सिरफिरे के हाथ में परमाणु बम!

By: | Last Updated: Thursday, 14 May 2015 1:15 PM
blog by Jitendra Dixit

नई दिल्ली: एक बार ओशो ने विश्वयुद्ध पर बात करते हुए अपने प्रवचन में एक वाकया सुनाया. दूसरे विश्वयुद्ध के बाद किसी ने मशहूर वैज्ञानिक अलबर्ट आइंस्टाईन से पूछा कि तीसरे विश्वयुद्ध के बारे में उनकी क्या भविष्यवाणी है. आइंस्टाईन ने जवाब दिया कि मैं तीसरे विश्वयुद्ध के बारे में कुछ नहीं कह सकता लेकिन चौथा विश्वयुद्ध कैसा होगा इसकी भविष्यवाणी मैं कर सकता हूं.

फिर उस शख्स ने पूछा कि बताईये चौथा विश्वयुद्ध कैसा होगा?

 

इस पर आइंस्टाईन का जवाब था कि उनकी भविष्यवाणी है – विश्वयुद्ध होगा ही नहीं. तीसरा विश्वयुद्ध ही इतना विनाशकारी होगा कि चौथा विश्वयुद्ध लडने के लिये धरती पर इंसान ही नहीं बचेंगे. जाहिर है आइंस्टाईन का इशारा परमाणु युद्ध की ओर था जो कि हमारी दुनिया की गर्दन पर तलवार की तरह लटका है. इसी संदर्भ उत्तर कोरिया से आई खबर चिंताजनक है.

 

उत्तर कोरिया के सैनिक शासक किम जोंग उन ने अपने रक्षा प्रमुख को सिर्फ इसलिये मिसाईल दाग कर मरवा दिया क्योंकि वो एक मीटिंग में सोता हुआ पाया गया. उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई, कोई न्यायिक प्रकिया नहीं चली…सीधे सजा-ए-मौत! वो भी क्रूरतम तरीके से मौत!उत्तर कोरिया एक परमाणु हथियार से लैस देश है ये बात साल 2006 के परमाणु परीक्षणों के बाद साबित हो चुकी है.

 

इस देश के परमाणु हथियार एक ऐसे आदमी के कब्जे में हैं जो कि अपने खिलाफ की हुई छोटी सी बात भी बर्दाश्त नहीं करता, अपनी पत्नी के कहने पर अपनी पुरानी प्रेमिका और उसके ऑरकेस्ट्रा में काम करने वाले साथियों को मरवा देता है, शक के आधार पर अपने सगे चाचा और गुरू जंग सोंग थेक का कत्ल कर देता है. जब थेक की पत्नी इसका विरोध करती है तो उसे भी वो जहर देकर मार देता है, अपने आदेश की जरा सी भी अवमानना होने पर अपने अधिकारियों को जिंदा जला देता है.

 

अपने पिता की मौत के बाद शोक काल के दौरान शराब पीते पाये गये एक मंत्री को बम से उडा देता है. 2013 से अब तक इस तरह से उत्तर कोरिया के करीब 70 अधिकारियों को मारा जा चुका है. ये शख्सियत है उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की.

 

आप सोचेंगे कि किसी तानाशाह की ओर से अपना खौफ बरकरार रखने के लिये और भविष्य में होने वाले किसी विद्रोह को दबाने के लिये ऐसे तरीके अपनाया जाना कोई असामान्य बात नहीं है. दुनिया का इतिहास ऐसी सैकडों मिसालों से भरा पडा है जिसमें तानाशाहों ने अपने खिलाफ उठी आवाज को कुचल दिया. कुछ लोग ताजा उदाहरण दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी मान सकते हैं, मद्देनजर उस नीति के जो उन्होने अपनी पार्टी के सहकर्मियों और मीडिया के प्रति अपनाई है.

 

बहरहाल, बात उत्तर कोरिया की. अपने पिता की मौत के बाद शासक बने किम ने जो रवैया अपनाया, जो हरकतें कीं, उनसे किम की मानसिक दशा के बारे में कई संकेत मिलते हैं. उनसे ये पता चलता है कि वो कितना बेरहम है, कितना संवेदनाहीन है, कितना कान का कच्चा है, कितना असुरक्षित महसूस करता है, कितना अपरिपक्व है और कितना खतरनाक है.

