बीजेपी की स्ट्राइक रेट बढ़िया, ...तो क्या जोड़ी टूटेगी?

By: | Last Updated: Monday, 22 September 2014 12:33 PM
bjp strike rate always good over shiv sena

नई दिल्ली: दिल्ली में रविवार की रात बीजेपी के बड़े नेता चर्चा पर चर्चा करते रहे. उम्मीद थी कि कोई रास्ता निकल आएगा. लेकिन पार्टी नेताओं के जिस तरह के तल्ख तेवर दिख रहे हैं उससे बात बनने की उम्मीद कम और बिगड़ने की ज्यादा दिख रही है.

 

कहने को तो दोनों पार्टियों के विवाद की जड़ में वो सीटें हैं जिनपर दोनों पार्टियों के उम्मीदवार कभी नहीं जीते. लेकिन पर्दे के पीछे कहानी कुछ और बताई जा रही है. सूत्रों की माने तो असली वजह मुख्यमंत्री की कुर्सी है. जिस पर शिवसेना तो खुलकर दावेदारी कर रही है लेकिन बीजेपी पत्ते नहीं खोल रही.

 

बीजेपी मुख्यमंत्री की कुर्सी पर दावेदारी के लिए जो गणित बिठा रही है उसके पीछे की वजह पिछले चुनावों के नतीजे हैं.

1995 से शुरुआत करें तो शिवसेना 169 पर लड़कर 73 सीटों पर जीती थी, जबकि बीजेपी 116 पर लडकर 65 पर जीती. यानी शिवसेना 43 फीसदी सीट जीती जबकि बीजेपी को 56 फीसदी सीटों पर जीत मिली.

 

1999 के चुनाव में शिवसेना 161 पर लड़के 69 पर जीती. जबकि बीजेपी 117 पर लड़कर 56 पर जीती. इस साल शिवसेना का स्ट्राइक रेट 43 फीसदी रहा जबकि बीजेपी को 48 फीसदी सीटें हासिल हुईं.

 

फिर 2004 चुनाव में 163 पर लड़के शिवसेना 62 सीटें पर जीती जबकि  बीजेपी 111  पर लडकर 54 पर जीती. 38 फीसदी सीटें शिवसेना ने जीतीं जबकि 49 फीसदी बीजेपी ने.

 

2009 में 160 सीटों पर शिवसेना ने उम्मीदवार उतारे और जीत 44 सीटों पर मिली जबकि बीजेपी 119 सीटों पर लडी और 46 पर जीती शिवसेना का स्ट्राइक रेट 27 फीसदी रहा जबकि बीजेपी का 39 फीसदी.

 

मतलब बीजेपी का स्ट्राइक रेट हमेशा से अच्छा रहा है. यही वजह है कि बीजेपी जो भी ज्यादा मिल जाए वो ही बेहतर की रणनीति पर काम कर रही है. बीजेपी खुद के लिए 130 और शिवसेना को 140 सीटों पर लड़ने की बात कह रही है, जबकि शिवसेना का फॉर्मूला है कि वो खुद 151 पर लड़े और बीजेपी 119 सीटों पर.

 

ताजा घटनाक्रम के बाद बीजेपी ने मंगलवार को राज्य भर के पार्टी पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है जिसमें गठबंधन को लेकर रणनीति पर चर्चा होगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: bjp strike rate always good over shiv sena
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: BJP ele2014 Shiv Sena
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017