बेंगलुरू में ब्लास्ट के बाद दिल्ली, मुंबई और कोलकाता में हाई अलर्ट

By: | Last Updated: Monday, 29 December 2014 1:25 AM

बेंगलुरू: शहर के बीचोबीच व्यस्त सड़क पर स्थित एक लोकप्रिय रेस्टोरेंट के बाहर बीती रात ‘कम तीव्रता’ वाले विस्फोट के कारण एक महिला की मौत हो गई जबकि तीन अन्य घायल हो गये. कर्नाटक पुलिस के महानिदेशक एल पचाउ ने मौके पर संवाददाताओं को बताया कि आईईडी एक प्लास्टिक की थैली में रखा था और संदेह है कि इसे झाड़ियों वाले किसी पौधे में लगाया गया था.

 

खुफिया एजेंसियों और पुलिस को शक है कि इस बम धमाके के पीछे खंडवा से पिछले साल फरार हुए सिमी के आतंकी हो सकते हैं. आईबी (इंटेलिजेंस ब्यूरो) ने आशंका जताई है कि ये किसी बड़े बम धमाके से पहले का ट्रायल रन हो सकता है. दिल्ली, मुंबई, कोलकाता में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है. धमाके के बाद बेंगलूरु में पुलिस का सर्च अभियान भी तेज हो गया है. दो संदिग्धों को हिरासत में भी ले लिया गया है.

 

कोकोनट ग्रोव रेस्टोरेंट के बाहर रात करीब साढ़े आठ बजे इसमें विस्फोट हुआ. विस्फोट के छर्रे लगने से एक महिला की मौत हो गई जबकि तीन अन्य घायल हो गये. महिला की आयु 30 से 40 साल के बीच में है. नगर पुलिस के आयुक्त एम. एन. रेड्डी ने संवाददाताओं को बताया कि महिला की पहचान भवानी के रूप में हुई है. वह तमिलनाडु की रहने वाली थी और बेंगलूर घूमने आयी थी. विस्फोट के छर्रे सिर पर लगने के कारण बुरी तरह घायल होने के बाद उसने दम तोड़ दिया.

 

उन्होंने बताया कि एक घायल की पहचान महिला के रिश्तेदार कार्तिक के रूप में हुई है जो खतरे से बाहर है. दो अन्य घायलों- विनय और संदीप का होसमत अस्पताल में इलाज चल रहा है. विस्फोट की जगह ब्रिगेड रोड के पास है जहां कई बार और रेस्टोरेंट हैं और वहां सप्ताहांत (वीकेंड) में युवा वर्ग की चहल पहल बढ़ जाती है. रेड्डी ने कहा कि विस्फोट की किसी ने भी जिम्मेदारी नहीं ली है. इलाके को पुलिस ने घेर लिया है और शहर में सुरक्षा के प्रबंध कड़े कर दिये गये हैं.

 

पचाउ ने कहा कि यह कम क्षमता वाला विस्फोट था और विशेषज्ञ इस बात का पता लगा रहे हैं कि यह किस श्रेणी का बम था. विनय ने कहा कि वे जब रेस्टोरेंट से बाहर आ रहे थे और एक महिला के करीब थे, तभी यह विस्फोट हुआ. उसने बताया कि उसने महिला को गिरते हुए देखा जिसकी बाद में मौत हो गयी. रेड्डी ने इसके पीछे आतंकवादी कोण की आशंका को नकारा नहीं. उन्होंने कहा कि पुलिस को अपनी प्रारंभिक जांच में ‘कुछ सूचनाएं’ मिली हैं जिनका खुलासा नहीं किया जा सकता.

