ओबामा के भारत दौरे का ब्लू-प्रिंट

By: | Last Updated: Saturday, 24 January 2015 4:25 PM
blue-print-obama-india-visit

नई दिल्ली: बराक ओबामा विशेष अतिथि बनकर गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत आ रहे हैं. ये बेहद खास मौका है. आपको बता दें कि ओबामा पत्नी मिशेल के साथ अमेरिका से भारत के लिए उड़ान भर चुके हैं. कल यानि रविवार को ओबामा दिल्ली पहुंच जाएंगे.

 

आज हम आपको बराक ओबामा के भारत दौरे का ब्लूप्रिंट के बारे में बताने जा रहे हैं. इस ब्लूप्रिंट में ओबामा के भारत आने से लेकर उनके वापस जाने तक तीन दिन तक होने वाली हर हलचल की पूरी जानकारी होगी.

 

25 जनवरी: सुबह 10 बजे 

बराक ओबामा का विमान दिल्ली लैंड करेंगा. जहां मिनिस्टर इन वेटिंग बिजली मंत्री पीयूष गोयल ओबामा को लेने पहुंचेंगे. यहां से सीधे बराक ओबामा दिल्ली के पांच सितारा होटल आईटीसी मौर्य पहुंचेंगे.

 

25 जनवरी: दोपहर 12 बजे

इसके बाद ओबामा होटल में तैयार होने के बाद सबसे पहले राष्ट्रपति भवन पहुंचेंगे. राष्ट्रपति भवन में ओबामा का भव्य स्वागत किया जाएगा.

 

25 जनवरी: दोपहर 12.30 बजे

राष्ट्रपति भवन से निकलने के बाद ओबामा सीधे राजघाट जाएंगे जहां वो महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे और पौधे भी लगाएंगे. ओबामा महात्मा गांधी और मार्टिन लूथर किंग से बेहद प्रभावित रहे हैं. आपको बता दें कि मोदी जब अमेरिका दौरे पर गए थे तो वह ओबामा के लिए कुछ खास तोहफे ले गए थे.

 

सितंबर महीने में अमेरिका दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा से मुलाकात हुई तो उन्होंने ओबामा को गीता पर महात्मा गांधी की किताब ‘Gita by Gandhi’तोहफे में दी थी. इतना ही नहीं मोदी ने ओबामा को अमेरिका में अश्वेत लोगों के अधिकारों के लिए लड़ने वाले महान नेता मार्टिन लूथर किंग जूनियर की कुछ तस्वीरें भी दी थीं ये तस्वीरें साल 1959 में मार्टिन लूथर किंग की भारत यात्रा का हिस्सा थीं.

 

वाशिंगटन में दोनों की मुलाकात के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा खुद पीएम मोदी को मार्टिन लूथर किंग मेमोरियल लेकर पहुंचे थे. मार्टिन लूथर किंग को अमेरिका का गांधी कहा जाता है. ओबामा ने इस मेमोरियल के महत्व को मोदी के सामने रखा था.

 

25 जनवरी: दोपहर 1 बजे

राष्ट्रपति बराक ओबामा हैदराबाद हाउस पहुंचेंगे. ये वो अहम मौका होगा जब दोनों देशों के बीच कारोबार, कूटनीति और साझेदारी को लेकर अहम बातचीत होगी. ओबामा दौरे का ये पहला सबसे अहम कार्यक्रम होगा. दोपहर 3 बजे साझा बयान भी जारी होगा. इस बातचीत में क्या-क्या समझौते होने की उम्मीद है ये भी आपको बताते हैं-

 

क्या-क्या समझौते होंगे

विदेश विभाग के मुताबिक ओबामा की यात्रा के दौरान भारत और अमेरिका के बीच सुरक्षा और दूसरे मसलों पर कुल आठ बैठक होगी. इन बैठकों में आतंरिक सुरक्षा, आतंकवाद, सीमा की सुरक्षा और रक्षा टेक्नोलॉजी से जुडे मुद्दों पर बात होगी.

