स्टिंग ऑपरेशन में फंसे नीतीश के मंत्री अवधेश कुशवाहा और लालू के उम्मीदवार

By: | Last Updated: Monday, 12 October 2015 11:44 AM

नई दिल्ली: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में आज जेडीयू और आरजेडी के उम्मीदवारों का स्टिंग छाया रहा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घूसकांड का मुद्दा अपनी चुनावी रैलियों में उठाया . कल दो स्टिंग सामने आया था जिसमें नीतीश सरकार में मंत्री अवधेश कुमार 4 लाख रुपये रिश्तव लेते दिख रहे थे, स्टिंग के बाद उन्हें जेडीयू ने हटा दिया, लेकिन आरजेडी ने अब तक अपने उम्मीदवारों पर कोई कार्रवाई नहीं की है.

जेडीयू नेताओं ने बिहार बेचने का एडवांस ले रखा है: सुशील मोदी

पहले दौर की वोटिंग से पहले सामने आए घूसकांड के स्टिंग का मुद्दा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भभुआ और जहानाबाद की रैलियों में उठाया. पीएम ने घूसखोरी के बहाने नीतीश कुमार और लालू पर हमला बोला.

 

बिहार का घूसकांड जेपी का अपमान है : पीएम मोदी 

 ‘महागठबंधन’ पर स्टिंग की गाज, चुनाव आयोग ने दिए जांच के आदेश

जेडीयू और आरजेडी के नेताओं के घूसखोरी के स्टिंग ने महागठबंधन की नींद उड़ा दी है. पहला स्टिंग है नीतीश सरकार में एक्साइज मंत्री अवधेश कुशवाहा का. स्टिंग करने वाले शख्स का दावा है कि उसने बड़ा उद्योगपति होने की बात कहकर कुशवाहा से अपनी कंपनी के लिए मदद की बात कही. अवधेश कुशवाहा सरकार बनने के बाद मदद देने के नाम पर कंपनी से एडवांस में 4 लाख रुपये लेते दिख रहे हैं. स्टिंग में अवधेश कुमार दावा कर रहे हैं कि उनकी मानसिकता के जैसे 4 और 5 मंत्री भी हैं.

 

बिहार चुनाव में मोदी बीजेपी का चेहरा, हार के बाद क्या देंगे इस्तीफा : लालू

जब अवधेश कुमार से पूछा गया कि चुनाव में कितना खर्च आता है? तो अवधेश कुमार ने जवाब दिया कि डेढ़ से दो करोड़ रुपये चुनाव के दौरान खर्च हो जाते हैं.

 

बिहार चुनाव : ‘जनता’ और ‘जनार्दन’ के भरोसे नेता

स्टिंग में अवधेश कुमार ने बिहार के उद्योग मंत्री से बात कर उनके जरिए काम हो जाने का भरोसा दिलाया.

 

बिहार के उद्योग मंत्री हैं श्याम रजक. ABP न्यूज से श्याम रजक ने कहा कि उन्हें स्टिंग के बारे में कोई जानकारी नहीं है.

 

दूसरे स्टिंग में बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और जहानाबाद से आरजेडी उम्मीदवार मुंद्रिका सिंह चुनाव में मदद के बदले सरकार बनने पर कंपनी को सहयोग का भरोसा दिला रहे हैं. इसी स्टिंग में जीतनराम मांझी के खिलाफ मखदुमपुर से आरजेडी उम्मीदवार सूबेदार दास दो लाख रुपये और घोसी से जेडीयू उम्मीदवार कृष्ण नंदन वर्मा के भाई नीतेश एक लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ कैमरे पर पकड़े गए हैं.

 

मंत्री के घूसकांड का स्टिंग सामने आने के बाद फंसी जेडीयू ने अवधेश कुशवाहा को रविवार को ही मंत्री पद से हटा दिया था, और मोतीहारी के पिपरा से उम्मीदवार कुशवाहा का टिकट भी काट दिया . जेडीयू ने कृष्ण नंदन वर्मा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की और न ही आरजेडी ने अब तक दोनों उम्मीदवारों के खिलाफ कोई कार्रवाई की है . स्टिंग में फंसे अवधेश कुशवाहा इसे विरोधियों की साजिश बता रहे हैं .

 

बीजेपी अब नीतीश कुमार और लालू यादव से उन 4-5 मंत्रियों के नाम पूछ रही है, जिनका जिक्र अवधेश कुशवाहा ने स्टिंग में किया है .

 

बीजेपी ने लालू से भी पूछा है कि वो अपने नेताओं के स्टिंग पर खामोश क्यों हैं. बीजेपी ने घूसकांड की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है. इस स्टिंग से नीतीश और लालू के गठबंधन को कितना नुकसान होगा. इसका पता तो अब नतीजों के बाद ही चलेगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bihar Minister and Lalu yadav’s candidate caught over sting operation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017