 

यह पूछे जाने पर कि क्या आईईडी (IED) के साथ कोई टाइमर जोड़ा गया था, रेड्डी ने कहा कि बम तलाशी दस्ते और फॉरेंसिक विशेषज्ञ ‘मौजूद सुरागों’ की जांच कर रहे हैं. रेड्डी ने कहा कि शहर भर में पुलिस बल को तैनात किया जा रहा है और सुरक्षा के प्रबंध बढ़ाते हुए कर्नाटक राज्य रिजर्व पुलिस से अतिरिक्त बल को भी लगाया गया है. इससे पहले रेड्डी ने बताया था, ‘‘रात करीब साढ़े आठ बजे कोकोनट ग्रोव नाम रेस्टोरेंट के बाहर चर्च रोड पर विस्फोट की आवाज सुनी गई…हमें पता चला कि कुछ अपराधियों ने परिष्कृत विस्फोटक उपकरण (आईईडी) का इस्तेमाल किया है.’’

 

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री एस सिद्धारमैया से बातचीत की और उन्हें केन्द्र की ओर से हर प्रकार की मदद का आश्वासन दिया. सिंह ने बताया कि सिद्धारमैया ने उन्हें स्थिति से अवगत कराया. गृह मंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘कर्नाटक के मुख्यमंत्री श्री एस सिद्धारमैया से बेंगलूरू विस्फोट के बारे में बातचीत की. उन्होंने स्थिति के बारे में अवगत कराया. केन्द्र सभी प्रकार की सहायता देने के लिए तैयार है.’’

 

केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने बताया कि बेंगलूरू में स्थिति नियंत्रण में है लेकिन यह कहना अभी जल्दबाजी होगा कि विस्फोट के लिए कौन जिम्मेदार है. यह पूछे जाने पर कि शहर के लिए खतरे की आशंका थी, रेड्डी ने कहा, ‘‘सामान्य रूप से खतरे की आशंका थी इस बात को देखते हुए कि त्योहार आने वाले हैं, इस बात को देखते हुए नए साल की पूर्व संध्या आ रही है.’’

 

साल 2005 में आज ही के दिन यहां भारतीय विज्ञान संस्थान परिसर में अज्ञात बंदूकधारियों ने गोलियां बरसायी थीं जिसमें दिल्ली के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) का एक प्राध्यापक मारा गया और कुछ अन्य घायल हो गये थे. गौरतलब है कि देश के इस सूचना प्रौद्योगिक (इंफार्मेशन टेक्नॉलजी) केन्द्र में 2008, 2010 और 2013 में बम विस्फोट हुए थे.

 

बेंगलूरु में धमाका, दो घायल 

 

अपडेट

 

# रेस्टोरेंट के गेट पर हुआ धमाका: चश्मदीद

 

# दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया.

 

# बेंगलुरु को पहले ही एलर्ट भेजा गया था

 

# मुंबई, पुणे और कोलकाता में भी हाईएलर्ट जारी

 

# बेंगलूरु ब्लास्ट के बाद दिल्ली में हाई एलर्ट जारी

 

#महिला की हालत गंभीर, अस्तपताल में चल रहा है इलाज

 

# मध्यप्रदेश के जिले खंडवा की जेल से फरार पांच  सिमी आतंकियों पर शक

 

# केन्द्रीय कानून मंत्री सदानंद गौड़ा घटना स्थल पर पहुंचे.

 

# सिमी के फरार आतंकियों पर शक.

 

# गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कर्नाटक मुख्यमंत्री से बात की

 

# पूरे इलाके की सुरक्षा बढ़ाई गई.

 

राज्य में ऐसे और भी हमले हुए हैं

 

साल 2008 में आईईडी के जरिये नौ जगहों पर हुए धमाकों में दो लोग मारे गये थे और 20 अन्य घायल हो गये थे. साल 2010 में क्रिकेट स्टेडियम के बाहर हुए दो बम धमाकों में 15 लोग घायल हो गये थे. साल 2013 में राज्य बीजेपी मुख्यालय के बाहर हुए एक बम विस्फोट में 16 लोग घायल हो गये थे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: blast near church street area in bangluru
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bangluru blast church church street street
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017