुरुस्त कर रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bihar elections: All parties are focused on castes
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

एबीपी न्यूज की दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज की दिनभर की बड़ी खबरें

1. यूपी के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल...

गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार की बनाई 'राष्ट्रीय त्रासदी'
गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार...

गोरखपुर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में पिछले दिनों संदिग्ध...

पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला सुरक्षा का जायजा
पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला...

पुदुच्चेरी: पुदुच्चेरी की उप राज्यपाल किरन बेदी ने रात में भेष बदलकर केंद्र शासित प्रदेश में...

LIVE: मुजफ्फरनगर के खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्तः 11 लोगों की मौत, 40 घायल
LIVE: मुजफ्फरनगर के खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्तः 11...

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास...

गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!
गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में बीजेपी नेता हरीश वर्मा जो 200 से ज्यादा गायों को भूखा मारने के आरोप में...

गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी जाएंगे
गोरखपुर ट्रेजडी: राहुल ने की मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात, BRD अस्पताल भी...

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पिछले दिनों बीआरडी अस्पताल में हुई बच्चों की मौत से मचे...

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी
JDU की बैठक में बड़ा फैसला, चार साल बाद फिर NDA में शामिल हुई नीतीश की पार्टी

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017