 

ऐसा शासक अपनी प्रजा और सरकारी तंत्र के लिये तो दुर्भाग्य है ही लेकिन आज के वक्त में दुनिया की शांति के लिये भी खतरा है, खासकर दुनिया के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र की सुरक्षा की हालत इसने बेहद नाजुक बना दी है. वैसे तो किम के पिता और दादा भी अपने क्रूर और अजीबोगरीब फरमानों के लिये चर्चा में रहे हैं और अपनी प्रजा से खुद को मसीहा मनवाते रहे हैं, लेकिन किम क्रूरता के नये मापदंड स्थापित कर रहा है.

 

क्रूरता के मामले में उसकी तुलना ISIS से की जा सकती है. फर्क सिर्फ इतना है कि ISIS अपने क्रूर कृत्यों के वीडियो और तस्वीरें खुद जारी करता है, जबकि किम की हैवानियत की खबरें दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसियां और समाचार संस्थानों के मार्फत आतीं हैं.जबसे किम उत्तर कोरिया का शासक बना है तबसे बीसियों बार वो परमाणु हथियारों के दम पर दक्षिण कोरिया को धमका चुका है और अमेरिका को भी घुडकी दे चुका है.

 

2013 में खबरें आईँ कि वो Intercontinental Ballistic Missiles बनाने की कोशिश भी कर रहा है जिनसे की वो दूसरे महाद्वीप के देशों को भी अपने निशाने पर ले सकता है. किम किसी की नहीं सुनता सिवाय चीन के, लेकिन जिस तरह की शख्सियत किम की है उससे वो चीन की भी कब सुनना बंद कर देगा इसका भरोसा नहीं.

 

उत्तर कोरिया का सामाजिक जीवन “सोनगुन” नाम के सिद्धांत पर आधारित है जिसका मतलब है – “सबसे पहले फौज”.

 

यही वजह है कि उत्तर कोरिया का समाज दुनिया का सबसे बडा सैन्यीकरण किया हुआ समाज है. उत्तर कोरिया की सेना दुनिया की चौथी सबसे बडी सेना है. ऐसे में अपनी ताकत के गुरूर में आकर किम जैसा शख्स कभी कोई दुस्साहस नहीं करेगा, इसकी कोई गारंटी नहीं. रक्षा विश्लेषकों कहते हैं कि पाकिस्तान में जिस तरह आतंकवाद हावी हो रहा है, उससे एक डर है कि कहीं वो सत्ता अपने कब्जे में लेकर परमाणु हथियार हासिल न कर लें.

 

धर्म के नाम पर पागल हुए लोग, परमाणु हथियारों के जरिये विनाशलीला न शुरू कर दें. पाकिस्तान के बारे में जो आशंकाएं हैं वो भविष्य को लेकर हैं, लेकिन उत्तर कोरिया में तो इस वक्त ही एक सिरफिरा आदमी परमाणु बम लिये हुए खडा है और इस सिरफिरे को लेकर चिंता सिर्फ दक्षिण कोरिया को ही नहीं करनी चाहिये.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: blog by Jitendra Dixit
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: blog India Jitendra Dixit
First Published:

Related Stories

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’, भारत को फिर धमकी दी
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’, भारत को फिर धमकी दी

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले- घोटाले से बचने के लिए BJP की शरण में गए
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले- घोटाले से बचने के लिए BJP की शरण में गए

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा
यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा

बहराइच: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस बीच बहराइच में...

बेनामी संपत्ति: लालू के बेटा-बेटी, दामाद और पत्नी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करेगा आयकर
बेनामी संपत्ति: लालू के बेटा-बेटी, दामाद और पत्नी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल...

नई दिल्ली:  लालू परिवार के लिए मुश्किलें बढ़ाने वाली है. एबीपी न्यूज को जानकारी मिली है कि...

अनुप्रिया की पार्टी अपना दल की मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा और उनके पति की हत्या
अनुप्रिया की पार्टी अपना दल की मंडल अध्यक्ष संतोषी वर्मा और उनके पति की...

इलाहाबाद: उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल की...

गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर सतीश, डॉक्टर राजीव ठहरा गए जिम्मेदार
गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर सतीश, डॉक्टर राजीव ठहरा गए...

गोरखपुर: बीते हफ्ते गोरखपुर अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई रुकने से हुई 36 बच्चों की मौत के मामले...

अगर हम सड़कों पर नमाज़ नहीं रोक सकते, तो थानों में जन्माष्टमी भी नहीं रोक सकते: CM योगी
अगर हम सड़कों पर नमाज़ नहीं रोक सकते, तो थानों में जन्माष्टमी भी नहीं रोक...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक स्थलों और कांवड़ यात्रा के दौरान...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017