फिर संकट में बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन, छोटी सहयोगी पार्टियों ने सात सीटों का प्रस्ताव ठुकराया

By: | Last Updated: Tuesday, 23 September 2014 12:17 PM

मुंबई: शिवसेना और बीजेपी में सीट बंटवारे को लेकर आज भी ड्रामा जारी रहा. शिवसेना के दिए नए फॉर्मूले को महागठबंधन की छोटी पार्टियों ने नकार दिया है. बावजूद इसके बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि अगर गठबंधन की छोटी पार्टियां 7 सीटों पर मान जाती हैं तो शिवसेना को 145 और बीजेपी को 135 सीटों पर लड़ना चाहिए. बीजेपी नेता के मुताबिक बीजेपी अपने सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं करेगी. यानी की साफ है कि अभी भी शिवसेना और बीजेपी के बीच कोई रास्ता निकलता नहीं दिख रहा है.

 

महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी के बीच सुलह का रास्ता निकलता दिख रहा है. कई दिनों बाद आज दोनों पार्टियों ने साझा प्रेस कॉन्फेंस की. सूत्र बता रहे हैं कि शिवसेना 150 और बीजेपी 124 सीटों पर लड़ेगी. अन्य सहयोगियों को सिर्फ 14 सीटें मिल रही हैं. पहले जो शिवसेना का फॉर्मूला था उसमें वो 151 सीटों पर लड़ने की बात कह रही थी.

 

अब सवाल ये उठ रहे हैं कि क्या बीजेपी शिवसेने का आगे झुक गई है.

क्या शिवसेना के आगे झुक गई बीजेपी? 

शायद गठबंधन इसलिए बना रहेगा क्योंकि बात जहां से शुरू हुई थी वहीं आकर रह गई है. शिवसेना और बीजेपी के नेताओं ने कई दिनों बाद साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की और साथ रहने की दुहाई दी.  बड़ी बात ये है कि सूत्रों के मुताबिक जिन शर्तों पर समझौते की गुंजाइश बनती दिख रही है उसमें शिवसेना के पास 150 सीटें रहेगी. जबकि बीजेपी 124 सीटों पर लडेगी. सहयोगियों को 14 सीटें मिल सकती हैं.

…महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी के बीच विवाद की ये वजह है! 

शिवसेना का जो पुराना फॉर्मूला था उसके मुताबिक शिवसेना 151 बीजेपी 119 और सहयोगियों के लिए 18 सीटें रखी गई थीं.

 

इससे पहले बीजेपी 130 सीटों पर अडी हुई थी, लेकिन सहयोगियों के खाते से 4 सीटें काटकर शिवसेना ने बीजेपी को झुकने पर मजबूर कर दिया. इस समझौते की पहली बड़ी बात ये रही कि शिवसेना ने अपनी बात मनवा ली और 150 से कम सीटों पर नहीं मानी.

शिवसेना के हठ के आगे बीजेपी बनी कुछ उदार 130 सीटों पर भी लड़ने को तैयार 

दूसरी बात बीजेपी को झुकना पड़ा, उनके हिस्से में 130 से कम सीटें आईं. तीसरी बात ये कि सहयोगियों को बलि का बकरा बनाया गया, पहले 18 सीट दी फिर घटाकर 14 कर दी और चौथी बड़ी बात ये है कि सीएम किस पार्टी का होगा इस पर कोई फैसला नहीं हुआ.

 

बीजेपी ज्यादा सीटें इसलिए चाहती थी क्योंकि महाराष्ट्र के चुनाव में उसका स्ट्राइक रेट अच्छा रहा है.

 

1995 से शुरुआत करें तो  शिवसेना 169 पर लड़कर 73 सीटों पर जीती थी.. जबकि बीजेपी 116 पर लडकर 65 पर जीती.. यानी शिवसेना 43 फीसदी सीट जीती जबकि बीजेपी को 56 फीसदी सीटों पर जीत मिली.

