Bra_3800 Volts_

Bra_3800 Volts_

By: | Updated: 22 Mar 2014 11:46 AM
चंडीगढ़: सिटी बस, ट्रेन या फिर सड़कों पर रोजमर्रा की भीड़भाड़ के बीच महिलाओं के साथ अश्लील हरकत और छेड़छाड़ एक गंभीर समस्या है. ऐसे मनचलों को सबक सिखाने और बलात्कारियों से महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए मनीषा मोहन ने एक खास ‘ब्रा’ डिजाइन की है. इस खास ‘ब्रा’ की सबसे बड़ी खासियत ये है कि जानबूझकर हाथ लगाने वाले को ये ‘ब्रा’ 3800 वोल्ट का जबरदस्त झटका देती है. बलात्कारी को झटका देने के साथ ही ये ‘ब्रा’ नजदीकी पुलिस स्टेशन और लड़की के मां-बाप तक एक खतरे का एसएमएस भी भेज देती है.

 

पंजाब यूनिवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ जियोग्राफी के डॉ. कृष्ण मोहन की बेटी मनीषा मोहन की बनाई ये खास ‘ब्रा’ तेजी से चर्चित हो रही है. इस ‘ब्रा’ की एक खासियत ये भी है कि इसमें लगा सेंसर डिवाइस ‘हार्ड टच’ और ‘लवेबल टच’ में फर्क भी कर सकता है. भास्कर समाचार पत्र के मुताबिक मनीषा मोहन ने अपना इस खास ‘ब्रा’ को नाम दिया गया है- शी, यानि सोसायटी हार्डनेस इक्विपमेंट.

 

इस खास ‘ब्रा’ की डिजाइन के लिए मनीषा को राष्ट्रपति भवन के इनोवेशन स्कॉलर्स इन रेसिडेंस प्रोग्राम के लिए चुना गया है. इसके तहत मनीषा को राष्ट्रपति भवन में एक महीना रह कर अपने इनोवेटिव आइडिया पर काम करने का मौका मिलेगा, उन्हें इसे आगे बढ़ाने को मेंटरिंग भी मिलेगी.

 

शी तैयार करने वाली चेन्नई की श्री रामास्वामी मेमोरियल यूनिवर्सिटी में बीटेक छठे सेमेस्टर की स्टूडेंट मनीषा और उनके साथी अब ऐसा डिवाइस तैयार करने में जुटी हैं, जो छोटी बच्चियों को सुरक्षित रख सके. मनीषा कहती हैं- अब हमारी टीम के तीनों मेंबर यूएस जाने वाले हैं. वहां गूगल और माइक्रोसॉफ्ट सहित कुछ कंपनियों के सीईओ से मिलेंगे और उनसे अपने आइडियाज शेअर करेंगे. हम कोशिश में हैं कि शी की कीमत 1000 रुपए प्रति पीस से ज्यादा न हो.

 

शी के फीचर्स

• शी यानी सोसायटी हार्डनेसिंग इक्विपमेंट (ब्रा) में सेंसर लगे हैं. इन सेंसर में हार्ड टच और लवेबल टच को पहचानने की क्षमता है. यदि कोई लड़की के शरीर पर प्रेशर देता है या पिंच करता है तो ये सेंसर तुरंत काम करेंगे और सामने वाले को 3800 वोल्ट का झटका लगेगा. इसके साथ ही पेरेंट्स और पुलिस स्टेशन तक मैसेज चला जाएगा. बच्चे को उठाने या प्रेम भरे टच से ऐसा नहीं होगा.

• सिर्फ हार्ड टच पर ही लगेगा शॉक.

• बारिश में पहनने वाले के लिए भी शॉक प्रूफ.

• शी खरीदते समय ही रजिस्टर कराना होगा नंबर.

• सबसे नजदीकी व्यक्ति को जाएगा पहला एसएमएस.

• जीपीएस और जीएसएम दोनों मॉड्यूल हैं इसमें.

• अनचार्जेबल बैटरी से 82 बार तक शॉक देगी एक शी.

• रेप की आशंका से बचाने के लिए मल्टीपल शॉक सिस्टम.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पाकिस्तान पर सेना का बड़ा एक्शन, उरी के पास LoC पार पाकिस्तानी पोस्ट के तबाह होने का वीडियो आया