बोइंग ने भारत को सौंपा छठा पी-8आई समुद्री गश्ती विमान

By: | Last Updated: Wednesday, 26 November 2014 7:12 AM
Boeing delivers sixth P8I maritime patrol aircraft to India

फ़ाइल फ़ोटो: अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग का पी-8आई नौवहन गश्ती विमान

वाशिंगटन: अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग ने छठा पी-8आई नौवहन गश्ती विमान भारत को सौंप दिया है. पी-8आई साल 2009 में किए गए उस अनुबंध का हिस्सा है, जिसमें ऐसे आठ विमान सौंपे जाने का करार हुआ था. यह विमान भारतीय नौसेना द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे अन्य पांच विमानों के साथ शामिल होने के लिए नौसेना के हवाई प्रतिष्ठान राजाली पहुंच गया.

 

शेष दो विमानों की आपूर्ति साल 2015 में होनी है. भारत में बोइंग के रक्षा, अंतरिक्ष एवं सुरक्षा मामलों के उपाध्यक्ष डेनिस स्वैन्सन ने कहा, ‘‘भारत में पी-8आई का आगमन इस कार्यक्रम के लिए एक अन्य महत्वपूर्ण कदम है. यह इस साल की हमारी अंतिम आपूर्ति है.’’

 

स्वैन्सन ने कहा, ‘‘भारतीय नौसेना फिलहाल पहले के पांच विमानों की मदद से अभियान चला रही है और यह नया पी-8आई विमान आगामी महीनों में उड़ान परीक्षण शुरू कर देगा.’’

 

कंपनी के अगली पीढ़ी के 737 व्यावसायिक विमान पर आधारित पी-8आई भारतीय नौसेना के लिए पी-8ए पोसाइडन का एक भिन्न प्रतिरूप है, जिसे बोइंग द्वारा अमेरिकी नौसेना के लिए बनाया जाता है.

 

पी-8आई में भारत की विशिष्ट तौर पर डिजाइन की गई विशेषताएं तो हैं ही, साथ ही इसमें भारत में निर्मित ऐसी उप प्रणालियां भी हैं, जिन्हें देश की समुद्री गश्ती जरूरतों के अनुरूप तैयार किया गया है.

 

बोइंग पी-8 के अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम प्रबंधक मार्क जॉर्डन ने कहा, ‘‘हमारी भारत के साथ बहुत अच्छी साझेदारी है, जिसने हमें हमारा कार्यक्रम तय समय और बजट के अनुरूप रखने में मदद की.’’

 

पी-8आई विमानों का निर्माण बोइंग के नेतृत्व में इस उद्योग की एक टीम करती है. इसमें सीएफएम इंटरनेशनल, नॉर्थरोप ग्रुम्मैन, रेथियोन, स्पिरिट एयरोसिस्टम्स, बीएई सिस्टम्स और जीई एविएशन शामिल हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Boeing delivers sixth P8I maritime patrol aircraft to India
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017