 

अमेरिका और भारत के बीच कारोबार को लेकर जो सबसे बड़ा पेंच है वो है न्यूक्लियर लाइबिलिटी बिल जो अरसे से लटका हुआ है. अमेरिकी कंपनियां चाहती हैं कि बिल पास करके भारत उन्हें राहत दे और भारत चाहता है कि इंश्योरेंस कंपनियां अमेरिकी कंपनियों का जोखिम कम करने के लिए आगे आएं. ये गेंद अब मोदी के पाले में है.

 

बातचीत की मेज पर रक्षा क्षेत्र में एफडीआई को लेकर भी बातचीत होगी. भारत अब तक अमेरिका से हथियार खरीदता रहा है लेकिन अब बातचीत साझा उत्पादन की ओर बढ़ सकती है लेकिन भारत को अपना रुख साफ करना है.

 

आर्थिक मुद्दों पर भारत और अमेरिका के बीच तीन बैठक होगी जिसमें स्मार्ट सिटी का मुद्दा सबसे अहम मुद्दा होगा . विदेश विभाग के मुताबिक अंतरिक्ष, शहरों के विकास, renewable energy, स्किल डेवलपमेंट और दूसरे अन्य मुद्दों पर अमेरिका के साथ दस करार किए जाएंगे.

 

मोदी सरकार को उम्मीद है कि ओबामा के इस दौरे से भारत और अमेरिका के बीच एक नए रिश्ते की शुरूआत होगी और भारत को तमाम तरह के आर्थिक और सामरिक फायदे मिलेंगे.

 

25 जनवरी: रात 8 बजे

बराक ओबामा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ आधिकारिक भोज में शामिल होने के लिए राष्ट्रपति भवन जाएंगे. राष्ट्रपति बराक ओबामा के लिए डिनर में बहुत कुछ परोसा जाएगा लेकिन फिलहाल सबसे ज्यादा चर्चा पांडे जी के पान की हो रही है. क्यों आप भी देखिए-

 

इसके साथ ही दिल्ली के नॉर्थ एवेन्यू के न्यू एमपी मार्केट में पांडेज पान के नाम से चल रही दुकान पान की दुकान से  ओबामा के लिए पान जाएगा. ओबामा अपने पिछले दौरे में भी यहां के पान का मजा ले चुके हैं. 

 

यहां आपको पचास से ज्यादा किस्मों के मीठे पान मिल जाएंगे. दावा ये है कि ये पूरी तरह ऑर्गेनिक होंगे यानी पान में डाले जाने वाले कत्था चूना और सुपारी तक कोई केमिकल इस्तेमाल नहीं होता. ये पान सीधे पान के खेतों से आते हैं.

 

क्वालिटी और खेती की पूरी जांच के बाद ही पांडे परिवार पान का ऑर्डर देता है जिसके बाद लगातार पान की क्वालिटी पर भी पैनी नजर रखते हैं. यही वजह है कि ओबामा के लिए पान परोसने जा रही पांडे पान शॉप से सैंपल मंगा लिए गए हैं.

 

सबसे बड़ी बात ये है कि  यहां पान तो मिलते हैं लेकिन पान का पुराना और सेहत के लिए खतरनाक साथी यानी तंबाकू का यहां नामोनिशान नहीं है. यही वजह है कि अरसे से ये पान शॉप राष्ट्रपति भवन की पहली पसंद बनी हुई है.  तीन पीढ़ियों से पांडे परिवार ये दुकान चला रहा है. आजादी से पहले 1943 से ही देश के विदेशी मेहमानों के लिए यहीं से पान जाते थे.

 

26 जनवरी को सबसे पहले बराक ओबामा राष्ट्रपति भवन जाएंगे. प्रोटोकॉल के मुताबिक प्रणब मुखर्जी की कार में बराक ओबामा को राजपथ पर पहुंचना है लेकिन अभी इसमें भी पेंच फंसा हुआ है

 

ये तस्वीरें साल 2014 की हैं जब गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि बनकर आए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की लीमोजीन में सवार होकर राजपथ पर पहुंचे थे.

