कैब से यात्रा करने वालों के लिए खबर

By: | Last Updated: Wednesday, 23 March 2016 6:39 PM
Cab clash

नई दिल्ली: मोबाइल एप के जरिए टैक्सी बुक कराने की सुविधा देने वाली कम्पनी ओला ने पहली अप्रैल से दिल्ली समेत पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में केवल सीएनजी कैब चलाने का ऐलान किया है. उधर, कम्पनी ने आज अपनी प्रतिद्वंदी उबर पर दिल्ली हाईकोर्ट में मुकदमा दायर करने के लेकर पलटवार किया.

दिल्ली के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा ने आज ओला की उन गाड़ियों को हरी झंडी दिखायी जो डीजल गाड़ियों को हटाकर लायी गयी हैं. इसके साथ ही कम्पनी ने ऐलान किया कि पहली अप्रैल से दिल्ली समेत पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में उसकी सभी 26 हजार गाड़ियां सीएनजी आधारित होगी. कम्पनी की योजना हर महीने कम से कम 2000 सीएनजी गाड़ियां अपने बेड़े में शामिल करने की है. कम्पनी ने इस मौके पर 200 करोड़ रुपये के निवेश का भी ऐलान किया.

ओला दरअसल मोबाइल एप के जरिए टैक्सी बुकिंग कराने की सुविधा मुहैया कराती है. तकनीकी भाषा में इन्हे एग्रीगेटर कहते हैं जो टैक्सी मालिक और यात्रियो के बीच सम्पर्क सूत्र का काम करती हैं. कम्पनी ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में सीएनजी कैब मुहैया कराने का फैसला किया है. इसी आदेश को लेकर कम्पनी ने अपनी प्रतिद्वदी उबर के खिलाफ ये कहकर अवमानना याचिका दाखिल की कि वो डीजल गाड़ियों का अपने एप पर रजिस्ट्रेशन कर रही है. इस पर उबर ने दिल्ली हाईकोर्ट मे ओला के खिलाफ याचिका दायर की जिसमें आरोप लगाया कि पहले गाड़ियों की बुकिंग करायी जाती है और फिर रद्द करा दिया जाता है. इससे उबर को व्यावसायिक नुकसान पहुंच रहा है. आज ओला ने उबर के आरोपों को एक सिरे से खारिज कर दिया.

ओला और उबर, दरअसल मोबाइल एप के जरिए टैक्सी बुकिंग कराने की सुविधा मुहैया कराती है. तकनीकी भाषा में इन्हे एग्रीगेटर कहते हैं जो टैक्सी मालिक और यात्रियो के बीच सम्पर्क सूत्र का काम करती हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Cab clash
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Cab clash
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017