महाराष्ट्र में टूट की कगार पर बीजेपी-शिवसेना गठबंधन, टिकट बंटवारे पर नहीं बन रही है बात

By: | Last Updated: Monday, 15 September 2014 2:31 AM

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी का गठबंधन रहेगा या टूटेगा. ये कोई कह नहीं सकता. एक तो अभी तक सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है, दूसरे सीएम को लेकर नया विवाद शुरू हो गया है. शिवसेना के अखबार सामना में जो संपादकीय छपा है उसमें फिर से सीएम की दावेदारी ठोंकी गई है. जवाब तो महाराष्ट्र के सीएम पृथ्वीराज चव्हाण को दिया गया था जिन्होंने कहा था कि उद्धव के पास सरकार चलाने का अनुभव नहीं है. उद्धव ने जो कहा था वही सामना में दोहराया गया है.

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर बीजेपी- शिववसेना गठबंधन टूट की कगार पर पहुंच गया है. शिवसेना अकेले चुनाव लड़ने के लिए विकल्प तलाश कर रही है. सूत्रों के मुताबिक सीटों पर शिवसेना के अड़े रहने के चलते बीजेपी अपने उम्मीदवारों के नामों का एलान कर सकती है.

 

क्या है विवाद-

बीजेपी चाहती है कि महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों में दोनों पार्टियां 135-135 सीटों पर लड़ें. बाकी सीटें महागठबंधन के छोटे दलों की दी जाएं.

 

शिवसेना महाराष्ट्र विधानसभा की 169 सीटों पर लड़ना चाहती है. शिवसेना ने कहा है कि वो 150 से कम सीटों पर बिल्कुल नहीं लड़ेगी.  2009 में महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 119 और शिवसेना ने 169 सीटों पर चुनाव लड़ा था.

 

शिवसेना का पक्ष-

शिवसेना का कहना है कि लोकसभा चुनाव के वक्त ही तय हो गया था कि पीएम नरेंद्र मोदी होंगे और सीएम शिवसेना का होगा. महाराष्ट्र बीजेपी के नेता एकनाथ खड़से ने कहा-जिसकी सीटें ज्यादा आएंगी उसी का मुख्यमंत्री होगा.

 

शिवसेना से जुड़ीं नीलम गोरे ने कहा है कि गठबंधन को लेकर सामना में छपा संपादकीय प्यार से बताने की कोशिश है नहीं तो शिवसेना खुद समझ लेगी. शिवसेना की बैठक में बीजेपी की दावों वाली सीटों पर चर्चा हुई है. जल्द ही शिवसेना यहां से अपने उम्मीदवारों का नाम जारी कर सकती है.

 

बीजेपी नेता राजीव प्रताप रूडी ने कहा है कि सीटों का बंटवारा करीब-करीब तय हो चुका है. एक दो दिन में घोषणा संभव है.

 

15 अक्टुबर को हैं चुनाव-

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में 15 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं और नतीजे 19 अक्टूबर को आएंगे. महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं.

 

दो दिन पहले दिखाए ABP न्यूज-नीसलन के सर्वे में बीजेपी को 122 और शिवसेना को 82 सीट पर जीत मिलने का अनुमान है.

 

नारायण राणे ने ली चुटकी-

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के गठबंधन को लेकर तकरार पर कांग्रेस नेता नारायण राणे ने चुटकी लेते हुए कहा है कि मंडप तैयार होने से पहले ही सेहरा लेकर नेता खड़े हैं. नारायण राणे ने कहा है, “शादी का मंडप भी तैयार नहीं है और सेहरा लेकर खड़ा है. एक तो शिवसेना और बीजेपी की सत्ता नहीं आने वाली है इसलिये उद्धव ने मुख्यमंत्री पद के लिये अपना नाम सामने लाना सिर्फ प्रचार के लिये है. उनको मालूम है कि ये नहीं होने वाला है और उद्धव कभी भी सीएम नहीं बन पायेंगे ये मेरा विश्वास है.”

 

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के प्रचार की तैयारियों में बीजेपी जुट गई है. विदर्भ इलाके के लिए अमित शाह 19 सितंबर को प्रचार अभियान की शुरूआत करेंगे. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ साथ राज्य बीजेपी के अध्यक्ष देवेन्द्र फडनवीस भी अमरावती और गोंदिया में रैली करेंगे.

 

राज्य में हाल में हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने कुल 48 सीटों में से 23 सीटें जीती थीं जबकि शिवसेना को 18 सीटें मिली थीं.

 

विधानसभा चुनाव में अभी तक सीटों के बंटवारे के फार्मूला के अनुसार शिवेसना को 169 सीटें और बीजेपी को 119 सीटें मिलती थीं.

 

बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनाव में अपने अच्छे प्रदर्शन की मिसाल देकर वह कम से कम 15 और सीट चाह रही है जबकि शिवसेना संभवत: पुराने फार्मूले पर ही अड़ी है.