कंधार मामलाः बीजेपी-कांग्रेस आमने सामने,यशवंत ने कहा 'रिहाई का फैसला सिर्फ बीजेपी का नहीं'

By: | Last Updated: Saturday, 4 July 2015 3:23 AM
BJP, Congress engage in slugfest over IC-814 hijacking

नई दिल्ली : पूर्व रॉ प्रमुख ए एस दौलत के इस दावे से विवाद खड़ा हो गया है कि वाजपेयी सरकार ने 1999 में कंधार विमान अपहरण मामले से निपटने में गड़बड़ी की.

 

बीजेपी की ओर से 1999 के तत्कालीन वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ने इस दावे का खारिज करते हुए कहा है कि,  आतंकियों को रिहा करने का फैसला सिर्फ बीजेपी का नहीं बल्कि सभी पार्टियों का था.

 

जबकि कांग्रेस ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार के नरम रूख ने आतंकवाद की बुनियाद रखी. बीजेपी ने कहा कि उस वक्त विमान के यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की जिंदगी बचाने के बदले आतंकवादियों को छोड़ने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा था. आतंकवादी इंडियन एयरलाइंस के विमान को अगवा करके अफगानिस्तान के कंधार ले गए थे.

 

रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के पूर्व प्रमुख दौलत ने कहा कि आपदा प्रबंधन समूह ने उस समय पूरे मामले को उलझा दिया जब उसने अमृतसर में उतरे विमान को वहीं नहीं रोका और जम्मू-कश्मीर के तत्कालीन मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला को लगा कि केंद्र सरकार का फैसला एक ‘गलती’ था. बीजेपी ने आईसी-814 विमान के अपहरण की घटना को लेकर कथित ‘गड़बड़ी’ के दावे को सिरे से खारिज कर दिया है.

 

कांग्रेस ने इसको लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है. पार्टी प्रवक्ता टॉम वडक्कन ने कहा, ‘‘जब बीजेपी के नेतृत्व वाली नरम रूख की सरकार ने तीन आतंकवादियों को छोड़ा तो सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में आतंकवाद की बुनियाद पड़ी.’’ बीजेपी पर ‘फर्जी राष्ट्रवाद’ और ‘फर्जी राष्ट्रभक्ति’ का आरोप लगाते हुए वडक्कन ने कहा, ‘‘कांग्रेस की मांग है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी भारत विरोधी तत्वों, आतंकवादियों और अपराधियों की मदद करने और बढ़ावा देने के लिए देश से बिना शर्त माफी मांगे.’’

 

कांग्रेस के दावे को खारिज करते हुए बीजेपी प्रवक्ता एम जे अकबर ने कहा कि कांग्रेस की कंधार को लेकर ‘बहुत सुविधाजनक याददाश्त’ है क्योंकि इस बारे में फैसला हर किसी के साथ विचार-विमर्श के साथ हुआ था. अकबर ने कहा, ‘‘मैं कांग्रेस को एक सवाल का जवाब देने की चुनौती देता हूं. क्या करीब 200 भारतीय नागरिकों को मरने देना चाहिए था? कृपया उनसे यह सवाल पूछिए और उनसे इसका जवाब मांगिए.’’

 

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उस वक्त वाजपेयी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि यात्रियों की जिंदगी बचाने के लिए सरकार के पास इसके अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं बचा था. सिन्हा ने कंधार प्रकरण के समय किसी तरह की नाकामी से इंकार किया और कहा कि अपहर्ताओं के साथ बातचीत की गई और फिर समाधान निकला था. उन्होंने कंधार प्रकरण में पैसे की लेनदेन से भी इंकार किया और वहां तत्कालीन विदेश मंत्री जसवंत सिंह के जाने को भी सही ठहराया.

 

बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह अपने राजनीतिक अस्तित्व के लिए गड़े मुर्दे उखाड़ रही है और आरोप लगाया कि कांग्रेस ने भोपाल गैस त्रासदी के मामले में आरोपी वारेन एंडरसन को देश से भागने दिया. सैयद सलाहुद्दीन की ओर से अपने बेटे के मेडिकल दाखिले में मदद के मुद्दे पर बीजेपी प्रवक्ता अकबर ने कहा कि इस बारे में कोई भी निर्णय जम्मू-कश्मीर की फारूक अब्दुल्ला सरकार ने किया होगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: BJP, Congress engage in slugfest over IC-814 hijacking
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: BJP
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017