यहां पढ़ें: निवेश के लिए सरकार ने क्या किया है?

By: | Last Updated: Thursday, 10 July 2014 12:36 PM

नई दिल्ली : वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज आम बजट पेश किया. आपके बचत के तरीकों का ख्याल करते हुए सरकार ने सिर्फ पीपीएफ में निवेश की सीमा ही नहीं बढ़ाई है . बल्कि पहचान पत्र को लेकर होने वाली परेशानी से बचने के लिए अब हर जगह एक ही KYC से काम हो जाएगा .

 

5 आईआईटी, 5 आईआईएम और 12 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे 

बजट : ढाई लाख तक कोई टैक्स नहीं, टीवी, कंप्यूटर पार्ट्स, जूते होंगे सस्ते  

 

बजट 2014: मोदी सरकार के बजट की अहम बातें 

गंगा में होगा यातायात, इलाहाबाद से हल्दिया तक पानी में चलेगा जहाज 

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पीपीएफ में निवेश की सीमा बढ़ाकर एक से डेढ़ लाख कर दी है . मतलब अब चाहे तो आप पीपीएफ में ही डेढ लाख रुपये का निवेश कर टैक्स छूट का फायदा ले सकते हैं. सरकार ने निवेश को बढ़ाने के लिए बाकी क्या घोषणाएं की हैं इसके बारे में बताने से पहले आपको बताते हैं कि पीपीएफ अकाउंट क्या होता है ?

बजट में रूपरेखा का अभाव: मनमोहन

 

 मोदी के बजट पर कभी खुश तो कभी निराश हुआ शेयर बाजार 

 

पीपीएफ यानी पब्लिक प्रोविडेंट फंड वैसे खाते हैं जिसमें आपके निवेश पर एक तय सीमा पर ब्याज मिलता है . फिलहाल ये दर 8.7 फीसदी है . हालांकि समय समय पर सरकार ब्याज दर निर्धारित करती रहती है . ये खाता कोई भी खोल सकता है . नाबालिग के नाम पर भी कोई व्यस्क खाता खोल सकता है . आप अपने खाते में 15 साल तक के लिए निवेश कर सकते हैं . खाते में हर साल कम से कम 500 रुपये का निवेश जरूरी है . पीपीएफ पर आयकर के नियम 80 C के तहत टैक्स छूट भी मिलती है .

आम बजट : भारतीय खेलों के लिए 400 करोड़ रुपये आवंटित  

शेयर बाजार में निवेश के लिए अलग अलग डीमैट अकाउंट का झंझट खत्म कर दिया गया है . 15 अगस्त से हर परिवार के कम से कम दो लोगों का बैंक खाता खुलवाने का लक्ष्य रखा गया है. इतना ही नहीं छोटी बचत के लिए सरकार फिर से किसान विकास पत्र लेकर आई है .

आम बजट : भारतीय खेलों के लिए 400 करोड़ रुपये आवंटित  

अरुण जेटली ने कहा है कि किसान विकास पत्र फिर से आएगा . छोटी बचत करने वालों के लिए किसान विकास पत्र वरदान माना जाता था . करीब आठ साल में रकम दोगुनी करने वाली ये योजना इसी रूप में लागू हुई तो आपकी बचत के लिए बड़ा ईनाम होगा .

 

निवेश के लिए बार-बार KYC फॉर्म भरने के झंझट से वित्त मंत्री ने आजादी दिलाई है .  Know Your Customer यानी KYC फॉर्म जो पहले आपको हर बैंक, हर निवेश के लिए अलग-अलग देना पड़ता था अब सिर्फ एक बार ही देना पड़ेगा .

 

इसी तरह अलग अलग निवेश के लिए अलग-अलग डीमैट अकाउंट के झंझट से भी मुक्ति मिलेगी . अब आप अपने सभी निवेश एक ही डीमैट अकाउंट में रख सकते हैं .

 

हर घर तक बैंकिंग सुविधा पहुंचाने कि लए जेटली ने अहम एलान किया है . इस मिशन के तहत हर परिवार में दो बैंक अकाउंट खुलवाने का लक्ष्य है वित्त मंत्री का . इस योजना की शुरुआत इसी साल 15 अगस्त से हो जाएगी .

 

किसान विकास पत्र में निवेश को अगर टैक्स छूट में शामिल कर लिया जाता है छोटे निवेशकों को इसका बड़ा फायदा होगा . सरकार की कोशिश भी यही है कि निवेश के तरीकों को बढ़ावा देकर लोगों का ज्यादा से ज्यादा पैसा बाजार में लाया जाए .

 

इसके अलावा डेट म्युचुअल फंड पर 10 फीसदी लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स लगता था जिसको बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया गया है . इस फैसले के बाद बैंक एफडी करवाना ज्यादा फायदेमंद होगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: budget_arun_jetly_bjp_modi_investment
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ???
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017