 

हर बार अलग-अलग देश से मुख्य अतिथि भारत के प्रोटोकॉल के मुताबिक राष्ट्रपति की कार में सवार होकर राजपथ पहुंचे औऱ इसी प्रोटोकॉल के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को भी राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की लीमोजीन से राजपथ पहुंचना है लेकिन सुरक्षा को लेकर यहीं पर मामला अटक गया है .

 

अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियों ने कहा है कि ओबामा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की कार में नहीं बैठेंगे. अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियों ने कहा है कि या तो राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी ओबामा की कार में बैठकर परेड में जाएं या फिर दोनों राष्ट्र अध्यक्ष अपनी-अपनी कार में अलग बैठें. लेकिन भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने कहा है कि ये प्रोटोकॉल के खिलाफ है.

 

अमेरिका सुरक्षा एजेंसियां भारत के राष्ट्रपति की कार को ओबामा की कार जितना सुरक्षित नहीं मानती. इसकी वजह है काले रंग की बराक ओबामा की कैडिलेक कार

कैसी है ये कार

18 फीट लंबी इस कार की खासियत इसके टायरों से शुरू होती है. ये टायर कभी पंचर नहीं हो सकते क्योंकि इसमें स्टील की प्लेट का इस्तेमाल किया गया है. पूरी कार पांच इंच मोटी स्टील की प्लेट के ऊपर बनी है ताकि नीचे अगर धमाका हो तो कार को नुकसान ना हो.

 

कार के दरवाजे भी 8 इंच मोटी स्टील की प्लेट से बनाए गए हैं जो किसी विमान के दरवाजों जैसे हैं. इसके अलावा कार के दरवाजों में ऑटोमैटिक राइफलें फिट की गई हैंअगले हिस्से में नाइट विजन कैमरा और हथियार भी फिट किए गए हैं. राष्ट्रपति ओबामा पिछली सीट पर बैठते हैं और उनके पास लैपटॉप, सैटेलाइट फोन और वाईफाई की सुविधा है

 

26 जनवरी: सुबह 10 बजे

ओबामा गणतंत्र दिवस की सुबह 10 बजे बतौर विशेष अतिथि राजपथ पर पहुंचेंगे. यहां ओबामा के 2 घंटे तक रुकने का कार्यक्रम है ये पहली बार होगा जब अमेरिका का राष्ट्रपति इतनी देर तक खुले आसमान के नीचे बैठेगा. और इसलिए राजपथ पर ओबामा की सुरक्षा के लिए बेहद खास इंतजाम किए गए हैं

 

मंच पर मौजूद वीवीआईपी के लिए सात स्तरीय सुरक्षा इंतजाम किए जा रहे हैं.भारत की ओर से सुरक्षा एसपीजी और सीक्रेट सर्विस एजेंट्स संभालेंगे. एंटी टेरर स्क्वाड की टीमें भी पूरे देश से दिल्ली बुलाई जा चुकी हैंजमीन से हवा तक सुरक्षा देने के लिए एक खास रडार लगाया जा रहा है.

 

दिल्ली और खासतौर पर राजपथ पर 15000 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. कई एजेंसियां को मिलाकर एक साझा कंट्रोल रूम भी बनाया गया है. इस कंट्रोल रूम में अमेरिकी सुरक्षा एजेंट्स को भी शामिल किया गया है.

 

ये भी पढ़ें

मोदी-ओबामा की मन की बात 27 जनवरी को रात आठ बजे प्रसारित होगी

कल दोपहर तीन बजे मोदी-ओबामा का साझा बयान 

बराक ओबामा की भारत यात्रा से जुड़ीं 10 मुख्य बातें

Exclusive: न्योता नहीं मिलने से अरविंद केजरीवाल नाराज

पाकिस्तान के कई हिस्सों में आतंकवादी बेरोकटोक सक्रिय: व्हाइट हाउस  

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: blue-print-obama-india-visit
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: America blue print India Obama president visit
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017