 

1999 के चुनाव में शिवसेना 161 पर लड़के 69 पर जीती. जबकि बीजेपी 117 पर लड़कर 56 पर जीती . इस साल शिवसेना का स्टाइक रेट 43 फीसदी रहा जबकि बीजेपी को 48  फीसदी सीटें हासिल हुई .

 

फिर 2004 चुनाव में 163 पर लड़के शिवसेना  62 सीटें पर जीती जबकि  बीजेपी 111  पर लडकर 54 पर जीती . 38 फीसदी सीटें शिवसेना ने जीतीं जबकि 49 फीसदी बीजेपी ने.

 

2009 में 160 सीटों पर शिवसेना ने उम्मीदवार उतारे और जीत 44 सीटों पर मिली जबकि बीजेपी 119 सीटों पर लडी और 46 पर जीती शिवसेना का स्ट्राइक रेट 27 फीसदी रहा जबकि बीजेपी का 39 फीसदी.

 

अब अगर इन चार चुनावों को देखें तो शिवसेना की जीत का स्ट्राइक रेट 37 फीसदी है  जबकि इन चार चुनावों में बीजेपी का स्ट्राइक रेट 48 फीसदी.

 

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना का फॉर्मूला क्या रहता है?

 

लोकसभा में बीजेपी ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ती है. विधानसभा में शिवसेना ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ती है. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी 26 सीटों पर लड़ी थी जिनमें 23 सीटों पर जीती थी जबकि शिवसेना 22 पर लड़कर 18 सीटों पर जीती थी. और अब शिवसेना ने 150 सीटें लेकर गठबंधन में विधानसभा चुनाव में बड़े भाई की भूमिका बनाए रखी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: BJP SHIVSENA ALLIANCE CONFLICT
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ele2014
First Published:

Related Stories

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा
2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा

नई दिल्ली: दिल्ली की आप सरकार तेजाब हमलों के उन मामलों पर विचार करेगी, जो सरकार की 2015 में...

बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने  बच्चे को जन्म दिया
बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने बच्चे को जन्म दिया

चंडीगढ़: बलात्कार पीड़ित एक 10 साल की लड़की ने कल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया. लड़की के...

‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां
‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां

नई दिल्ली:  लगभग एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों ने कल एक मंच पर आकर आरएसएस पर तीखा हमला...

गोरखपुर ट्रेजडी: बच्चों की मौत के मामले पर इलाहाबाद HC में आज सुनवाई
गोरखपुर ट्रेजडी: बच्चों की मौत के मामले पर इलाहाबाद HC में आज सुनवाई

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति के बारे में...

मनमोहन वैद्य का राहुल को जवाब, कहा- 'RSS क्या देश के बारे में नहीं जानते कुछ'
मनमोहन वैद्य का राहुल को जवाब, कहा- 'RSS क्या देश के बारे में नहीं जानते कुछ'

नागपुर: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के नेता मनमोहन वैद्य ने कहा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल...

गोरखपुर ट्रेजडी: जारी है बच्चों की मौत का सिलसिला, गुरुवार को 8 की मौत
गोरखपुर ट्रेजडी: जारी है बच्चों की मौत का सिलसिला, गुरुवार को 8 की मौत

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत का सिलसिला...

मुरथल रेप केस: हाईकोर्ट ने SIT को एक महीने में जांच पूरी करने को कहा
मुरथल रेप केस: हाईकोर्ट ने SIT को एक महीने में जांच पूरी करने को कहा

चंडीगढ़: पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने साल 2016 के जाट आंदोलन के दौरान सोनीपत के निकट मुरथल में...

बाढ़ का कहर: बिहार में 98 तो असम में 133 की मौत, यूपी के 15 जिले भी चपेट में
बाढ़ का कहर: बिहार में 98 तो असम में 133 की मौत, यूपी के 15 जिले भी चपेट में

नई दिल्ली: बिहार, असम और पश्चिम बंगाल में बाढ़ ने जनजीवन पर बुरी तरह असर डाला है. बिहार में बाढ़...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017